- Advertisement -
Home News कश्मीर में तिरंगे को सलामी देगी राजस्थान की बेटी तनुश्री, देश की...

कश्मीर में तिरंगे को सलामी देगी राजस्थान की बेटी तनुश्री, देश की पहली महिला BSF अफसर हैं तनुश्री

- Advertisement -

आनंद मणि त्रिपाठीश्रीनगर/जयपुर । Independence Day : नए भारत का नया कश्मीर हर दिन नई इबारत लिख रहा है। फिर बात भाईचारे की हो या अमन की। वादी-ए-कश्मीर में यह स्वतंत्रता दिवस 72 वर्षों में न केवल सबसे अलग होगा, बल्कि कई मायने में अविस्मरणीय भी होगा।
 
इसमें राजस्थान का खास योगदान होगा, जब देश की महिला BSF अधिकारी कश्मीर के शेर-ए-कश्मीर स्टेडियम में बीएसएफ दस्ते का अगुवाई करते हुए तिरंगे को सलामी देंगी। हम बात कर रहे हैं राजस्थान के बीकानेर की बेटी तनुश्री की। वे एनसीसी कैडेट रही हैं। इंजीनियरिंग के बाद उन्होंने महिला एवं लैंगिग मुद्दों पर शोध किया। इसके बाद वे बनी बीएसएफ की सहायक कमांडेट।
 वे पुरुषों के साथ कदमताल करते हुए कुपवाड़ा स्थित एलओसी पर देश को अपनी सेवाएं दे रही हैं। तनुश्री ( BSF first woman combat officer ) ने पत्रिका से बातचीत करते हुए कहा कि यह मेरे लिए अविस्मरणीय है कि मुझे कश्मीर में यह मौका मिला है।
 
जहां तक बात कश्मीर के माहौल की है तो सुरक्षाबलों के लिए हमेशा ही चुनौतीपूर्ण रही हैं। मौजूदा माहौल के लिए हम पहले भी तैयार थे और अब भी। कहीं भी किसी नागरिक को चिंता करने की जरूरत नहीं है।
 
बीकानेर की बेटी13000 फीट की ऊंचाई पर पाकिस्तानी चौकी के ठीक सामने तैनात तनुश्री कहती हैं कि सरहद पर दुश्मन सामने होता है और आतंरिक सुरक्षा में दुश्मन आपके चारों तरफ होता है। 365 डिग्री यानी 360 से पांच डिग्री ज्यादा। ऐसी स्थिति में हर किसी को चौकन्ना रहना होता है। तनुश्री इससे पहले पंजाब में तैनात थीं।उन्होंने कहा, ‘बीएसएफ अधिकारियों ने कश्मीर की जगह कोई अन्य प्रदेश चुनने का भी विकल्प दिया था, लेकिन परिवार से मिले साहस की बदौलत उन्होंने घाटी में ही अपनी पोस्टिंग चुनी। संचार साधन बंद होने से आठ दिनों से वह भी परिवार से संपर्क नहीं कर पा रही हैं, मगर जब राजस्थान पत्रिका में उनकी तस्वीर और पत्रिका टीवी पर उनकी मुस्कान उनका परिवार देखेगा तो वही उनके लिए बेटी का संदेश होगा। कुछ दिनों के लिए यह समस्या है। यह समय है निकल जाएगा।

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

बाइक से पेट्रोल निकालकर युवक को स्कूटी सहित जलाया, सीसीटीवी फुटेज में दिखे तीन युवक

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले के पिपराली ब्लॉक के पलासिया गांव में शुभकरण हत्याकांड में पुलिस को कई अहम सुराग मिले है। पुलिस...
- Advertisement -

पहले सियासी संग्राम और अब आचार संहिता ने लगाए नेताओं के ब्रेक

सीकर. पहले कोरोना और फिर प्रदेश में मचे सियासी घमसान ने प्रभारी मंत्रियों को प्रभार वाले जिलों से दूर कर दिया। जैसे-तैसे प्रदेश...

किसान बिल को लेकर फूटा सपना चौधरी का गुस्सा

संसद में पास हो चुके दो किसान बिलों के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन की हलचल पूरे देश में फैल रही है. कांग्रेस सहित कई विपक्षी पार्टियां...

पहले सियासी संग्राम और अब आचार संहिता ने लगाए नेताओं के ब्रेक

सीकर. पहले कोरोना और फिर प्रदेश में मचे सियासी घमसान ने प्रभारी मंत्रियों को प्रभार वाले जिलों से दूर कर दिया। जैसे-तैसे प्रदेश...

Related News

बाइक से पेट्रोल निकालकर युवक को स्कूटी सहित जलाया, सीसीटीवी फुटेज में दिखे तीन युवक

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले के पिपराली ब्लॉक के पलासिया गांव में शुभकरण हत्याकांड में पुलिस को कई अहम सुराग मिले है। पुलिस...

पहले सियासी संग्राम और अब आचार संहिता ने लगाए नेताओं के ब्रेक

सीकर. पहले कोरोना और फिर प्रदेश में मचे सियासी घमसान ने प्रभारी मंत्रियों को प्रभार वाले जिलों से दूर कर दिया। जैसे-तैसे प्रदेश...

किसान बिल को लेकर फूटा सपना चौधरी का गुस्सा

संसद में पास हो चुके दो किसान बिलों के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन की हलचल पूरे देश में फैल रही है. कांग्रेस सहित कई विपक्षी पार्टियां...

पहले सियासी संग्राम और अब आचार संहिता ने लगाए नेताओं के ब्रेक

सीकर. पहले कोरोना और फिर प्रदेश में मचे सियासी घमसान ने प्रभारी मंत्रियों को प्रभार वाले जिलों से दूर कर दिया। जैसे-तैसे प्रदेश...

कंपनियों को मिल जाएगा कर्मचारियों को किसी भी क्षण निकालने का अधिकार

मोदी सरकार के नए प्रस्तावित कानून के तहत अब हर चार में से तीन कंपनियों को अपने कर्मचारियों को किसी भी क्षण कंपनी से...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here