- Advertisement -
Home Rajasthan News Sikar news खाटू मेला: मंदिर के ईदगिर्द 15 किलोमीटर घूमेंगे आप, फिर दर्शन देंगे...

खाटू मेला: मंदिर के ईदगिर्द 15 किलोमीटर घूमेंगे आप, फिर दर्शन देंगे श्याम

- Advertisement -

-एक स्थाई, दो अस्थाई जिगजैग से गुजरेंगे श्रद्धालु-दस दिवसीय फाल्गुनी लक्खी मेला 17 से शुरू-कोरोना जांच को चार जगह बनेंगे पॉइंट-25 हजार बल्ली बांस और क्विंटलों रस्सी का इंतजामसीकर. यदि आप खाटूश्यामजी मेले में आ रहे हैं तो थोड़ा वार्म अप जरूर करके आएं। क्योंकि खाटूधाम आने के बाद भी आपको 15 किलोमीटर का फेरा लगाने के बाद ही प्रवेश मिलेगा। दरअसल खाटूश्यामजी में दस दिवसीय फाल्गुनी लक्खी मेला 17 मार्च से शुरू होगा। बाबा श्याम के दर्शन के लिए श्रद्धालुओं को खाटूधाम में तकरीबन 15 किमी का सफर तय करना होगा। भक्तों को रींगस रोड पर तोरण गेट से आधा किमी पहले मुख्य मेला प्रवेश मार्ग से होकर बिजली ग्रिड होते हुए खटीकान मोहल्ला, कैरपुरा तिराहा से लामिया तिराहे के पहले पास चारण मैदान बने जिगजैग से होकर रावण टीबे के पास स्थित लखदातार मैदान में बने जिगजैग से होते हुए कुमावत कृषि फार्म के रास्ते से श्री श्याम बगीची के पास बने श्याम बाबा मैदान (मुख्य मेला मैदान) के स्थाई जिगजैग को पार करने के श्याम मंदिर पहुंच पाएंगे। इस सफर में भक्तों को तकरीबन पांच घंटे से भी अधिक समय लगेगा। श्री श्याम मंदिर कमेटी के अध्यक्ष शंभू ङ्क्षसह चौहान व मंत्री श्याम सिंह चौहान ने बताया कि भीड़ पर नियंत्रण के लिए चारण मैदान व लखदातार मैदान में तीन लाइन को चलाया जाएगा। भीड़ बढऩे पर जिगजैग से भक्तों को गुजारा जाएगा।
72 घंटे पहले…कोरोना गाइडलाइन को देखते हुए प्रशासन ने मेले में आने वाले भक्तों को 72 घंटे के भीतर की कोरोना नेगेटिव जांच रिपोर्ट के साथ दर्शन के लिए ऑनलाइन पंजीयन करवाना होगा। थाना प्रभारी पूजा पूनियां ने बताया कि रींगस की ओर से आने वाले श्रद्धालुओं के लिए रींगस में खाटू रोड पर जांच केन्द्र बनाया गया है। रींगस सहित अन्य स्थानों से आने वाले श्रद्धालुओं को गुणगान नगर वाले मुख्य प्रवेश मार्ग पर रिपोर्ट दिखाने के बाद कैरपुरा तिराहा और अंतिम चेक पॉइंट लामिया तिराहे के पास बनाया जाएगा। गत बैठक में कलक्टर ने कहा था कि जो भक्त अपनी कोरोना जांच रिपोर्ट साथ नहीं लाएगा उसे दर्शन से वंचित होना पड़ेगा।
15 हजार बल्ली, 10 हजार बांसकमेटी व्यवस्थापक संतोष शर्मा ने बताया कि मेले के दौरान दर्शन मार्ग में बन रहे जिगजैग और लाइनों में तकरीबन 15 हजार बल्ली, 10 हजार बांस, 500 बंडल रस्सी और लोहे की जाली भी लगी है। दर्शन मार्ग में जिगजैग, रेलिंग व्यवस्था करने के लिए करीब 150 मजदूर काम कर रहे हैं।
मैदान में ही पानी की व्यवस्था वहीं एक दर्जन के करीब डोम लगाए जाएंगे, जिनमें स्काउट्स, पुलिस, श्रद्धालुओं के विश्राम आदि के लिए व्यवस्था की जाएगी। इसके अलावा चारण व लखदातार मैदान में पानी की व्यवस्था के अलावा अस्थाई टॉयलेट भी बनाए गए है।
रविवार को खुलेगा दरबारइसबार रविवार को बाबा श्याम का दरबार भक्तों के लिए खोला जाएगा। श्री श्याम मंदिर कमेटी के ट्रस्टी प्रताप सिंह चौहान ने बताया कि कोरोना संक्रमण काल के चलते सरकार के निर्देशानुसार श्री श्याम मंदिर कमेटी की ओर से प्रत्येक रविवार सहित शुक्ल पक्ष की एकादशी व द्वादशी को मंदिर के कपाट दर्शन के लिए बंद थे। मगर भक्तों की बढ़ती भीड़ के चलते रविवार को भी पट खुले रहेंगे। भक्त ऑनलाइन पंजियन कर दर्शन कर सकेंगे।
