- Advertisement -
Home News मोतीसागर बांध में चल रही आधा फीट चादर, बांध पर नहीं है...

मोतीसागर बांध में चल रही आधा फीट चादर, बांध पर नहीं है सैलानियों की सुरक्षा का प्रबंध

- Advertisement -

दूनी. जिले के दुसरे बड़े मोतीसागर बांध में तीन सालों बाद शुक्रवार से चली चादर के बाद शाम से ही जिला सहित बाहर के सैलानियों की चहलकदमी बढ़ गई है। शनिवार को चल रही चादर का मनमोहक नजारा देखने व चादर में नहाने को लेकर सैकड़ों सैलानी बांध पर चहलकदमी करते दिखाई दिए।
read more: Weather Alert: बारिश नहीं अब उमस करेगी परेशान, जानिए आने वाले दिनों में मौसम का हाल!
 
बीसलपुर परियोजना के अधीन आने वाले मोतीसागर बांध पर सैलानियों की सुरक्षा को लेकर कोई पुख्ता प्रबंध नहीं किए जाने से उन्हें खतरा भी बना हुआ है। उल्लेखनीय है की बीसलपुर के बाद जिले का दुसरा पिकनिक स्पॉट कहे जाने वाले सतरह फीट भराव क्षमता वाले मोतीसागर बांध में शुक्रवार चादर चलने के बाद से ही सैलानियों की आवक बढऩे लगी है।
 
लोग शाम से ही बांध का मनोहारी दृश्य देखने व चल रही चादर में नहाने का लुत्फ लेने के लिए उमड़ रहे है, शनिवार सुबह से तो बांध सैलानियों का जमघट लगा रहा जो देर शाम तक चलता रहा। टोंक सहित आस-पापस के जिले के महिला, पुरूष व युवा बांध पर पिकनिक मनाने आ रहे है।
read more:शराबियों और समाज कंटकों से मिलेगी मुक्ति, बालिका स्कूल की बनाई चारदीवारी
यहां बांध का मनोहारी दृश्य देखने के साथ ही नहाने का लुत्फ लेकर चल रही चादर में सैल्फी लेने से नहीं चुक रहे है। ग्रामीण धनराज मीणा, वार्डपंच लालाराम सैनी, भागचंद मीणा, कुलदीप मीणा सहित अन्य लोगों ने बताया की मोतीसागर बांध में 2016 में चादर चली उसके 2017-18 में बारिश कम होने से बांध भर नहीं पाया ओर सैलानियों को दो साल तक निराश होना पड़ा, लेकिन इस बार चादर चलने से ग्रामीणों में भी खुशी की लहर है।उन्होंने बताया की बांध भरने के बाद उनकी हजारों बीगा खेतों में सिचाई तो होती है साथ ही कुए सहित अन्य स्रोतों का जलस्तर बढ़ता है।
 
read more: heavy rain alert : झमाझम बारिश की चेतावनी के बीच सूरज खेल रहा आंख मिचौली
पांच इंच से बढ़ आधा फीट हुई चादरसतरह फीट भराव क्षमता वाले मोतीसागर बांध शुक्रवार को पूर्णतया भरकर छलक गया ओर उसमें पांच इंच की चादर चलने लगी, वही लगातार दो दिनों से क्षेत्र में हो रही मुसलाधार बारिश के बाद शनिवार सुबह से बांध में आधा फीट की चादर चलने लगी है। वही क्षेत्र में हो रही बारिश के चलते चादर ओर अधिक बढऩे की संभावना है। चादर चलने के बाद मोतीसागर बांध से बाहर निकल रहा पानी नदी नालों से होकर लगातार बनास नदी की ओर बढ़ रहा है, इससे नदी में भी पानी बढऩे लगा है।
 
सैलानियों की सुरक्षा के नहीं है प्रबंधमोतीसागर बांध में चादर चलने के बाद शुक्रवार से ही सैकड़ों की संख्या में सैलानी यहा आकर बांध के भराव क्षेत्र के बुर्ज व चल रही चादर के नीचे नहाने व सैल्फी लेकर मोज-मस्ती कर रहे है, ऐसे में लापरवाही के चलते कियी भी समय हादसा होने का खतरा बना हुआ है मगर चादर चलने के दो दिन बाद भी पुलिस एवं प्रशासन ने यहा की सुध नहीं ली।
 
गौरतलब है की गत वर्ष चादर नहीं चलने के बावजूद बुर्ज से गिरकर गंगापुर सिटी निवासी युवक की मौत हो चुकी है। ग्रामीणों ने बताया की सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध नहीं होने से बाहर से आने वाले सैलानियों को लेकर भय बना हुआ है।
 
उन्होंने बताया की बांध पर हजारों सैलानी शनिवार व रविवार को आते है। आने वाले सैलानी प्रसिद्ध गंगेश्वर महादेव के दर्शन भी करने जाते है। घाड़ थानाप्रभारी घीसालाल राव ने बताया की रविवार से पुलिस जाप्ता सैलानियों की सुरक्षा को लेकर लगाया जाएगा।

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

राजस्थान के किसानों ने केंद्र को सुनाई खरी-खरी

केंद्र सरकार ने 6 रबी फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य में बढ़ोतरी की है, लेकिन कई किसान संगठन इससे ज्यादा खुश नहीं हैं. किसान महापंचायत...
- Advertisement -

स्वास्थ्य विभाग ने छुपाई कोरोना से मौतें!, 65 पॉजिटिव मिले

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में कोरोना पॉजिटिव केस के साथ मौत का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। जिले में बुधवार को भी...

स्वास्थ्य विभाग ने छुपाई कोरोना से मौतें!, 65 पॉजिटिव मिले

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में कोरोना पॉजिटिव केस के साथ मौत का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। जिले में बुधवार को भी...

वह बाहुबली जिसके पीछे हाथ धोकर पड़ी रही यूपी-बिहार की पुलिस, BJP के टिकट से होना चाहते हैं ‘पवित्र’

बाहुबलियों की राजनीति, गुनाहों की गलियों से निकले उन सियासतदानों का सच है जिनके दामन पर यूं तो गुनाहों के दाग हैं, लेकिन सियासत...

Related News

राजस्थान के किसानों ने केंद्र को सुनाई खरी-खरी

केंद्र सरकार ने 6 रबी फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य में बढ़ोतरी की है, लेकिन कई किसान संगठन इससे ज्यादा खुश नहीं हैं. किसान महापंचायत...

स्वास्थ्य विभाग ने छुपाई कोरोना से मौतें!, 65 पॉजिटिव मिले

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में कोरोना पॉजिटिव केस के साथ मौत का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। जिले में बुधवार को भी...

स्वास्थ्य विभाग ने छुपाई कोरोना से मौतें!, 65 पॉजिटिव मिले

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में कोरोना पॉजिटिव केस के साथ मौत का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। जिले में बुधवार को भी...

वह बाहुबली जिसके पीछे हाथ धोकर पड़ी रही यूपी-बिहार की पुलिस, BJP के टिकट से होना चाहते हैं ‘पवित्र’

बाहुबलियों की राजनीति, गुनाहों की गलियों से निकले उन सियासतदानों का सच है जिनके दामन पर यूं तो गुनाहों के दाग हैं, लेकिन सियासत...

राजस्थान में यहां मनरेगा की खुदाई में मिले हड़प्पाकालीन संस्कृति के अवशेष

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले के बिंज्यासी गांव में मनरेगा की खुदाई में मिले आभूषण हडप्पाकालीन संस्कृति के है। पुरातत्व विभाग की जांच...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here