- Advertisement -
HomeRajasthan NewsSikar newsकागजों में सीमटा खाटूनगरी का सीवरेज प्लान

कागजों में सीमटा खाटूनगरी का सीवरेज प्लान

- Advertisement -

सीकर/खाटूश्यामजी. प्रसिद्ध धार्मिक नगरी खाटूधाम पंचायत से नगरपालिका तो बन गई, लेकिन गंदे पानी के भराव की मुख्य समस्या को लेकर सीवरेज बनाने का प्लान तीन साल से बैठकों और कोरे आश्वासनों में ही सिमट हुआ है। बतादें कि तत्कालीन मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने खाटूधाम को नगरपालिका का तोहफा दिया। 29 अप्रेल 2018 को तत्कालीन कलक्टर नरेश ठकराल ने मंदिर समिति, अधिकारियों और स्वच्छ एन्वायरमेंट कंपनी दिल्ली की संस्था के साथ बैठक कर ठोस कचरा निस्तारण व सीवरेज के लिए खाटूधाम का सर्वे करवाया। कलक्टर ने कृष्णा सर्किट योजना के तहत तीन माह में डीपीआर प्लान तैयार करने का आश्वासन दिया भी दिया। नगरपालिका बनने के बाद भी यह मुद्दा बैठकों में प्रमुखता से छाया रहा। सीवरेज का प्लान तो धरातल पर उतर नही ं पाया लेकिन पिछले साल नगर पालिका ने कई वार्डों में गंदे पानी के भराव व नालियों के अभाव में प्लान तैयार कर करीब 1.5 करोड़ की लागत से तीन चरणों में नाला निर्माण का प्रस्ताव पास होने पर पीडब्ल्यूडी मोड़ से लाला मांगीराम धर्मशाला के पास तक एक चरण का काम शुरू हुआ ही था कि कुछ पार्षदों ने इस काम में खामियां बताते हुए काम को रुकवा दिया था। आगे के दो चरणों का काम अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों की उदासीनता के चलते ठंडे बस्ते में चला गया, जिसका खामियाजा 10 वार्डों की जनता को झेलना पड़ रहा है। गौरतलब है कि अनेक धर्मशालाओं ने अपने गटर की लाइन-नालियों में जोड़ रखी है। इससे कई रास्तों व वार्डों में दुर्गन्ध से स्थानीय लोगों समेत श्रद्धालु भी परेशान हो रहे हैं।———————-सीवरेज नहीं होने से धर्मशाला आदि द्वारा जमीन में छोड़े जा रहे गटर के पानी से पीने का पानी भी दूषित हो रहा है। जिसका खामियाजा जनता के साथ श्रद्धालुओं को भी उठाना पड़ रहा है। मैंने तो सीवरेज की मांग करते हुए समय समय पर मंत्रियों व अधिकारियों यहां तक की पार्षद बनने के बाद पालिका की बैठकों में भी मुद्दा उठाया है।प्रताप सिंह चौहान (पार्षद व ट्रस्टी श्री श्याम मंदिर कमेटी, खाटूश्यामजी)———————-सीवरेज नहीं होने से श्याम नगरी के अनेको वार्ड गंदे पानी के भराव की समस्या से जूझ रहे है। गंदगी के चलते आमजन के स्वास्थ्य पर भी बुरा असर पड़ रहा है। नगरपालिका प्रशासन और सभी पार्षदों को एकमत होकर राज्य सरकार से सीवरेज की मांग पूरजोर तरीके से उठानी चाहिए।पवन पुजारी (भाजपा नेता, खाटूश्यामजी)
खाटू में दो सौ से भी अधिक संख्या में धर्मशालाएं है। वहीं दर्जनों होटल व गेस्ट हाउस है। जिनकों हर माह गटर खाली करवाने के हजारों रूपए चुकाने पड़ते है। सीवरेज बने तो सभी की समस्या का समाधान हो सकता है।मुरारीलाल तोदी (निदेशक-श्री श्याम तोदी भवन खाटूश्यामजी)————————–जनप्रतिनिधियों व अधिकारी का वर्जनश्याम नगरी में सीवरेज बनवाने को लेकर मैं शीघ्र ही मुख्यमंत्री और विधानसभा में मांग करूंगा।वीरेन्द्र सिंह (विधायक, दांतारामगढ)—————————–गंदे पानी के भराव की समस्या से निजात के लिए नाला निर्माण कार्य शुरू करवाया। उस काम को आगे नहीं होने दिया। नाला निर्माण का कार्य फिर से शुरू करने के लिए कई बार अधिशाषी अधिकारी और विभाग को पत्र लिखकर अवगत करवा चूकि हूं। अधिकारी द्वारा बार बार टेंडर निरस्त होने से परेशानी हो रही है।ममता देवी (अध्यक्ष नगरपालिका खाटूश्यामजी)—————————-यह काम राज्य सरकार का है। अगर वह इस प्रोजेक्ट को मंजूरी देती है तो हम शीघ्र ही इसपर काम शुरू कर देंगे।विशाल कुमार यादव (अधिशासी अधिकारी, पालिका खाटूश्यामजी)

- Advertisement -
- Advertisement -
Stay Connected
16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe
Must Read
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -