- Advertisement -
Home News Problem: कीट विज्ञानी करेंगे पोस्टमार्टम, विभाग को है इंतजार

Problem: कीट विज्ञानी करेंगे पोस्टमार्टम, विभाग को है इंतजार

- Advertisement -

अजमेर. मृत बिच्छुओं (scorpions) का पोस्टमार्टम (autopsy) नहीं हो सका है। पशुपालन विभाग द्वारा कीट विज्ञानी (एंटोमॉलोजिस्ट) द्वारा पोस्टमार्टम का हवाला देने के कारण यह स्थिति बनी है। अब वन विभाग (forest dept) को मुख्यालय और प्रशासनिक की मंजूरी का इंतजार है।
दरगाह (ajmer dargah area) के आमाबाव इलाके में वन विभाग ने 8 अगस्त को बिच्छू बाबा की दुकान पर छापा मारा था। यहां रेंजर (rangers) मोहनलाल सामरिया और सुधीर माथुर के नेतृत्व में वन विभाग की टीम को हजारों की तादाद में मरे हुए बिच्छू (dead scorpions)और इनके तेल (oil) से निर्मित दवाएं (medicines) मिली थी। दुकान पर कामकाज करने वाले सलीम को 15 दिन की न्यायिक हिरासत (judicial custody) में भेजा गया है।
read more: Raksha bandhan : सरहद पर तैनात सैनिकों के लिए भेजी राखियां
पांच दिन से नहीं हुआ पोस्टमार्टमहजारों को संख्या में मिले मृत बिच्छुओं का पोस्टमार्टम (post mortam)पांच दिन से अटका हुआ है। पहले तीन दिन के अवकाश के चलते पशुपालन विभाग (animal husbandary) के चिकित्सक उपलब्ध नही हुए। अब विभाग ने कीट विज्ञानी (entomologist) द्वारा पोस्टमार्टम कराए जाने का हवाला दिया है। विभाग का कहना है, जीव-जंतुओं (entomology) के मामले में कीट विज्ञानी विशेषज्ञ होते हैं। बिच्छुओं के मामले में उनकी ही सेवाएं ली जानी चाहिए। मालूम हो कि पोस्टमार्टम के बाद बिच्छुओं को तय स्थान पर डिस्पोज (dispose off) किया जाना है।
read more: Shiv Pujan: धूमधाम से निकली कावड़ यात्रा, मंत्रोच्चार से सहस्रधारा
बंगाल पुलिस से करेंगेसंपर्कदुकान संचालक हकीम एस. के. अनवर उर्फ बिच्छू बाबा को बंगाल जाना बताया गया है। लिहाजा इस मामले में विभाग पश्चिम बंगाल (west bengal) पुलिस से संपर्क करेगा। इसके बाद उसकी तलाश (search team) में दल भेजा जाएगा। उसके खिलाफ भी वन्य जीव अधिनियम (wild life protection act) में मामला दर्ज कराया जाएगा।
read more: मेडिकल कॉलेज विस्तार के लिए कायड़ में आ रही है 24 हेक्टेयर चारागाह भूमिपशुपालन विभाग के अनुसार बिच्छुओं का पोस्टमार्टम कीट विज्ञानी द्वारा कराया जाना है। हमें मुख्यालय और प्रशासनिक मंजूरी का इंतजार है।सुदीप कौर शर्मा, उप वन संरक्षक वन विभाग

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

डॉ. कफील बोले- अभी राजनीति में उतरने का समय नहीं

डॉक्टर कफील खान की मथुरा जेल से रिहाई के 20 दिनों बाद सोमवार को दिल्ली में उनकी कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी से मुलाकात हुई. डॉक्टर...
- Advertisement -

बैग में रखे 3.50 लाख रुपये में से पांच मिनट में कम हो गए 2 लाख रुपये

सीकर/ खाचरियावास. राजस्थान के सीकर जिले के दांतारामगढ़ कस्बे के कुली गांव में सोमवार को एक बैग में भरकर रखे गए 3 लाख...

क्या है जनता के इस गुस्से के मायने?

हाल के दिनों में नीतीश सरकार के कई मंत्रियों और विधायकों ने मारपीट का आरोप लगाया है. एनडीएए (NDA) के ये विधायक और मंत्री...

क्या डिजिटल मीडिया कि आलोचनाओं से घबरा गई सरकार?

क्या सरकार सोशल मीडिया पर होने वाली अपनी आलोचनाओं से बौखलाई हुई है और उनका मुंह बंद करना चाहती है? क्या सरकार चाहती है कि...

Related News

डॉ. कफील बोले- अभी राजनीति में उतरने का समय नहीं

डॉक्टर कफील खान की मथुरा जेल से रिहाई के 20 दिनों बाद सोमवार को दिल्ली में उनकी कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी से मुलाकात हुई. डॉक्टर...

बैग में रखे 3.50 लाख रुपये में से पांच मिनट में कम हो गए 2 लाख रुपये

सीकर/ खाचरियावास. राजस्थान के सीकर जिले के दांतारामगढ़ कस्बे के कुली गांव में सोमवार को एक बैग में भरकर रखे गए 3 लाख...

क्या है जनता के इस गुस्से के मायने?

हाल के दिनों में नीतीश सरकार के कई मंत्रियों और विधायकों ने मारपीट का आरोप लगाया है. एनडीएए (NDA) के ये विधायक और मंत्री...

क्या डिजिटल मीडिया कि आलोचनाओं से घबरा गई सरकार?

क्या सरकार सोशल मीडिया पर होने वाली अपनी आलोचनाओं से बौखलाई हुई है और उनका मुंह बंद करना चाहती है? क्या सरकार चाहती है कि...

कांग्रेस के वाइल्ड कार्ड ने बदली मुुकाबले की तस्वीर, बीजेपी को भीतरघात का खतरा

मध्यप्रदेश की राजनीति में मार्च में उठे ज़लज़ले ने पूरा का पूरा फ्रेम ही उल्टा कर दिया है. कार्यकर्ताओं के हुजूमों के हाथों से...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here