- Advertisement -
Home Rajasthan News Sikar news अपडेट: हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से झुलसा युवक, छह घंटे...

अपडेट: हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से झुलसा युवक, छह घंटे बाद शांत हुआ विरोध प्रदर्शन

- Advertisement -

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले के नीमकाथाना में बीती रात हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से एक युवक की मौत हो गई। घटना के बाद बिजली विभाग के अधिकारियों को दोषी बताते हुए कस्बेवासियों ने बवाल कर दिया। परिजनों के साथ काफी संख्या में लोग सुबह ही सरकारी कपिल अस्पताल पहुंच गए। जहां परिजन और कस्बेवासी उचित मुआवजे, बिजली निगम के दोषी कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई और मोतीबाग से हाईटेंशन लाइन हटाने की मांग को लेकर धरने पर बैठ गए। काफी देर की नारेबाजी और गहमागहमी के बाद एसडीएम साधुराम मौके पर पहुंचे और प्रदर्शनकारियों से वार्ता की। जिसमें प्रदर्शनकारी पांच लाख रुपए के मुआवजे तथा बाकी मांग पूरी होने के आश्वासन पर समझौते को तैयार हुए। गौरतलब है कि मृतक झुंझुनूं का खेतड़ी निवासी 28 वर्षीय सूबेसिंह था। जो पेशे से मजदूर था। रात को मोतीबाग इलाके में वह छत के ऊपर से गुजर रही 11 हजार केवी लाइन की जद में आने से झुलस गया। घटना के बाद परिजन उसे लेकर तुरंत सरकारी अस्पताल पहुंचे, लेकिन तब तक वह दम तोड़ चुका था। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मौका मुआयने के साथ शव को पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी में रखवाया। लेकिन, आक्रोशित परिजनों ने पोस्टमार्टम से इन्कार कर दिया। परिजन तीन मांग पूरी होने पर ही शव लेने की बात पर अड़ गए ।
कार्रवाई व मुआवजे की मांगसरकारी अस्पताल में न्याय की मांग को लेकर मृतक के परिजनों के पक्ष में कई दलों व संगठनों के कार्यकर्ता भी उतर आए थे। जो हाईटेंशन लाइन हटाने के साथ बिजली विभाग के दोषी कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई और पीडि़त परिवार को उचित मुआवजा देने की मांग कर रहे हैं। प्रदर्शनकारियों का कहना था कि हादसा बिजली विभाग के अधिकारियों की लापरवाही से हुआ है। जिन्होंने बार बार की गुहार के बाद भी आबादी इलाके से हाईटेंशन लाइन को नहीं हटवाया। ऐसे में घटना के पूरे दोषी वे अधिकारी ही हैं। अपनी मांग को लेकर प्रदर्शनकारियों ने जमकर नारे भी लगाए। इस दौरान पाटन प्रधान संतोष गुर्जर, सांवलराम यादव, राजेश बहेड़ा सहित काफी संख्या में लोग मौजूद रहे।
बहनोई के घर रहता था मृतकजानकारी के अनुसार मृतक सूबेसिंह झुंझुनूं के खेतड़ी तहसील का निवासी है। जो नीमकाथाना में मोतीबाग में अपने बहनोई के यहां रहता था। वह पेशे से मजदूर था। मंगलवार रात को करीब आठ बजे वह छत पर किसी काम से गया था। इसी दौरान वह छत के ऊपर से गुजर रही 11 हजारा केवी लाइन की चपेट में आ गया। हादसे में वह बुरी तरह झुलस गया था। जिसे अस्पताल ले जाते ही चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। मृतक शादीशुदा व एक बच्चे का पिता बताया जा रहा है।
मांग मानने पर ही उठेगा शवप्रदर्शनकारी अपनी मांग पर सुबह से अड़े हैं। इस बीच पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी उन्हें समझाने में जुटे हैं। लेकिन, वे अपनी मांग पूरी होने पर ही शव का पोस्टमार्टम करवाकर शव लेने की बात कह रहे हैं। ऐसे में मौके पर गहमागहमी का माहौल बना हुआ है।

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

दिल्ली की घेराबंदी करने की तयारी में किसान

दिल्ली-हरियाणा सीमा यानी सिंघु और टीकरी बॉर्डर पर किसान प्रदर्शन जारी है. रविवार को किसान संगठनों ने मीटिंग की. इसके बाद किसानों ने बुराड़ी...
- Advertisement -

हाईटेंशन लाइन छूने पर दादा की मौत, पोता गंभीर

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले के कूदन गांव के एक खेत में सिंचाई के पाइप बदलते समय दादा- पोते करंट की चपेट में...

क्या है GHMC का समीकरण, जिसके लिए BJP ने लगा दी है जान

ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव (GHMC) के रास्ते बीजेपी को तेलंगाना के भीतरी इलाकों में ज्यादा सियासी आधार बढ़ाने का मौका नजर आ रहा...

नक्सली हमले का शिकार हुआ शेखावाटी का जवान

सीकर. छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में बीती रात नक्सली हमले में असिस्टेंट कमांडेंट नितिन शहीद हो गए। जबकि केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के...

Related News

दिल्ली की घेराबंदी करने की तयारी में किसान

दिल्ली-हरियाणा सीमा यानी सिंघु और टीकरी बॉर्डर पर किसान प्रदर्शन जारी है. रविवार को किसान संगठनों ने मीटिंग की. इसके बाद किसानों ने बुराड़ी...

हाईटेंशन लाइन छूने पर दादा की मौत, पोता गंभीर

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले के कूदन गांव के एक खेत में सिंचाई के पाइप बदलते समय दादा- पोते करंट की चपेट में...

क्या है GHMC का समीकरण, जिसके लिए BJP ने लगा दी है जान

ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव (GHMC) के रास्ते बीजेपी को तेलंगाना के भीतरी इलाकों में ज्यादा सियासी आधार बढ़ाने का मौका नजर आ रहा...

नक्सली हमले का शिकार हुआ शेखावाटी का जवान

सीकर. छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में बीती रात नक्सली हमले में असिस्टेंट कमांडेंट नितिन शहीद हो गए। जबकि केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के...

किसानों ने अमित शाह का प्रस्ताव ठुकराया, कहीं यह बात

कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों के धरने का आज चौथा दिन है. किसान दिल्ली की सीमा पर 26 नवंबर से प्रदर्शन...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here