- Advertisement -
Home News राजस्थान पंचायत चुनाव: 15 अगस्त से गांवों में उत्थान शिविर लगाएगी सरकार,अब...

राजस्थान पंचायत चुनाव: 15 अगस्त से गांवों में उत्थान शिविर लगाएगी सरकार,अब हर पंचायत में ये 5 काम जरूरी

- Advertisement -

आजकलराजस्थान / जयपुर

प्रदेश में अगले साल जनवरी-फरवरी में पंचायत राज चुनाव के मद्देनजर सरकारी मशीनरी का जोर अब गांवों के विकास पर रहेगा। सरकार 15 अगस्त से 2 अक्टूबर यानी लगभग डेढ़ महीने तक गांवों में राजीव गांधी ग्रामोत्थान शिविर लगाएगी। इनमें मूलभूत सुविधाओं और आधारभूत ढांचे के विकास संबंधी कार्य किए जाएंगे।

माना जा रहा है कि 2015 के चुनाव में जिला परिषदों में कांग्रेस को मिली हार के बाद सरकार अभी से गांवों में पार्टी की पकड़ मजबूत करने के लिए प्रयासरत है। शिविरों के लिए पंचायत राज विभाग ने सभी जिला कलक्टरों और जिला परिषदों के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों को निर्देश जारी कर दिए हैं।

जिलों में जिला परिषद के सीईओ इन शिविरों के नोडल अधिकारी होंगे। शिविरों में पट्टा वितरण, भूखंड आवंटन, केन्द्र की मानधन योजना में पंजीकरण, सामाजिक सुरक्षा पेंशन पंजीकरण, महिला शक्ति समूहों का गठन आदि काम किए जाएंगे। उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने इन शिविरों की विधानसभा में घोषणा की थी।

5 कार्य अनिवार्य तौर पर कराने को कहाशिविर राज्य की सभी 9893 ग्राम पंचायतों में सुबह 10 से शाम 5 बजे तक लगेंगे। हर राजस्व गांव में सरकार ने 5 कार्य अनिवार्य तौर पर कराने को कहा है। इनमें चरागाह विकास, सामुदायिक जलाशयों का निर्माण, श्मशान व कब्रिस्तान का विकास, खेल मैदान का विकास, सड़क मरम्मत या नई सड़क निर्माण के कार्य शामिल हैं।

शैक्षणिक योग्यता संबंधी बाध्यता समाप्तराज्य में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद उसके शुरुआती निर्णयों में भी पंचायत चुनाव का मसला प्रमुख रहा था। भाजपा सरकार में पंचायत प्रतिनिधियों के लिए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता अनिवार्य की गई थी। कांग्रेस ने इसका विरोध करते हुए घोषणा की थी कि सत्ता में आने पर यह बाध्यता हटाई जाएगी। यह बाध्यता सरकार बनने के बाद समाप्त कर भी दी गई।

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

एक सिर कटी, दूसरी नीले नाखूनों के साथ और तीसरी फंदे पर लटकी मिली लाश

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में मंगलवार को तीन संदिग्ध मौत हुई। जिनमें एक बुजुर्ग की सिर कटी लाश रेलवे ट्रेक पर मिली,...
- Advertisement -

राजस्थान के चार लाख शिक्षकों को सरकारी राहत का इंतजार, इस सप्ताह होगा फैसला

सीकर. प्रदेश के चार लाख से अधिक शिक्षकों को सरकारी राहत का इंतजार है। दरअसल, प्रदेश में शिक्षा विभाग की ओर से हर...

राजस्थान में यहां 61 कोरोना पॉजीटिव मिले, 19 हुए स्वस्थ

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में 574 सैंपल की जांच में मंगलवार को 61 कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए। जिसके बाद जिले में...

कविता: मैं कौन हूं

मैं कौन हूँ ये बार बार पूछा जाता है,मेरे वजूद का सुबूत हर बार मांगा जाता है |मौजूदगी का प्रमाण नतमस्तक होकर दूँ,कुंठित...

Related News

एक सिर कटी, दूसरी नीले नाखूनों के साथ और तीसरी फंदे पर लटकी मिली लाश

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में मंगलवार को तीन संदिग्ध मौत हुई। जिनमें एक बुजुर्ग की सिर कटी लाश रेलवे ट्रेक पर मिली,...

राजस्थान के चार लाख शिक्षकों को सरकारी राहत का इंतजार, इस सप्ताह होगा फैसला

सीकर. प्रदेश के चार लाख से अधिक शिक्षकों को सरकारी राहत का इंतजार है। दरअसल, प्रदेश में शिक्षा विभाग की ओर से हर...

राजस्थान में यहां 61 कोरोना पॉजीटिव मिले, 19 हुए स्वस्थ

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में 574 सैंपल की जांच में मंगलवार को 61 कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए। जिसके बाद जिले में...

कविता: मैं कौन हूं

मैं कौन हूँ ये बार बार पूछा जाता है,मेरे वजूद का सुबूत हर बार मांगा जाता है |मौजूदगी का प्रमाण नतमस्तक होकर दूँ,कुंठित...

उपचुनाव का ऐलान होने पर कमलनाथ ने दिया बयान

चुनाव आयोग ने मंगलवार को 56 विधानसभा सीटों और एक लोकसभा सीट के लिए उपचुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया. बिहार की एक लोकसभा...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here