कॉल पर रहेगी चिकित्सकों की टीमखाटूश्यामजी के मेले में आने वाले भक्तों को चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए चिकित्सक और कर्मचारियों की नियुक्ति की गई है। 14 से 26 मार्च तक भरने वाले मेले के मेला प्रभारी व सहायक मेला प्रभारी नियुक्त किए गए है। विभाग ओर से 255 से अधिक अधिकारियों व कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है। मेला प्रभारी डा सीपी ओला और सहायक मेला प्रभारी डा सुनील धायल और डा गोगराज सिंह को मेला प्रभारी बनाया गया है। मेले में नर्स, एलएचवी, प्रसाविका, फार्मासिस्ट, रेडियोग्राफर, चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी, वाहन चालकों की ड्यूटी लगाई गई है। साथ ही श्रद्धालुओं को शुद्ध पेयजल व खाद्य वस्तुएं उपलब्ध हो, इसके लिए खाद्य सुरक्षा निरीक्षक दल, पेयजल स्रोतो के पानी के लिए शुद्धीकरण दल बनाए गए हैं। मेले में 73 चिकित्सकों सहित 255 से अधिक कर्मचारियों सेवाएं देंगे।
आपके लिए हैल्थ डेस्क भीसीएमएचओ डा अजय चौधरी ने बताया कि मेले के दौरान खाद्य सुरक्षा अधिकारियों की टीम खाद्य वस्तुओं की जांच व निरीक्षण करेगी। पेयजल शुद्धीकरण दल मेले में पेयजल स्रोतों के पानी को शुद्ध करने का काम करेगा। मेले में अधिकारियों की ओर से श्रद्धालुओं की जरूरत और सुविधा को देखते हुए मेडिकल हैल्थ डेस्क बनाकर चिकित्सकों की टीम ऑन कॉल उपलब्ध रहेगी। इसके अलावा मेले में बेस एम्बुलेंस सहित एम्बुलेंस 108 मेडिकल टीम के उपलब्ध रहेगी। सभी एम्बुलेंंस चालक व मेडिकल टीम के प्रभारी के मोबाइल नंबर की सूची मेला मजिस्टे्रट के पास होगी।
-एक स्थाई, दो अस्थाई जिगजैग से गुजरेंगे श्रद्धालु-दस दिवसीय फाल्गुनी लक्खी मेला 17 से शुरू-कोरोना जांच को चार जगह बनेंगे पॉइंट-25 हजार बल्ली बांस और क्विंटलों रस्सी का इंतजामसीकर. यदि आप खाटूश्यामजी मेले में आ रहे हैं तो थोड़ा वार्म अप जरूर करके आएं। क्योंकि खाटूधाम आने के बाद भी आपको 15 किलोमीटर का फेरा लगाने के बाद ही प्रवेश मिलेगा। दरअसल खाटूश्यामजी में दस दिवसीय फाल्गुनी लक्खी मेला 17 मार्च से शुरू होगा। बाबा श्याम के दर्शन के लिए श्रद्धालुओं को खाटूधाम में तकरीबन 15 किमी का सफर तय करना होगा। भक्तों को रींगस रोड पर तोरण गेट से आधा किमी पहले मुख्य मेला प्रवेश मार्ग से होकर बिजली ग्रिड होते हुए खटीकान मोहल्ला, कैरपुरा तिराहा से लामिया तिराहे के पहले पास चारण मैदान बने जिगजैग से होकर रावण टीबे के पास स्थित लखदातार मैदान में बने जिगजैग से होते हुए कुमावत कृषि फार्म के रास्ते से श्री श्याम बगीची के पास बने श्याम बाबा मैदान (मुख्य मेला मैदान) के स्थाई जिगजैग को पार करने के श्याम मंदिर पहुंच पाएंगे। इस सफर में भक्तों को तकरीबन पांच घंटे से भी अधिक समय लगेगा। श्री श्याम मंदिर कमेटी के अध्यक्ष शंभू ङ्क्षसह चौहान व मंत्री श्याम सिंह चौहान ने बताया कि भीड़ पर नियंत्रण के लिए चारण मैदान व लखदातार मैदान में तीन लाइन को चलाया जाएगा। भीड़ बढऩे पर जिगजैग से भक्तों को गुजारा जाएगा।
72 घंटे पहले…कोरोना गाइडलाइन को देखते हुए प्रशासन ने मेले में आने वाले भक्तों को 72 घंटे के भीतर की कोरोना नेगेटिव जांच रिपोर्ट के साथ दर्शन के लिए ऑनलाइन पंजीयन करवाना होगा। थाना प्रभारी पूजा पूनियां ने बताया कि रींगस की ओर से आने वाले श्रद्धालुओं के लिए रींगस में खाटू रोड पर जांच केन्द्र बनाया गया है। रींगस सहित अन्य स्थानों से आने वाले श्रद्धालुओं को गुणगान नगर वाले मुख्य प्रवेश मार्ग पर रिपोर्ट दिखाने के बाद कैरपुरा तिराहा और अंतिम चेक पॉइंट लामिया तिराहे के पास बनाया जाएगा। गत बैठक में कलक्टर ने कहा था कि जो भक्त अपनी कोरोना जांच रिपोर्ट साथ नहीं लाएगा उसे दर्शन से वंचित होना पड़ेगा।
15 हजार बल्ली, 10 हजार बांसकमेटी व्यवस्थापक संतोष शर्मा ने बताया कि मेले के दौरान दर्शन मार्ग में बन रहे जिगजैग और लाइनों में तकरीबन 15 हजार बल्ली, 10 हजार बांस, 500 बंडल रस्सी और लोहे की जाली भी लगी है। दर्शन मार्ग में जिगजैग, रेलिंग व्यवस्था करने के लिए करीब 150 मजदूर काम कर रहे हैं।
मैदान में ही पानी की व्यवस्था वहीं एक दर्जन के करीब डोम लगाए जाएंगे, जिनमें स्काउट्स, पुलिस, श्रद्धालुओं के विश्राम आदि के लिए व्यवस्था की जाएगी। इसके अलावा चारण व लखदातार मैदान में पानी की व्यवस्था के अलावा अस्थाई टॉयलेट भी बनाए गए है।
रविवार को खुलेगा दरबारइसबार रविवार को बाबा श्याम का दरबार भक्तों के लिए खोला जाएगा। श्री श्याम मंदिर कमेटी के ट्रस्टी प्रताप सिंह चौहान ने बताया कि कोरोना संक्रमण काल के चलते सरकार के निर्देशानुसार श्री श्याम मंदिर कमेटी की ओर से प्रत्येक रविवार सहित शुक्ल पक्ष की एकादशी व द्वादशी को मंदिर के कपाट दर्शन के लिए बंद थे। मगर भक्तों की बढ़ती भीड़ के चलते रविवार को भी पट खुले रहेंगे। भक्त ऑनलाइन पंजियन कर दर्शन कर सकेंगे।
कॉल पर रहेगी चिकित्सकों की टीमखाटूश्यामजी के मेले में आने वाले भक्तों को चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए चिकित्सक और कर्मचारियों की नियुक्ति की गई है। 14 से 26 मार्च तक भरने वाले मेले के मेला प्रभारी व सहायक मेला प्रभारी नियुक्त किए गए है।
विभाग ओर से 255 से अधिक अधिकारियों व कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है। मेला प्रभारी डा सीपी ओला और सहायक मेला प्रभारी डा सुनील धायल और डा गोगराज सिंह को मेला प्रभारी बनाया गया है। मेले में नर्स, एलएचवी, प्रसाविका, फार्मासिस्ट, रेडियोग्राफर, चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी, वाहन चालकों की ड्यूटी लगाई गई है। साथ ही श्रद्धालुओं को शुद्ध पेयजल व खाद्य वस्तुएं उपलब्ध हो, इसके लिए खाद्य सुरक्षा निरीक्षक दल, पेयजल स्रोतो के पानी के लिए शुद्धीकरण दल बनाए गए हैं। मेले में 73 चिकित्सकों सहित 255 से अधिक कर्मचारियों सेवाएं देंगे।
आपके लिए हैल्थ डेस्क भीसीएमएचओ डा अजय चौधरी ने बताया कि मेले के दौरान खाद्य सुरक्षा अधिकारियों की टीम खाद्य वस्तुओं की जांच व निरीक्षण करेगी। पेयजल शुद्धीकरण दल मेले में पेयजल स्रोतों के पानी को शुद्ध करने का काम करेगा। मेले में अधिकारियों की ओर से श्रद्धालुओं की जरूरत और सुविधा को देखते हुए मेडिकल हैल्थ डेस्क बनाकर चिकित्सकों की टीम ऑन कॉल उपलब्ध रहेगी। इसके अलावा मेले में बेस एम्बुलेंस सहित एम्बुलेंस 108 मेडिकल टीम के उपलब्ध रहेगी। सभी एम्बुलेंंस चालक व मेडिकल टीम के प्रभारी के मोबाइल नंबर की सूची मेला मजिस्टे्रट के पास होगी।

