- Advertisement -
HomeNewsरणदीप सुरजेवाला के PM मोदी से कुछ चुभते सवाल

रणदीप सुरजेवाला के PM मोदी से कुछ चुभते सवाल

- Advertisement -

जिस मुद्दे पर पहले सरकारें हिल जाया करती थी, पूरा देश आक्रोशित हो जाया करता था, आज वह मुद्दा मौजूदा सरकार के लिए कोई मायने ही नहीं रखता है, ऐसा मोदी सरकार के रवैया से लग रहा है. पेट्रोल डीजल और गैस के दामों में बेतहाशा वृद्धि हो रही है. जनता त्राहि-त्राहि कर रही है.
कई राज्यों में पेट्रोल की कीमत ₹100 को क्रॉस कर चुकी है. तो वहीं डीजल की कीमतें भी लगभग ₹80 या फिर उससे ऊपर हो चुकी है कई राज्यों में. भाजपा सरकार के मंत्रियों से लेकर खुद प्रधानमंत्री तक इस मुद्दे पर खामोशी अख्तियार किए हुए हैं. मीडिया भी दर्शक बना हुआ है जनता पूरी तरह लाचार है.
पेट्रोल डीजल की बढ़ी हुई कीमतों को लेकर मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस सरकार पर हमलावर है. राहुल गांधी से लेकर तमाम कांग्रेसी नेता सरकार से अपील कर रहे हैं कि, वह कच्चे तेल की जो अंतरराष्ट्रीय कीमतें हैं उसके आधार पर लगभग ₹35 से ₹40 के बीच जनता को उपलब्ध कराएं.
इसी को लेकर सुरजेवाला ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की है और एक के बाद एक कई ट्वीट किए हैं. उन्होंने ने लिखा है कि शर्मनाक बात यह है कि पेट्रोल-डीजल पर टैक्स पर टैक्स लगाकर खुली लूट करने के बावजूद प्रधानमंत्री माननीय श्री नरेन्द्र मोदी जी इसका आरोप भी कांग्रेस पार्टी पर मढ़ कर अपना पिंड छुड़वाना चाहते हैं! आइए, 21,50,00,000 करोड़ की लूट की सच्चाई जानें.
रणदीप सुरजेवाला ने प्रधानमंत्री के बयान पर सवाल उठाते हुए तीखा हमला किया है. उन्होंने अपने अगले ट्वीट में कहा है कि, मई 2014 से आज, जनवरी 2021 तक की मोदी सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर टैक्स लगाकर जनता की जेब से 21 लाख, 50 हजार करोड़ (21,50,00,000 करोड़) कमाए हैं! ये पैसा कहाँ गया?
अपने अगले ट्वीट में रणदीप सुरजेवाला ने लिखा है कि, आज यानि 19 फरवरी, 2021 के कच्चे तेल की कीमत के आधार पर देश में पेट्रोल की कीमत ₹32.72 व डीजल की कीमत ₹33.46 होनी चाहिए. मोदी सरकार ₹32/लीटर पेट्रोल को ₹90/लीटर में क्यों बेच रही है? मोदी सरकार ₹34/लीटर डीजल को ₹80/लीटर में क्यों बेच रही है?
अपने अगले ट्वीट में सुरजेवाला ने लिखा है कि मोदी जी कहते है पिछली सरकारों ने कच्चे तेल का घरेलू उत्पादन नहीं किया पर आंकड़े कहते है उनकी कंपनियों के- घरेलू कच्चे तेल का उत्पादन BJP सरकार में सालाना 53,66,000 मीट्रिक टन गिरा साल 2020 में घरेलू कच्चे तेल का उत्पादन पिछले 18 साल में सबसे कम है क्या मोदी जी जवाब देंगे?
सुरजेवाला ने आगे लिखा है कि, प्रधानमंत्री मोदी जी बातें तो बहुत करते हैं पर सच कभी नहीं बोलते! सच्चाई यह है कि कच्चे तेल का घरेलू उत्पादन करने वाली सरकारी कंपनी ONGC का बजट ही मोदी सरकार ने काट दिया. साल 2020-21 में ONGC का बजट ₹32,501 करोड़ था, इस साल कम करके ₹29,800 करोड़ कर दिया है.

प्रधानमंत्री मोदी जी बातें तो बहुत करते हैं पर सच कभी नहीं बोलते!
सच्चाई यह है कि कच्चे तेल का घरेलू उत्पादन करने वाली सरकारी कंपनी ONGC का बजट ही मोदी सरकार ने काट दिया।
साल 2020-21 में ONGC का बजट ₹32,501 करोड़ था, इस साल कम करके ₹29,800 करोड़ कर दिया है।
5/5 pic.twitter.com/vUHDWkUeEo
— Randeep Singh Surjewala (@rssurjewala) February 19, 2021

आपको बता दें कि इस समय पेट्रोल और डीजल की कीमत है पिछले 70 साल का रिकॉर्ड तोड़ चुकी है. जनता परेशान है लेकिन सरकार खामोशी अख्तियार किए हुए हैं और जो लोग 2014 से पहले पेट्रोल और डीजल की कीमतों को लेकर सरकार की आलोचना करते थे, वह भी आज चुप्पी साधे हुए हैं.
The post रणदीप सुरजेवाला के PM मोदी से कुछ चुभते सवाल appeared first on THOUGHT OF NATION.

- Advertisement -
- Advertisement -
Stay Connected
16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe
Must Read
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -