- Advertisement -
HomeRajasthan NewsSikar newsकोतवाली से 300 मीटर दूर मंदिर व घर में लाखों की चोरी,...

कोतवाली से 300 मीटर दूर मंदिर व घर में लाखों की चोरी, चोरों ने हर सामान को चेक किया, फिर ले उड़े

- Advertisement -

सीकर.
शहर में चोरों के हौसले कम नहीं हो रहे हैं। मौका मिलते ही वे वारदात को अंजाम दे रहे हैं। चोरों ने अब बजाज रोड पर चितलांगिया स्कूल के सामने स्थित चंद्रप्रभु दिगंबर जैन मंदिर ( Theft in Jain Temple Sikar ) को निशाना बनाया और लाखों की चांदी और नकदी ( Silver Worth Millions & Cash Theft ) साफ कर ले गए। बुधवार सुबह वारदात का पता लगने पर पुलिस ने मौका मुआयना किया, लेकिन चोरों का अभी कोई पता नहीं चल पाया है। खास बात यह है कि जैन मंदिर शहर कोतवाली से महज दो सौ मीटर की दूरी पर है। मंदिर के सामने रात को सडक़ निर्माण कार्य भी चल रहा था।
चंद्रप्रभु दिगंबर जैन मंदिर में चोर मुख्य दरवाजे पर बने झरोखे से घुसे। अंदर अलमारियों और दान-पात्र को तोड़ लिया। मंदिर में तलाशी लेने के पास मंदिर से जुड़े कमल जैन के घर में घुस गए। कमल जैन ने बताया कि चोर उनके घर से करीब छह किलो दो सौ ग्राम वजनी चांदी ले गए। इनमें से हनुमान व लक्ष्मी की दो किलो चांदी की मूर्तियां जो चार किलो दो सौ ग्राम चांदी में जड़ाकर रखी गई थी। इसके अलावा मंदिर से पूजा की चांदी की चार थाली व अन्य चांदी का सामान ले गए।
Read More :
राजस्थान के जांबाज इंस्पेक्टर विक्रम सिंह का हुआ अंतिम संस्कार, 8 वर्षीय बेटे ने दी मुखाग्नि
 झारी को काटा, तिजोरी नहीं तोड़ पाए श्रीचंद्रप्रभु दिगम्बर जैन मंदिर में वारदात में घुसे चोर शातिर है। चोरों ने मंदिर में भगवान की झारी को काटकर जांच की। चांदी की नहीं होने के कारण वहीं पर छोड़ गए। मंदिर के दोनों दान-पात्र और दो अलमारियों को तोड़ लिया। लेकिन उनमें से बड़े नोट ही ले गए। छोटे नोट और सिक्के वहीं पर छोड़ गए। मंदिर की छत पर जाने वाले रास्ते का भी ताला तोड़ा और टेबिल पर चढकऱ दूसरे झरोखे की भी तलाशी ली। इसके बाद चोर छत के रास्ते पड़ोस के दूसरे मकान में भी गए, लेकिन वहां पर वारदात को अंजाम देने में सफल नहीं हो पाए।
Read more :
सरपंच की हत्या की वारदात को भादू समेत पांच शूटरों ने दिया वारदात को अंजाम
रैकी के बाद वारदात चोरों ने जैन मंदिर में रैकी के बाद वारदात को अंजाम दिया है। कमल जैन ने बताया कि मंदिर में सीसीटीवी लगे हुए हैं, लेकिन तकनीकी कारण के चलते डीवीआर में रिकॉर्डिंग सेव नहीं हो पा रही थी। ऐसे में पिछले करीब एक सप्ताह से रात के समय कैमरे बंद किए जा रहे थे। ऐसे मे माना जा रहा है कि चोरों ने दिन में मंदिर की रैकी की है। साथ ही यह भी पता किया है कि चांदी के बर्तन व सामान कहां पर रखा हुआ है। इसके अलावा रात के समय मंदिर के बाहर सीसी सडक़ बनाने का कार्य चल रहा था। ऐसे में वहां पर मजदूरों की आवाजाही थी। शहर कोतवाल श्रीचंद का कहना है कि पुलिस चोरों की तलाश कर रही है। आसपास के क्षेत्र के सीसीटीवी की जांच की जा रही है। इसके अलावा मंदिर के बाहर चल रहे निर्माण कार्य में काम में लगे मजदूरों से भी पूछताछ की जा रही है।

Advertisement
Advertisement

- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

- Advertisement -

Related News

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here