- Advertisement -
Home Rajasthan News Sikar news दिवाली पर मिठाई खरीदने जा रहे है तो जरा ये खबर जरूर...

दिवाली पर मिठाई खरीदने जा रहे है तो जरा ये खबर जरूर पढ़ लीजिए, कहीं हो ना जाए नुकसान !

- Advertisement -

सीकर.
दीपावली पर मिलावटी मिठाई ( Adulterated Sweets ) की रोकथाम के लिए भले ही प्रदेश में खाद्य विभाग ( Food Department ) की ओर से अभियान चलाने का दावा किया जा रहा हो और प्रदेश के सभी जिलों में विभाग को रोजाना चार नमूने लेने का लक्ष्य दिया हो लेकिन हकीकत यह है कि जब तक इन नमूनो की जांच रिपोर्ट आएगी तब तक सीकर, चूरू व झुंझुनूं जिले में करीब 20 हजार किलो मावा खप जाएगा। इसके अलावा मिठाई विक्रेताओं की माने तो दीपावली पर खपत के लिहाज से बिना मिलावट किए इतना मावा तैयार ही नहीं हो सकता। यही कारण है कि मिठाई की दुकानों पर पिछले 15 से 20 दिन से लगातार मिठाई बनाने व मावा तैयार करने का काम हो रहा है और सभी लोगों को मिठाई मिल रही है।
यह है कारणप्रदेश में मिलावट की जांच के लिए तीन अक्टूबर से 30 अक्टूबर तक दीपावली का विशेष अभियान चलाया जा रहा है। अभियान के सभी नमूनों को जांच के लिए जयपुर भेजा जाता है। प्रदेश में कुछ समय पहले सात नई लैब बनाए जाने की घोषणा की गई थी। इन लैब के शुरू नहीं होने से अभियान की रिपोर्ट आने में दो से ढाई माह तक लगने का अनुमान है। ऐसे में मिलावट पर रोकथाम का अभियान फौरी ही साबित होगा। सीकर जिले में पिछले तीन माह में 35 नमूने लिए गए हैं। और नीमकाथाना में ढाई क्विंटल मावा सुरक्षित होने पर नष्ट भी कराया जा चुका है। त्योहारी सीजन में हर बार डूंगरगढ़ व अलवर से मावा आता है। 15 किलो के टीन में रोजाना निजी बस व जीप के जरिए सीधे दुकानों तक आता है। खाद्य विभाग के अधिकारियों के अनुसार वहां से आने वाले में फैट की मात्रा कम होती है। यही कारण है कि यह मावा अमानक होता है। इधर पशुपालकों के अनुसार शहर की डिमांड पूरा करने के लिए जो मावा तैयार होता है उसमें क्रीम व फेट नहीं होती है। साथ ही इस मावे को तैयार करने के लिए गाय, भैंस, बकरी व ऊंटनी के दूध से तैयार किया जाता है।
क्या है नुकसानफिजिशियन डॉ. विवेक शुक्ला के अनुसार मावा में अगर जमने वाला तेल जैसा नारियल आदि की मिलावट हो रही हैं तो ऐसे तेल की वजह से हार्ट अटैक की संभावना अधिक होती है। अगर सरसों या अन्य किसी भी प्रकार के तेल को मिलाया जाता है।[MORE_ADVERTISE1][MORE_ADVERTISE2]खाद्य पदार्थों के नमूने लिए चिकित्सा विभाग की टीम ने गुरुवार को मिल्क केक, मावा, पनीर के नमूने लिए। नमूनों को जांच के लिए जयपुर भेजा गया। सीएमएचओ डा. अजय चौधरी ने बताया कि दीपावली को देखते हुए अभियान चलाया जा रहा है। टीम ने गुरुवार को अलवर स्वीट्स कलाकंद वाला पिपराली रोड सीकर से मिल्क केक, अग्रवाल मावा मिष्ठान भंडार स्टेशन रोड सीकर से मावा, प्रभु जी मिल्क प्रोडक्ट पुराना लोहारू रोड सीकर से पनीर एवं मावे का सैम्पल लिए।
सीकर जिले में 35 नमूने लिए जा चुके हैं। इन नमूनों को जांच के लिए जयपुर भेजा जाता है। कई बार नमूनों की रिपोर्ट मिलने में देरी हो जाती है। विभाग की ओर से समय-समय पर विशेष अभियान चलाया जाता है। त्योहारी सीजन में मावा के निर्माण और उत्पादों की जांच पर फोकस किया जाता है। विभाग की ओर से 30 अक्टूबर तक जांच अभियान चलाया जाएगा। -रतन गोदारा, खाद्य सुरक्षा अधिकारी, सीकर[MORE_ADVERTISE3]

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

चिदंबरम के निशाने पर नीति आयोग

नए कृषि कानूनों को लेकर विपक्षी पार्टियां खासकर कांग्रेस लगातार सरकार पर हमला कर रही हैं. नीति आयोग ने कृषि कानूनों से संबंधित जानकारी...
- Advertisement -

BJP विधायक ने उठाई MP के बंटवारे की मांग

BJP के विधायक नारायण त्रिपाठी ने मध्य प्रदेश के बंटवारे की मांग उठाई है. उन्होंने कहा है कि अलग से विंध्य प्रदेश होना चाहिए....

दो दुल्हनों के दोहरे कांड में फंसा दुल्हा, सिर धुन रहा परिवार

सीकर. इसे बदकिस्मती कहें या कुछ ओर। राजस्थान के सीकर जिले के लक्ष्मणगढ़ में एक दुल्हे को चार दिन में ही दो दुल्हनों...

शेखावाटी में फिर जमाव बिंदू पर पहुंचा पारा, कई इलाकों में कोहरा

सीकर. राजस्थान के शेखावाटी इलाके में रविवार को सर्दी का असर फिर तेज हो गया। मौसम साफ होने से फतेहपुर में न्यूनतम तापमान...

Related News

चिदंबरम के निशाने पर नीति आयोग

नए कृषि कानूनों को लेकर विपक्षी पार्टियां खासकर कांग्रेस लगातार सरकार पर हमला कर रही हैं. नीति आयोग ने कृषि कानूनों से संबंधित जानकारी...

BJP विधायक ने उठाई MP के बंटवारे की मांग

BJP के विधायक नारायण त्रिपाठी ने मध्य प्रदेश के बंटवारे की मांग उठाई है. उन्होंने कहा है कि अलग से विंध्य प्रदेश होना चाहिए....

दो दुल्हनों के दोहरे कांड में फंसा दुल्हा, सिर धुन रहा परिवार

सीकर. इसे बदकिस्मती कहें या कुछ ओर। राजस्थान के सीकर जिले के लक्ष्मणगढ़ में एक दुल्हे को चार दिन में ही दो दुल्हनों...

शेखावाटी में फिर जमाव बिंदू पर पहुंचा पारा, कई इलाकों में कोहरा

सीकर. राजस्थान के शेखावाटी इलाके में रविवार को सर्दी का असर फिर तेज हो गया। मौसम साफ होने से फतेहपुर में न्यूनतम तापमान...

16 वर्षीय किशोरी का बलात्कार कर गर्भवती करने वाले 50 वर्षीय आरोपी को 10 साल की सजा

(Rape accused sentenced to 10 years) सीकर. 16 साल की बालिका का अपहरण कर बलात्कार के 50 वर्षीय दोषी को पोक्सो कोर्ट ने...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here