- Advertisement -
Home Rajasthan News Sikar news वट सावित्री अमावस्या आज: बड़ की पूजा कर उपवास कर रही महिलाएं,...

वट सावित्री अमावस्या आज: बड़ की पूजा कर उपवास कर रही महिलाएं, खास है आज का दिन

- Advertisement -

सीकर. वट सावित्री अमावस्या का पर्व आज जिलेभर में आस्था व उल्लास से मनाया जा रहा है। महिलाएं अखंड सौभाग्य की कामना के साथ बड़ के पेड़ का पूजन कर और पत्तों को गहने के रूप में धारण कर रही है। पति की लंबी उम्र के लिए उपवास भी रख रही है। ज्येष्ठ अमावस्या शनि भगवान का जन्म दिवस होने पर शनि मंदिरों में भी विशेष- पूजा अर्चना का दौर चल रहा है। हालांकि कोरोना गाइडलाइन की वजह से मंदिरों में सार्वजनिक कार्यक्रम नहीं हो रहे।
रोहिणी नक्षत्र का संयोगअमावस्य पर आज रोहिणी नक्षत्र का शुभ योग भी है। ज्योतिषाचार्य पंडित नागरमल लोकनाथका ने बताया कि ग्रंथों के मुताबिक पेड़-पौधे लगाने के लिए रोहिणी नक्षत्र को शुभ माना जाता है। इसलिए शुभ वार और नक्षत्र के संयोग में पेड़-पौधे लगाना चाहिए। अग्निपुराण में पौधारोपण को एक पवित्र मांगलिक समारोह बताया गया है। ग्रंथों में लिखा है कि बहुत अच्छी मिट्टी और खाद के साथ शुभ मुहूर्त में पौधारोपण किया जाना चाहिए।
यमराज से पति के प्राण लाई थी सावित्रीपुराणों के अनुसार आज ही के दिन सावित्री के पतिव्रत तप को देखते हुए यमराज ने उसके पति सत्यवान के प्राण वापस करते हुए जीवनदान दिया था। इसी वजह से पति की लंबी उम्र की कामना के साथ सुहागिन महिलाएं इस दिन उपवास करती है और बरगद की पूजा के साथ सत्यवान और सावित्री की कथा भी सुनती हैं।
भविष्य व नारद पुराण में जिक्रवट सावित्री व्रत का जिक्र भविष्य व नारद पुराण में आता है। जिसमें व्रत की महिमा व करने की विधी भी बताई गई है। इस दिन को सुहागिन महिलाओं का पर्व भी कहा जाता है। इस दिन शादीशुदा महिलाएं सौलह श्रृंगार से सजकर पति की लंबी उम्र के लिए भगवान शिव-पार्वती, सत्यवान-सावित्री और बरगद की पूजा करती हैं। साथ ही दिनभर व्रत भी रखती हैं। मान्यता है कि इस व्रत और पूजा करने से सौभाग्य, समृद्धि और सुख बढ़ता है। साथ ही जाने-अनजाने में हुए गलत कामों का दोष नहीं लगता। सारी मनोकामनाएं भी पूरी होती हैं।
स्नान, दान व पितृ पूजा जरूरीपंडित दिनेश मिश्रा ने बताया कि अमावस्या के दिन नदी स्नान, दान, व्रत और पूजा-पाठ से भगवान का आशीर्वाद प्राप्त होता है। पितरों की तृप्ति के लिए पिंडदान और श्राद्धकर्म इस दिन करना शुभ माना गया है। धार्मिक मान्यता है कि ज्येष्ठ अमावस्या के दिन पितरों का तर्पण और उनकी उपासना की जाती है। हमारे जितने भी व्रत त्योहार ,व्रत उत्सव आदि मनाए जाते हैं, ये सब वैज्ञानिक और प्राकृतिक प्रकृति को संरक्षण प्रदान करने के लिए मनाए जाते हैं। इसी क्रम में हर पर्व पर किसी न किसी पेड़ की पूजा का महत्व है। वट सावित्री व्रत पर बड़ अमावस्या पर बड़ के पेड़ का पूजन करना चाहिए। बड़ का पेड़ लगाकर इसका संरक्षण करना चाहिए। पेड़ हमें ऑक्सीजन प्रदान करते हैं इनकी पूजा करनी चाहिए।

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

117 दिन बाद श्याम सरकार का दीदार हुआ तो छलक आए आंसू

खाटूश्यामजी. कोरोना की दूसरी लहर के चलते 117 दिनों बाद गुरुवार को जैसे ही लखदातार बाबा श्याम का दरबार खुला तो दर्शनों के...
- Advertisement -

मंदिर की भूमि से रास्ता निकालने का प्रयास

सीकर. शहर के राधाकिशनपुरा क्षेत्र में मंदिर माफी की जमीन पर कुछ लोगों ने जबरन रास्ता निकालने का प्रयास किया। जेसीबी से वहां...

एबीवीपी ने शिक्षा मंत्री आवास पर किया प्रदर्शन, पुलिस ने रोका तो रास्ते में दिया धरना

सीकर. आरएएस भर्ती परीक्षा में गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार को शिक्षा राज्य मंत्री व कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह...

VIDEO: सीकर शहर में दिन दहाड़े 10 लाख रुपए की लूट, सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई घटना

सीकर. राजस्थान के सीकर शहर में शुक्रवार को दिनदहाड़े 10 लाख रुपए की लूट हो गई। बावड़ी गेट निवासी व्यापारी अमित पंसारी रुपयों...

Related News

117 दिन बाद श्याम सरकार का दीदार हुआ तो छलक आए आंसू

खाटूश्यामजी. कोरोना की दूसरी लहर के चलते 117 दिनों बाद गुरुवार को जैसे ही लखदातार बाबा श्याम का दरबार खुला तो दर्शनों के...

मंदिर की भूमि से रास्ता निकालने का प्रयास

सीकर. शहर के राधाकिशनपुरा क्षेत्र में मंदिर माफी की जमीन पर कुछ लोगों ने जबरन रास्ता निकालने का प्रयास किया। जेसीबी से वहां...

एबीवीपी ने शिक्षा मंत्री आवास पर किया प्रदर्शन, पुलिस ने रोका तो रास्ते में दिया धरना

सीकर. आरएएस भर्ती परीक्षा में गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार को शिक्षा राज्य मंत्री व कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह...

VIDEO: सीकर शहर में दिन दहाड़े 10 लाख रुपए की लूट, सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई घटना

सीकर. राजस्थान के सीकर शहर में शुक्रवार को दिनदहाड़े 10 लाख रुपए की लूट हो गई। बावड़ी गेट निवासी व्यापारी अमित पंसारी रुपयों...

स्कूल के बच्चे ही अच्छे…कॉलेज विद्यार्थी ऑनलाइन पढ़ाई में भी मारते है बंक

सीकर. कॉलेज विद्यार्थियों के क्लास से बंक मारने की चर्चा खूब होती रही है। लेकिन कोरोनाकाल में भी यह बात सही साबित हुई...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here