- Advertisement -
Home Rajasthan News Sikar news VIDEO: घरों में मास्क पहनकर हुई ईद की नमाज, मोबाइल पर मुबारकबाद

VIDEO: घरों में मास्क पहनकर हुई ईद की नमाज, मोबाइल पर मुबारकबाद

- Advertisement -

सीकर में ईद उल फितर का पर्व आज इबादत व अकीदत से मनाया जा रहा है। कोरोना महामारी की वजह से ईदगाह सहित सभी मस्जिदों में चुनिदंा लोगों की मौजूदगी में ही मुख्य नमाज हुई। ज्यादातर लोगों ने घरों में ही खुदा की इबादत में सजदा कर देश व दुनिया में कोरोना के खात्मे तथा अमन-चैन व भाईचारे की दुआ की। मुख्य नमाज के बाद ईद की मुबारकबाद का दौर शुरू हुआ। जो अब भी लगातार जारी है। लॉकडाउन की वजह से मुबारकबाद भी मोबाइल पर ही दी जा रही है। मुस्लिम घरों में इस दौरान मीठी सेवइयों व खीर सहित तरह तरह के पकवान बनाए गए हैं।
मास्क व सोशल डिस्टेंसिंग से नमाजघरों में नमाज अदा करने के दौरान भी कई घरों में कोरोना गाइडलाइन की पूरी पालना की गई। यहां लोगों ने मास्क लगाकर सोशल डिस्टेंसिंग में रहते हुए नमाज पढ़ी। सेनिटाइजेशन का भी पूरा ख्याल रखा गया।
जनप्रतिनिधियों ने दी बधाईईद उल फिर पर्व पर जनप्रतिनिधियों ने भी सोशल मीडिया के जरिये ही प्रदेशवासियों को बधाई दी है। शिक्षा राज्य मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा, सीकर विधायक राजेन्द्र पारीक तथा नगर परिषद सभापति जीवण खां सहित कई जनप्रतिनिधियों ने फेसबुक व ट्विटर पर ईद की मुबारकबाद देते हुए कोरेाना के जल्द खात्मे व सबके सेहतमंद होने की कामना प्रेषित की है।
शाम से शुरू हो गया मुबारकबाद का दौरइससे पहले ईद की मुबारकबाद का दौर गुरुवार शाम से ही शुरू हो गया। शाम को रोजा खोलकर लोग चांद देखने के लिए छतों पर चढ़ गए। जैसे ही ईद का चांद नजर आया लोगों ने एक दूसरे को मुबारकबाद दी। इसके बाद फोन व सोशल मीडिया पर मुबारकबाद का सिलसिला शुरू हो गया जो देर रात तक जारी रहा।
क्या है ईद का महत्वईद का शाब्दिक अर्थ खुशी होता है। इस दिन लोग घरों में खीर, सैंवइयां व अन्य मीठे पकवान बनाते हैं, इसलिए मीठी भी ईद कहा जाता है। ईद उल फितर माहे रमजान के पूरे रोजे रखने और पूरे महीने अल्लाह की इबादत करने के बाद मनाई जाती है। इसलिए इसे रोजेदारों को इनाम और (प्रतिफल) का दिन भी कहा जाता है। इस दिन दो रकाअत नमाज अदा करके दुआ मांगी जाती है। नमाज से पहले अदा करें दानईद उल फितर समानता और मुहब्बत का त्योहार है। ईद के मौके पर हर आदमी- औरत को फितरा (दान) देना अनिवार्य है, जिससे हर आदमी अपनी ईद मना सके। इसलिए इसे ईद उल फितर कहा गया है। हदीसों में आता है कि ईद की नमाज से पहले फितरा देना फर्ज है। इसे गरीबों का हक बताया गया है।

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

युवती के सामने बाल काटे तो बदला नहीं लेने तक बाल बढ़ाने का किया प्रण, दो साल बाद किया हमला

सीकर/ फतेहपुर. राजस्थान के सीकर जिले के फतेहुपर सदर थाना इलाके के बांठोद गांव में एक युवक पर जानलेवा हमला करने के मामले...
- Advertisement -

राजस्थान बोर्ड का रिजल्ट फॉर्मूला तैयार: यूं मिल सकते हैं अंक

सीकर. कोरोना की वजह से राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की परीक्षाएं रद्द होने के बाद अब शिक्षा विभाग की ओर से गठित समिति...

राजस्थान के 20 जिलों में आज बरसात का अलर्ट

सीकर. राजस्थान में प्री- मानसूनी गतिविधियां हल्की हो गई है। हवाओं के साथ बरसात की रफ्तार में कमी देखी जा रही है। जो...

खबर का असर: कच्ची बस्ती में लगा शिविर, कोरोना की जांच के साथ कुपोषित बच्चों का शुरू हुआ उपचार

सीकर. शहर की कच्ची बस्ती के जरुरतमंद लोगों के भोजन व अन्य सुविधाओं को लेकर राजस्थान पत्रिका में प्रकाशित खबर के बाद से...

Related News

युवती के सामने बाल काटे तो बदला नहीं लेने तक बाल बढ़ाने का किया प्रण, दो साल बाद किया हमला

सीकर/ फतेहपुर. राजस्थान के सीकर जिले के फतेहुपर सदर थाना इलाके के बांठोद गांव में एक युवक पर जानलेवा हमला करने के मामले...

राजस्थान बोर्ड का रिजल्ट फॉर्मूला तैयार: यूं मिल सकते हैं अंक

सीकर. कोरोना की वजह से राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की परीक्षाएं रद्द होने के बाद अब शिक्षा विभाग की ओर से गठित समिति...

राजस्थान के 20 जिलों में आज बरसात का अलर्ट

सीकर. राजस्थान में प्री- मानसूनी गतिविधियां हल्की हो गई है। हवाओं के साथ बरसात की रफ्तार में कमी देखी जा रही है। जो...

खबर का असर: कच्ची बस्ती में लगा शिविर, कोरोना की जांच के साथ कुपोषित बच्चों का शुरू हुआ उपचार

सीकर. शहर की कच्ची बस्ती के जरुरतमंद लोगों के भोजन व अन्य सुविधाओं को लेकर राजस्थान पत्रिका में प्रकाशित खबर के बाद से...

सीकर में फिर बढ़े कोरोना के एक्टिव केस

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में मंगलवार को कोरोना के नए मरीजों की संख्या एक बार फिर स्वस्थ होने वाले मरीजों से ज्यादा...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here