- Advertisement -
Home News student union election: नेता भाग रहे टिकट के लिए, जोड़-बाकी का खेल

student union election: नेता भाग रहे टिकट के लिए, जोड़-बाकी का खेल

- Advertisement -

अजमेर.
भावी नेता (student leaders) और छात्र संगठन (student unions) पदाधिकारियों की सक्रियता बढ़ी हुई है। जहां छात्र-छात्राएं टिकट के लिए (chatr sangh chunav) भागदौड़ कर रहे हैं। वहीं छात्र संगठन पदाधिकारी बैठक-रणनीति बनाने में व्यस्त हैं। फिलहाल अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (abvp) ने राजकीय कन्या महाविद्यालय और दयानंद कॉलेज में अध्यक्ष प्रत्याशी घोषित किए हैं। एनएसयूआई (nsui) ने अपने पत्ते नहीं खोले हैं। निर्दलीय (independent) भी ताल ठोकने की तैयारी में है। इनमें जाट, मीणा एवं अन्य छात्र संगठनों से जुड़े विद्यार्थी शामिल हैं।
विद्यार्थी परिषद ने राजकीय कन्या महाविद्यालय और दयानंद कॉलेज में अध्यक्षपद प्रत्याशी घोषित किया है। लेकिन परिषद सहित एनएसयूआई की नजरें सर्वाधिक विद्यार्थियों वाले सम्राट पृथ्वीराज चौहान राजकीय महाविद्यालय (spc-gca) और महर्षि दयानंद सरस्वती विश्वविद्यालय (mdsu ajmer) पर ज्यादा टिकी है। एसपीसी-जीसीए में नरेश जाट, दिनेश चौधरी, अकबर काठात, मोहित सैनी, आशीष भारद्वाज और अन्य दावेदारों के नाम सामने आ रहे हैं। मदस विश्वविद्यालय में शुभम चौधरी, दिनेश चौधरी, रामेश्वर छाबा और अन्य ताल ठोकने के मूड में है। दयानंद कॉलेज में विक्रम सिंह, प्रदीप और लॉ कॉलेज में अमित और अन्य टिकट (election ticket) पाने की जुगत में है।
read more: अजमेर दरगाह के इस खादिम ने दिया ऐसा बयान, वीडियो वायरल
नेताओं की बैठकों का दौरचुनाव प्रत्याशी चुनने के लिए एनएसयूआई (nsui) और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (abvp) के पदाधिकारी बैठक-रणनीति बनाने में व्यस्त हैं। कांग्रेस (congress) और भाजपा (bjp) के विधायक और नेताओं सहित मंत्री (ministers) भी सक्रिय हो गए हैं। एनएसयूआई ने चुनावी पत्ते अब तक नहीं खोले हैं। संगठन ने किसी भी संस्थाओं (institutes) में प्रत्याशी (candidates) घोषित नहीं किए हैं। उसकी सर्वाधिक निगाह विश्वविद्यालय और जीसीए पर है। उधर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के पदाधिकारी भी रणनीति (strategy) के तहत कदम उठा रहे हैं। परिषद की निगाहें भी इन दो संस्थानों पर टिकी हैं।
read more: Heavy rain in ajmer: अजमेर के पानी से मारवाड़ को मिला जीवनदान
पिछले साल का हाल
साल 2018 के छात्रसंघ चुनाव (student union election) में सम्राट पृथ्वीराज चौहान राजकीय महाविद्यालय से निर्दलीय अब्दुल फरहान खान जीते थे। वे बाद में एनएसयूआई में शामिल हो गए थे। संस्कृत कॉलेज में भी एनएसयूआई के कालूराम गुर्जर ने अध्यक्ष (president) पद जीता था। महर्षि दयानंद सरस्वती विश्वविद्यालय में एबीवीपी के लोकेश गोदारा ने जीते थे। यहां पांच साल बाद विद्यार्थी परिषद को अध्यक्ष पद मिला पाया था। इसके अलावाविद्यार्थी परिषद ने राजकीय कन्या महाविद्यालय, संस्कृत कॉलेज में अध्यक्ष पद जीता था।
read more: student election: स्टूडेंट इलेक्शन काउंटडाउन, जुटे आईकार्ड बनाने में

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

किसान बिलों के खिलाफ किसान सभा ने हर ब्लॉक में जताया आक्रोश

सीकर. केन्द्र सरकार द्वारा किसानों को लेकर पास किए गए तीन बिलों के विरोध में शुक्रवार को अखिल भारतीय किसान सभा की ओर...
- Advertisement -

कविता: रिश्ते

रिश्ते बनाये नहीं जातेबस सिर्फ और सिर्फ निभाये जाते हैंहर रिश्ते की एक अलग इम्तिहानहोती हैजिन्दा रखने के लिए उसकी एकपहचान होती हैइन्सान...

मौजूदा समय के सबसे बड़े चुनाव का ऐलान

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा है कि कोरोना के दौर में ये पहला चुनाव होगा. हमारे लिए लोगों...

सावधान! एयरपोर्ट व शिक्षक से लेकर वर्क फ्रॉम होम तक के नाम से हो रही है ठगी

सीकर. कोरोनाकाल में बेरोजगार हुए युवाओं के नौकरी के अरमानों से अब प्रदेशभर में ठगी का बड़ा खेल शुरू हो गया है। एयरपोर्ट...

Related News

किसान बिलों के खिलाफ किसान सभा ने हर ब्लॉक में जताया आक्रोश

सीकर. केन्द्र सरकार द्वारा किसानों को लेकर पास किए गए तीन बिलों के विरोध में शुक्रवार को अखिल भारतीय किसान सभा की ओर...

कविता: रिश्ते

रिश्ते बनाये नहीं जातेबस सिर्फ और सिर्फ निभाये जाते हैंहर रिश्ते की एक अलग इम्तिहानहोती हैजिन्दा रखने के लिए उसकी एकपहचान होती हैइन्सान...

मौजूदा समय के सबसे बड़े चुनाव का ऐलान

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा है कि कोरोना के दौर में ये पहला चुनाव होगा. हमारे लिए लोगों...

सावधान! एयरपोर्ट व शिक्षक से लेकर वर्क फ्रॉम होम तक के नाम से हो रही है ठगी

सीकर. कोरोनाकाल में बेरोजगार हुए युवाओं के नौकरी के अरमानों से अब प्रदेशभर में ठगी का बड़ा खेल शुरू हो गया है। एयरपोर्ट...

डैमेज कंट्रोल के लिए कमलनाथ का प्लान रेडी

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने चुनाव प्रचार और प्रबंधन के बाद समन्वय की कमान भी अपने हाथों में ले ली है. उम्मीदवारों की पहली सूची...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here