- Advertisement -
Home News उत्तर प्रदेश पुलिस ने कांग्रेस के अल्पसंख्यक विभाग के अध्यक्ष को संदिग्ध...

उत्तर प्रदेश पुलिस ने कांग्रेस के अल्पसंख्यक विभाग के अध्यक्ष को संदिग्ध तरीके से उठाया, थाने पहुंचे पार्टी नेता

- Advertisement -
Advertisement

उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अल्पसंख्यक विभाग के चेयरमैन शाहनवाज आलम को राजधानी लखनऊ में उनके घर से यूपी पुलिस ने संदिग्ध तरीके से उठा लिया है. पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हुई है. पुलिस ने अब तक गिरफ़्तारी का कोई कारण नहीं बताया है.
उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में देर शाम पुलिस ने प्रदेश कांग्रेस के अल्पसंख्यक विभाग के अध्यक्ष शाहनवाज आलम को उनके घर से संदिग्ध तरीके से उठा लिया है. पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हुई है. पुलिस ने अब तक गिरफ्तारी का कोई कारण नहीं बताया है. घटना की सूचना मिलते ही प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू और नेता कांग्रेस विधायक दल आराधना मिश्रा मोना हजरतगंज कोतवाली पहुंच गई हैं.
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने घटना को लेकर प्रदेश की योगी सरकार पर करारा हमला किया है. उन्होंने कहा, उत्तर प्रदेश कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के चेयरमैन शाहनवाज आलम को कानून ताक पर रखते हुए संदिग्ध तरीके से पुलिस ने उठाया है. सीसीटीवी फुटेज पुलिस के इस कृत्य को साफ करता है. पुलिस ने अब तक गिरफ़्तारी का कोई कारण नहीं बताया है. सरकार बौखलाई हुई है, मुख्यमंत्री कायरों जैसा बर्ताव कर रहे हैं.

उप्र कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के चेयरमैन शाहनवाज आलम को कानून ताक पर रखते हुए संदिग्ध तरीके से पुलिस ने उठाया है। CCTV फुटेज पुलिस के इस कृत्य को साफ करता है। पुलिस ने अब तक गिरफ़्तारी का कोई कारण नहीं बताया है। सरकार बौखलाई हुईं है,मुख्यमंत्री कायरों जैसा बर्ताव कर रहे हैं। pic.twitter.com/DsqBZ9XBNJ
— Ajay Kumar Lallu (@AjayLalluINC) June 29, 2020

यूपी की योगी सरकार कांग्रेस द्वारा मुख्य विपक्षी पार्टी के रूप में जनता के मुद्दे उठाए जाने से बुरी तरह परेशान है। कुछ दिनों पहले हमारे अध्यक्ष जी पर फर्जी मुकदमे लगाए गए थे और आज यूपी कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के अध्यक्ष शाहनवाज आलम जी को यूपी पुलिस संदिग्ध तरीके से उठाकर ले गई। pic.twitter.com/yGq4xzUKS4
— UP Congress (@INCUttarPradesh) June 29, 2020

इस बीच घटना को लेकर यूपी कांग्रेस ने प्रदेश की योगी सरकार पर हमला किया है. यूपी कांग्रेस ने शहनवाज आलम को उठाए जाने की घटना का सीसीटीवी फुटेज शेयर करते हुए कहा कि यूपी की योगी सरकार कांग्रेस द्वारा मुख्य विपक्षी पार्टी के रूप में जनता के मुद्दे उठाए जाने से बुरी तरह परेशान है. कुछ दिनों पहले हमारे अध्यक्ष जी पर फर्जी मुकदमे लगाए गए थे और आज यूपी कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के अध्यक्ष शाहनवाज आलम जी को यूपी पुलिस संदिग्ध तरीके से उठाकर ले गई.

यूपी कांग्रेस के एक पदाधिकारी ने बताया है कि अभी कुछ देर पहले शाहनवाज आलम को पुलिस ने उठा लिया है. कांग्रेस नेता ने बताया कि उनकी गाड़ी हजरतगंज थाने में खड़ी है, लेकिन कांग्रेस नेताओं के बारे में कोई जानकारी नहीं दी जा रही है. पुलिस ये भी नहीं बता रही है कि कांग्रेस नेता को अगर गिरफ्तार किया गया है, तो क्यों किया गया है. कांग्रेस नेता पुलिस के आला अफसरों से संपर्क करने की कोशिश कर रहे हैं.

गौरतलब है कि कांग्रेस ने देश में पेट्रोल-डीजल के लगातार बढ़ रहे दामों के खिलाफ देशव्यापी विरोध-प्रदर्शन किया था. इसी के तहत पूरे देश के साथ राजधानी लखनऊ समेत पूरे उत्तर प्रदेश में भी कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं ने सड़क पर उतरकर प्रदर्शन किया और बीजेपी सरकार से तेल के बढ़े हुए दाम तत्काल वापस लेने की मांग की. इसको लेकर कई राज्यों में कांग्रेस नेताओं पर एफआईआर भी दर्ज किया गया है. लेकिन उत्तर प्रदेश इकलौता राज्य है, जहां इस तरह संदिग्ध तरीके से कांग्रेस नेता को उठाया गया है.