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

VIDEO: केंद्रीय मंत्री के खिलाफ किसानों ने किया मटका फोड़ प्रदर्शन

सीकर. केंन्द्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी के किसानों को लेकर दिए बयान के विरोध में किसानों ने शुक्रवार को कलेक्ट्रेट पर मटका फोड़ प्रदर्शन...
- Advertisement -

117 दिन बाद श्याम सरकार का दीदार हुआ तो छलक आए आंसू

खाटूश्यामजी. कोरोना की दूसरी लहर के चलते 117 दिनों बाद गुरुवार को जैसे ही लखदातार बाबा श्याम का दरबार खुला तो दर्शनों के...

मंदिर की भूमि से रास्ता निकालने का प्रयास

सीकर. शहर के राधाकिशनपुरा क्षेत्र में मंदिर माफी की जमीन पर कुछ लोगों ने जबरन रास्ता निकालने का प्रयास किया। जेसीबी से वहां...

एबीवीपी ने शिक्षा मंत्री आवास पर किया प्रदर्शन, पुलिस ने रोका तो रास्ते में दिया धरना

सीकर. आरएएस भर्ती परीक्षा में गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार को शिक्षा राज्य मंत्री व कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह...

Related News

VIDEO: केंद्रीय मंत्री के खिलाफ किसानों ने किया मटका फोड़ प्रदर्शन

सीकर. केंन्द्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी के किसानों को लेकर दिए बयान के विरोध में किसानों ने शुक्रवार को कलेक्ट्रेट पर मटका फोड़ प्रदर्शन...

117 दिन बाद श्याम सरकार का दीदार हुआ तो छलक आए आंसू

खाटूश्यामजी. कोरोना की दूसरी लहर के चलते 117 दिनों बाद गुरुवार को जैसे ही लखदातार बाबा श्याम का दरबार खुला तो दर्शनों के...

मंदिर की भूमि से रास्ता निकालने का प्रयास

सीकर. शहर के राधाकिशनपुरा क्षेत्र में मंदिर माफी की जमीन पर कुछ लोगों ने जबरन रास्ता निकालने का प्रयास किया। जेसीबी से वहां...

एबीवीपी ने शिक्षा मंत्री आवास पर किया प्रदर्शन, पुलिस ने रोका तो रास्ते में दिया धरना

सीकर. आरएएस भर्ती परीक्षा में गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार को शिक्षा राज्य मंत्री व कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह...

VIDEO: सीकर शहर में दिन दहाड़े 10 लाख रुपए की लूट, सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई घटना

सीकर. राजस्थान के सीकर शहर में शुक्रवार को दिनदहाड़े 10 लाख रुपए की लूट हो गई। बावड़ी गेट निवासी व्यापारी अमित पंसारी रुपयों...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here