- Advertisement -
HomeNewsन्यूज़ नेशन चैनल के लिए एनबीडीसए की शर्मिंदा करने वाली टिप्पणी

न्यूज़ नेशन चैनल के लिए एनबीडीसए की शर्मिंदा करने वाली टिप्पणी

- Advertisement -

दीपक चौरसिया (Deepak Chaurasia) जिस न्यूज़ चैनल पर काम करते हैं, उस न्यूज़ नेशन (News nation) के लिए न्यूज़ ब्रॉडकास्टिंग और डिजिटल स्टैंडर्ड अथॉरिटी (NDBSA) ने कहा है कि, ब्रॉडकास्टर्स को प्रसारण के दौरान निष्पक्ष रहने में विफल एंकरो के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए. यह फैसला ‘सिटीजंस फॉर जस्टिस और पीस’ द्वारा की गई शिकायत पर दिया गया है.
एनबीडीसए ने कार्रवाई करने के अलावा यह भी कहा है कि एंकरों को कार्यक्रम आयोजित करने को लेकर प्रशिक्षण दिया जाना चाहिए. हालांकि चैनल ने बिना शर्त माफी मांगी है. एनबीडीएस ने न्यूज़ नेशन को भविष्य में सावधान रहने की चेतावनी दी है और वेबसाइट यूट्यूब और अन्य सभी प्लेटफार्म से सोकर लिंक हटाने के लिए कहा है. साथ ही इसकी पुष्टि 7 दिनों के भीतर लिखित में मांगी है.
एनबीडीसए ने आगे कहा है कि एंकर दीपक चौरसिया द्वारा शो में दिए गए बयान और कैप्शन “मेमचंद जिंदा है जमात शर्मिंदा है”, 500 हिंदू कैसे बने मुस्लिम? और “क्या मेवात पाकिस्तान बन गया?” यह रिपोर्टिंग नियमों के सिद्धांतों और दिशानिर्देशों का उल्लंघन है.
जिस एनजीओ ने शिकायत की थी उसके द्वारा कहा गया है कि, न्यूज़ नेशन के एंकर दीपक चौरसिया ने मौलाना सैयद उल कादरी को अपने शो में बुलाकर उन्हें पूरे मुस्लिम समुदाय की ओर से माफी मांगने के लिए मजबूर किया और उनका ऑन एयर अपमान किया और उन्हें झूठ की फैक्ट्री कहा.
आपको बता दें कि इससे पहले जी न्यूज़ को भी एनबीडीसए ने किसान आंदोलन से संबंधित दो वीडियो हटाने को कहा था.
इसके अलावा हम आपको बता दें कि चाहे जी न्यूज़ हो या फिर न्यूज़ नेशन इस पर वही मुद्दे दिखाए जाते हैं जिससे समाज में ध्रुवीकरण हो जिसका सीधा फायदा बीजेपी को हो देश की अधिकतर जनता इस बात पर यकीन कर रही है कि न्यूज़ मीडिया के माध्यम से देश की जनता को बांटने का काम हो रहा है और एक समुदाय विशेष को निशाना बनाकर एक समुदाय विशेष को इकट्ठा करने की अपील करके बीजेपी को फायदा पहुंचाया जा रहा है.
बात अगर दीपक चौरसिया की करें तो वह अपने कार्यक्रमों के जरिए लगातार हिंदू-मुस्लिम जैसे मुद्दों पर चर्चा करा के एक समुदाय विशेष के खिलाफ माहौल तैयार करने की कोशिश करते रहते हैं इसके अलावा जो भी सरकार के विरुद्ध आवाज उठाता है उसको अपने कार्यक्रमों के माध्यम से अपमानित करने की कोशिश करते रहते हैं किसानों के साथ भी दीपक चौरसिया ने कई बार ऐसा ही किया है.
इसके अलावा बात अगर दीपक चौरसिया के सोशल मीडिया अकाउंट की की जाए तो वह लगातार हिंदू-मुसलमान पर पोस्ट करते रहते हैं, पाकिस्तान के मुद्दों पर पोस्ट करते रहते हैं. सरकार से अगर कोई सवाल करने की बारी आती है तो दीपक चौरसिया जनता के मुद्दों पर सरकार से सवाल पूछते हुए दिखाई नहीं देते हैं. दीपक चौरसिया के सोशल मीडिया को चेक किया जाए या फिर उनके कार्यक्रमों को देखा जाए वह सीधा बीजेपी से सवाल पूछते हुए कभी नजर नहीं आते.
The post न्यूज़ नेशन चैनल के लिए एनबीडीसए की शर्मिंदा करने वाली टिप्पणी appeared first on THOUGHT OF NATION.

Advertisement
Advertisement

- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

- Advertisement -

Related News

- Advertisement -