- Advertisement -
Home News राजस्थान में यहां तेज बारिश से ढ़हे कई मकान, हुआ लाखों का...

राजस्थान में यहां तेज बारिश से ढ़हे कई मकान, हुआ लाखों का नुकसान, बेघर हुए लोग

- Advertisement -

अलवर. Heavy Rain In Alwar : अलवर जिले में तेज बारिश ( rain in alwar ) के बाद कई मकान ढ़ह गए। जिले के बानसूर क्षेत्र की ग्राम पंचायत ज्ञानपुरा के ढाणी पाली में रात को आई तेज बारिश से आधा दर्जन से अधिक कच्चे मकान ढह गए। कच्चे मकान ढहने से इन मकानों में रह रहे लोगों के समक्ष रोजी रोटी का संकट आ गया।
ढाणी पाली में कच्चे मकान ढहने की सूचना पर सुबह पूर्व सरपंच रामवतार सैनी, भामाशाह रतन जांगिड, पटवारी सुरेन्द्र सिंह मौके पर पहुंचे और मौका मुआयना कर रिर्पोट तैयार की। कांग्रेस के पूर्व ब्लॉक अध्यक्ष जगराम रावत ने बताया कि रात को आई तेज बारिश में राजेन्द्र, अशोक, महेश, पूरणचंद, प्रहलाद, ख्यालीराम, दीनदयाल, चौथमल मेघवाल के कच्चे मकान ढह गए। भामाशाह रतन जांगिड़ ने सभी परिवारों को तिरपाल एवं 20-20 किलो गेंहू उपलब्ध करवाएं। इस मौके पर एमपीएस रिंकी जांगिड, सरपंच आशा सैनी, बनवारीलाल, शिम्भूदयाल दायमा सहित कई ग्रामीण मौजूद थे।
कमरे की दीवार गिरी, 17 बकरियों की मौत
वहीं राजगढ़ क्षेत्र के कुण्डरोली गांव की बैरवा बस्ती में रात को आई तेज बारिश से एक कमरे की दीवार के धराशाई हो जाने से उसके नीचे दबने से करीब 17 बकरियों मृत्यु हो गई। ग्रामीणों ने बताया कि मंगलवार की रात को तेज बारिश के कारण कुण्डरोली गांव की बैरवा बस्ती में आशाराम बैरवा का एक कमरे की पीछे की दीवार गिर गई। जिससे कमरे में बैठी करीब 31 बकरियां दीवार के नीचे दब गई। ग्रामीणों के सहयोग से दीवार के नीचे दबी बकरियों को निकाला। लेकिन 17 बकरियों की मृत्यु हो गई। घटना की सूचना राजगढ़ प्रधान महंत जयराम दास स्वामी, तहसीलदार बाबूलाल मीना आदि को दी गई। सुबह मौके पर हल्का पटवारी रजत सक्सेना, रविन्द्र कुमार, पूर्व सरपंच रंगलाल मीना मौके पर पहुंचे। हल्का पटवारी ने मौका मुआयना किया। इस दौरान ग्रामीणों ने बताया कि मृतक बकरियों की कीमत करीब दो लाख रुपए है। कमरे की दीवार पानी के बहाव से हुए कटान के कारण गिर गई थी। जिससे बकरियों की मृत्यु होना पाया गया। घटनास्थल पर ग्रामीणों की भीड़ एकत्रित हो गई।
 आकाशीय बिजली गिरने से पक्का मकान गिरा
इधर, रैणी ग्राम पंचायत ईटोली के कोडिय़ा गांव में रात को हुई तेज बारिश के दौरान आकाशीय बिजली गिरने से एक पक्का मकान धराशायी हो गया। ग्राम सेवा अधिकारी टीकाराम शर्मा ने बताया कि तेज बारिश के दौरान रात में कोडिय़ा ग्राम निवासी खेमराज मीणा के घर पर तेज गर्जना के साथ आकाशीय बिजली गिर गई। जिससे खेमराज मीणा का मकान धराशायी हो गया। घटना की सूचना पर ईटोली सरपंच कैलाश जांगिड मौके पर पहुंचे और जानकारी ली।

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

कोरोना ने फिर पार किया शतक, एक परिवार में 17 पॉजिटिव

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में रविवार को फिर कोरोना का कहर सामने आए। जिले में दिनभर में 105 नए कोरोना पॉजिटिव केस...
- Advertisement -

आप गलत सोचते है, राजा चौपट नहीं राजा चौकस है.

इधर हम फिल्म एक्टरों के नशे की कहानियों में डूबे रहे, उधर चौकस राजा ने किसानों पर बिल पास करा लिए. अब देखो सरकार...

राजस्थान में आईटीआई में प्रवेश से मोहभंग, 75 फीसदी कॉलेजों की सीट खाली

सीकर. प्रदेश के आईटीआई विद्यार्थियों का ऑनलाइन प्रवेश से पूरी तरह से मोहभंग हो गया है। ऑनलाइन केन्द्रीयकृत प्रवेश के बाद भी प्रदेश...

प्रियंका गांधी चुपचाप बदलाव ला रही हैं- अभिषेक मनु सिंघवी

आजादी के बाद कांग्रेस अपने सबसे बुरे दौर में चल रही है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी के कई नेता अपने भाषणों...

Related News

कोरोना ने फिर पार किया शतक, एक परिवार में 17 पॉजिटिव

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में रविवार को फिर कोरोना का कहर सामने आए। जिले में दिनभर में 105 नए कोरोना पॉजिटिव केस...

आप गलत सोचते है, राजा चौपट नहीं राजा चौकस है.

इधर हम फिल्म एक्टरों के नशे की कहानियों में डूबे रहे, उधर चौकस राजा ने किसानों पर बिल पास करा लिए. अब देखो सरकार...

राजस्थान में आईटीआई में प्रवेश से मोहभंग, 75 फीसदी कॉलेजों की सीट खाली

सीकर. प्रदेश के आईटीआई विद्यार्थियों का ऑनलाइन प्रवेश से पूरी तरह से मोहभंग हो गया है। ऑनलाइन केन्द्रीयकृत प्रवेश के बाद भी प्रदेश...

प्रियंका गांधी चुपचाप बदलाव ला रही हैं- अभिषेक मनु सिंघवी

आजादी के बाद कांग्रेस अपने सबसे बुरे दौर में चल रही है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी के कई नेता अपने भाषणों...

कविता:ये भारत का किसान है!

हल लेकर खेतों की ओर आज कोई निकल पड़ा है , फटी जूती, फटे कपड़े बारिश की आस में चल पड़ा है,...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here