आपको बताते चलें कि उत्तर प्रदेश के कई कांग्रेस के नेताओं और कार्यकर्ताओं को लॉकडाउन के दौरान जनता की मदद करने के लिए भी गिरफ्तार किया गया था और उन पर तरह-तरह के आरोप लगा दिए गए थे. पिछले कई सालों से देखने को मिल रहा है कि सरकार की नीतियों के खिलाफ अगर कोई अपनी आवाज बुलंद करने की कोशिश करता है तो उसका मुंह बंद कराने की कोशिश की जाती है. मुंह बंद कराने के लिए पुलिस का सहारा लिया जाता है.
इससे पहले नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ आवाज उठाने वालों को भी पुलिस का सहारा लेकर चुप कराने की कोशिश की गई थी. उस समय भी कई लोगों पर राजद्रोह का मुकदमा दर्ज किया गया था, गिरफ्तार भी किया गया था. अभी कुछ दिनों पहले उत्तर प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को भी उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने पुलिस का सहारा लेकर चुप कराने की कोशिश की थी, अजय कुमार लल्लू की गिरफ्तारी हुई थी.
अजय कुमार लल्लू की गिरफ्तारी सिर्फ इस कारण हुई थी कि वह पैदल चल रहे मजदूरों के लिए बस की व्यवस्था करके यूपी बॉर्डर पर खड़े थे और सरकार से मांग कर रहे थे कि उन्हें अनुमति दी जाए, ताकि वह परेशान मजदूरों की मदद कर सके. लेकिन उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने कांग्रेस को इसकी इजाजत नहीं दी थी.
 
The post उत्तर प्रदेश पुलिस ने कांग्रेस के अल्पसंख्यक विभाग के अध्यक्ष को संदिग्ध तरीके से उठाया, थाने पहुंचे पार्टी नेता appeared first on THOUGHT OF NATION.

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

चीन, नेपाल, भूटान के बाद अब ईरान ने दिया भारत को झटका, क्यों फेल हो रही है मोदी सरकार की विदेश नीति

चीन, नेपाल, भूटान और अब इरान! तेहरान ने भारत को एक ज़ोरदार झटका दिया है और यह साफ़ कर दिया है कि भारत की...
- Advertisement -

अशोक गहलोत ने कैसे और क्यों सचिन पायलट को विद्रोह के लिए उकसाया?

राजस्थान में मौजूदा राजनीतिक संकट के लिए कौन जिम्मेदार है जिसने कांग्रेस नीत सरकार की स्थिरता को खतरे में डाल दिया- मुख्यमंत्री अशोक गहलोत...

सीकर में चार नए कोरोना पॉजिटिव मिले, 17 डिस्चार्ज

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में मंगलवार को चार नए कोरोना पॉजिटिव केस मिले। जबकि 17 मरीज स्वस्थ होकर घर अस्पताल से घर...

बगावत से सचिन पायलट ने क्या-क्या खोया?

सीएम पद की चाह अब सचिन पायलट पर इतनी भारी पड़ गई है कि न वो कांग्रेस सरकार के उपमुख्यमंत्री रहे हैं और न...

Related News

चीन, नेपाल, भूटान के बाद अब ईरान ने दिया भारत को झटका, क्यों फेल हो रही है मोदी सरकार की विदेश नीति

चीन, नेपाल, भूटान और अब इरान! तेहरान ने भारत को एक ज़ोरदार झटका दिया है और यह साफ़ कर दिया है कि भारत की...

अशोक गहलोत ने कैसे और क्यों सचिन पायलट को विद्रोह के लिए उकसाया?

राजस्थान में मौजूदा राजनीतिक संकट के लिए कौन जिम्मेदार है जिसने कांग्रेस नीत सरकार की स्थिरता को खतरे में डाल दिया- मुख्यमंत्री अशोक गहलोत...

सीकर में चार नए कोरोना पॉजिटिव मिले, 17 डिस्चार्ज

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में मंगलवार को चार नए कोरोना पॉजिटिव केस मिले। जबकि 17 मरीज स्वस्थ होकर घर अस्पताल से घर...

बगावत से सचिन पायलट ने क्या-क्या खोया?

सीएम पद की चाह अब सचिन पायलट पर इतनी भारी पड़ गई है कि न वो कांग्रेस सरकार के उपमुख्यमंत्री रहे हैं और न...

शिक्षक के वकील बेटे गोविंद सिंह डोटासरा यूं पहुंचे पीसीसी चीफ की कुर्सी तक

सीकर. राजस्थान की सियासत में कई दिनों से चल रही उठापटक के बीच अब उलटफेर हो गया है। बागी हुए सचिन पायलट (sachin...
- Advertisement -