- Advertisement -
HomeNewsजम्मू कश्मीर में खुलेंगे विकास के द्वार- जसकौर

जम्मू कश्मीर में खुलेंगे विकास के द्वार- जसकौर

- Advertisement -

लालसोट. शहर केेे श्यामपुरा कलां रोड पर स्थित लकड़ी चिराई संघ कार्यालय पर भारतीय जनता पार्टी कार्यकर्ताओं की बैठक हुई। इसमें सांसद जसकौर मीना ने देश की मोदी सरकार द्वारा जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने को एक ऐतिहासिक निर्णय बताया है। प्रधानमंत्री ने देश की जनता का वर्षों पुराना सपना साकार कर जम्मू कश्मीर के लोगोंंं को बड़ी सौगात दी है। उन्होंने कहा कि यह धारा हटने से जम्मू कश्मीर में विकास के द्वार खुलेंगे।
The doors of development will open in Jammu and Kashmir -Jaskaur
 
 
उन्होंने भाजपा कार्यकर्ताओं से सदस्यता अभियान में भी सक्रियता से भाग लेने व पंचायत चुनावों की तैयारियों पर जोर दिया। उन्होंने कि प्रधानमंत्री के निर्देश पर सांसदों द्वारा अपने क्षेत्र में 150 किमी की पदयात्रा निकालने के निर्देश दिए है,जिसकेे तहत वे भी संसदीय क्षेत्र में लोगों में संपर्क करेंगी। भाजपा नेता रामबिलाश मीना ने कहा कि देश की मोदी सरकार ने अपने निर्णयों से पूरे विश्व में भारत का मान सम्मान बढाया है,जिससे देश का प्रत्येक नागरिक खुश है।
 
 
बैठक को रामकरण चौपडय़ा, पूर्व मण्डल अध्यक्ष रवि हाड़ा, ओमप्रकाश सूरतपुरा, रामजीलाल डोई, पालिका अध्यक्ष जगदीश सैनी, ओमप्रकाश डिडवाना, कन्हैयालाल मीना, श्रीनारायण नयावास समेत कई जनों ने संबोधित किया। बैठक में रंगलाल मीना,दिनेश जोशी,मुरारी जमात, राजेंद्र स्वामी, मदनलाल हट्टीका, रामचरण बोहरा, जगदम्बा बोहरा, पार्षद शानू शर्मा, विजय गुर्जर, सुरेश प्रजापत, बृजमोहन सैनी, रामोतार नीमड़ी, शम्भू कुईवाला, जौहरीलाल पहाडिय़ा, राकेश समोत्या, महेंद्र गुप्ता, सुवालाल गुर्जर, रामखिलाड़ी मीना, जगदीश सिंह भयपुर, करतार सिंह, कैलाश जागा, प्रेम सिंह गोल्या, कमलेश बंजारा,अभिनव त्रिपाठी, विनोद सोनी,संजय कोरका, मीठालाल सैनी, श्याम मीरवाल, जगमोहन मालिया, पप्पूलाल मीना आदि मौजूद थे।(नि.प्र.)
The doors of development will open in Jammu and Kashmir -Jaskaur
 
ग्रामीणों ने सांसद को सौंपा ज्ञापन
दौसा. मानपुरथाना इलाके के नांगल लोटवाड़ा के ग्रामीणों ने रविवार को सांसद जसकौर मीना एवं राÓयसभा सांसद डॉ. किरोड़ीलाल मीना को ज्ञापन सौंप कर ग्राम सेवा सहकारी समिति लोटवाड़ा रमेश चन्द शर्मा, सहासक व्यवस्थापक एवं चर्तुथ श्रेणी कर्मचारी द्वारा किसानों के खिलाफ झूंठे मुकदमें दर्ज कराने का आरोप लगाया है। ग्रामीणों ने बताया कि जबकि इन तीनों के खिलाफ किसानों ने भ्रष्टाचार का मामला दर्ज करा रखा है। इसके बाद इन्होंने पचास- साठ किसानों के खिलाफ झूठा मामला दर्ज करा दिया। ग्रामीणों ने व्यवस्थापक, सह व्यवस्थापक एवं चर्तुथ श्रेणी कर्मचारी को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की मांग को लेकर राÓयसभा सांसद एवं लोकसभा सांसद को ज्ञापन सौंपा।

- Advertisement -
- Advertisement -
Stay Connected
16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe
Must Read
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -