- Advertisement -
HomeRajasthan NewsSikar news87 नए कोरोना पॉजिटिव मिले, स्वास्थ्य विभाग ने दो गुना ज्यादा लिए...

87 नए कोरोना पॉजिटिव मिले, स्वास्थ्य विभाग ने दो गुना ज्यादा लिए सैंपल

- Advertisement -

(87 corona positive found in sikar ) सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में मंंगलवार को कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 8 हजार 278 पहुंच गया। मंगलवार को जिले में 87 नए कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए। वहीं, स्वास्थ्य विभाग के अनुसार पूर्व संक्रमित 121 कोरोना मरीज स्वस्थ भी हुए। जिसके बाद कोरोना से जंग जीतने वाले मरीजों की संख्या भी 6 हजार 642 पहुंच गई। मुख्य चिकित्सा व स्वास्थ्य अधिकारी डा. अजय चौधरी ने बताया कि जिले में वर्तमान में 1 हजार 561 कोरोना मरीज उपचाराधीन है। जिनका सांवली स्थित कोविड सेंटर के अलावा होम आइसोलेशन में उपचार चल रहा है। मंगलवार को 121 कोरोना मरीज स्वस्थ होने के बाद जिले में कोरोना रिकवरी दर में भी मामूली बढ़त हुई है। जिले में रिकवरी दर अब 80. 24 फीसदी हो गई है।
यहां मिले कोरोना के नए मरीज
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा अजय चौधरी ने बताया कि मंगलवार को कोरोना के सबसे ज्यादा मरीज सीकर शहर में मिले। शहर में 49 नए कोरोना मरीज मिले। जबकि फतेहपुर ब्लॉक में 7, खण्डेला में 1, कूदन में 2, लक्ष्मणगढ ब्लॉक में 6, नीमकाथाना में 2, पिपराली ब्लाक में 4, श्रीमाधोपुर क्षेत्र में 8 और दांता ब्लॉक में 8 नए कोरोना पॉजिटिव मिले। जिनका लक्षणों के आधार पर सांवली कोविड सेंटर व होम आइसोलेशन में उपचार शुरू किया गया है। प्रभावित इलाकों में सैनिटाइजेशन, सर्वे व सैंपलिंग की कवायद भी की गई है।
दो गुना से ज्यादा लिए सैंपलइधर, स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच कोरोना सैंपल की संख्या भी मंगलवार को बढ़ा दी। मंगलवार को स्वास्थ्य विभाग ने जिलेभर से 1001 नए सैंपल लिए। जो अन्य दिनों के मुकाबले दो गुना से भी ज्यादा है। इनकी जांच रिपोर्ट बुधवार को आएगी। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार सीकर जिले में अब तक 1 लाख 12 हजार 486 सैम्पलों की जांच की चुकी है।
कोरोना गाइड लाइन की उड़ रही धज्जियांएक तरह जहां कोरोना का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। दूसरी ओर उतनी ही लापरवाही भी बढ़ती जा रही है। सावों के सीजन के बीच जिलेभर के बाजारों में कोरोना गाइड लाइन की धज्जियां उडऩा आम हो गया है। लोग बिना मास्क के एक दूसरे से सटते हुए खरीदारी करते दिख रहे हैं। बाजार के अलावा बैंकों और सार्वजनिक स्थानों में भी यही हाल है। टैक्सी, निजी और रोडवेज बसों में भी कोरोना गाइडलाइनो की पालना नहीं की जा रही है। जिससे कोरोना का खतरा और ज्यादा बढ़ता जा रहा है।

Advertisement
Advertisement

- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

- Advertisement -

Related News

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here