- Advertisement -
Home Rajasthan News Sikar news बैंक मैनेजर के जीजा से फोन पर बात करने पर पकड़ा गया...

बैंक मैनेजर के जीजा से फोन पर बात करने पर पकड़ा गया एक करोड़ लूटकर भागता लुटेरा, पिता के इलाज व लोन चुकाने के लिए बनाई लूट की योजना

- Advertisement -

सीकर. राजस्थान के सीकर शहर के जयपुर रोड स्थित केनरा बैंक को गन प्वाइंट पर लूटकर भाग रहा लुटेरा बैंक मैनेजर के जीजा से फोन पर बात करने की वजह से पकड़ा गया। वहीं, लूटेरे ने लूट की वजह उसी बैंक से लिया लोन व हार्ट की बीमारी से पीडि़त पिता का इलाज कराना बताया है। पुलिस के अनुसार जयपुर रोड निवासी आरोपी किशोर सैनी पुरानी कारों को बेचने का व्यापार करता है। उसके पिता के दिल की बीमारी है। उसनेकेनरा बैंक से लोन ले रखा था। ऐसे में आरोपी उसी लोन को चुकाने और पिता का इलाज कराने के लिए लूट की वारदात को अंजाम देने की बात कह रहा है। हालांकि मामले में अभी आरोपी से पूछताछ जारी है। वारदात में उसके साथ दो अन्य लोगों के शामिल होने की बात भी अब तक साफ नहीं हो पाई है।
यूं घटा घटनाक्रमजयपुर रोड स्थित कैनरा बैंक में गुरुवार सुबह लूट की वारदात बैंक प्रबंधक के रिश्तेदार व पुलिस की सजगता से बच गई। बैंक में सुबह करीब 10 बजे बैंक में नकाबपोश लुटेरा पिस्टल लहराता हुआ पहुंचा। बैंक प्रबंधक सुमन को सामने देखकर लुटेरे ने पिस्टल तान दी। वह फोन पर रिश्तेदार से बात कर रही थी। बैंक में प्रबंधक सुमन, विजय, सुनील सहित पांच कर्मचारी थे। बैंक में अन्य ग्राहक भी नही पहुंचे थे। लुटेरे ने बैंक प्रबंधक को पिस्टल से डराते हुए धमकाया। तभी विजय को भी पिस्टल दिखाकर डराया। कर्मचारियों को केबिन से बुला लिया। लुटेरा उन्हें एक कमरे में लेकर चला गया। प्रबंधक को नीचे फर्श पर बैठा दिया। लुटेरे ने सभी के हाथ एक-दूसरे से तार से बंधवा दिए। फिर सबको नीचे लेटा दिया। उन्हें फर्श पर लिटा दिया। सभी के मोबाइल छीन कर टेबल पर पटक दिए । लुटेरे ने फिर चाबी मांगी तो प्रबंधक ने कैशियर के आने की बात कहीं। पिस्टल से लुटेरे ने सभी को डराया और धमकी देकर चाबी मांगी। कर्मचारियों ने चाबी नहीं होने की बात कहीं। तभी वहां पर रोशन आ गए। लुटेरे ने उनसे चाबी मांगी। पहले तो उन्होंने चाबी से इंकार कर दिया। लुटेरे ने पिस्टल से मारने की धमकी दी। चाबी मिलने पर लुटेरे ने लॉकर से रुपए व सोना बैग में डाल लिए। तभी लुटेरा रुपए व सोने से भरे बैग को लेकर निकल गया। शोर होने पर वह बैग को छोड़ कर भाग गया।
 
बैंककर्मी की हिम्मत व बैंक मैनेजर का फोन आया कामएसआइ कंचन ने बताया कि लुटेरे ने सभी बैंक कर्मचारियों को बंधक बनाकर कमरे में बैठा दिया था। लॉकर से रुपए लेने के बाद वह बैग को लेकर निकल रहा था। तभी मौका देखकर कर्मचारी विजय कमरे से निकल कर बाहर की ओर भाग गया। बैंक का मुख्य दरवाजा खुला ही था। वह बैंक के बाहर आकर जोर से चिल्लाने लगा। वह शोर मचाने के बाद तुरंत बैंक के अंदर आ गया। इस दौरान बैंक से बाहर निकलते हुए लुटेरे से विजय टकरा गया। तब हडबड़ाहट में बैग को लुटेरे ने बैंक में ही छोड़ दिया। वह तुरंत बाहर की ओर पैदल ही भाग निकला। लेकिन, इसी बीच इत्तेफाक से बैंक मैनेजर का फोन चालू ही रह गया था। जिसके चलते हनुमानगढ़ निवासी जीजा ने लूटेरे की पूरी बात सुन ली। इसके बाद उन्होंने नेट से नंबर लेकर सीकर पुलिस को इत्तेला दी। जिसके बाद पुलिस भी सात मिनट में मौके पर पहुंच गई।
फिर कांस्टेबलों ने दिखाई बहादुरीबैंक से बाहर निकल कर लुटेरा किशोर बैंक के सामने चार फीट की दीवार को कूद कर पार्क में घुस गया। वह पार्क से निकल कर जयपुर रोड की ओर निकला। वह रीको तिराहे की ओर जाने लगा। इसी बीच उद्योगनगर पुलिस बैंक के बाहर पहुंच चुकी थी। तभी पुलिस ने चोर-चोर को शोर सुना। लोगों ने हाथ से इशारा करते हुए पैदल ही जा रहे लुटेरे को दिखाया। कांस्टेबल दुर्गाराम व देवीलाल तुरंत लुटेरे को पकडऩे के लिए भागे। जयपुर रोड पर रिको तिराहे पर कांस्टेबल दुर्गाराम ने पीछा कर पकड़ा। तभी लुटेरे ने दुर्गाराम पर पिस्टल तान दी। कांस्टेबल दुर्गाराम ने हिम्मत दिखाते हुए राइफल का बट मार कर पिस्टल नीचे गिरा दी। तभी पीछ़े से आकर देवीलाल ने भी आकर लुटेरे को दबोच कर पकड़ लिया। दोनों उसे पकड़ कर साइड़ में ले आए। वहां पर एसआई कंचन व चालक रायबहादुर भी आ पहुंचे। चारों ने उसे घेर लिया। चारों लुटेरे को गाड़ी में बैठा कर थाने ले आए।पैदल ही घर से आया लुटेरालुटेरा किशोर सैनी जयपुर रोड पर ही रहता है। वह ऑटोमोबाइल शोरूम में काम करता है। उसका बैंक में ही खाता है और बैंक से लोन भी ले रखा है। उसका बैंक में अक्सर आना-जाना रहता था। पकड़े जाने के बाद बैंककर्मियों ने उसे तुरंत ही पहचान लिया था। लुटेरा किशोर पैदल ही सुबह घर से बैंक में आया था। उसने पहले से ही पिस्टल मंगवा रखी थी, हालंाकि पिस्टल में कारतूस नहीं थे। पिस्टल खाली ही था। वह बैंक से निकलने के बाद पैदल ही शहर की ओर जा रहा था। एसआइ कंचन ने बताया कि किशोर सैनी पुत्र शंकरलाल सैनी निवासी जयपुर रोड को रीको तिराहे का रहने वाला है। जिसे गिरफ्तार करने के साथ उससे एक पिस्टल बरामद की गई है। लूट की सूचना मिलने पर डीएसपी रामचंद्र मूंड ने पहुंच कर निरीक्षण किया। प्रबंधक सुमन की ओर बैंक में लूट की वारदात का मुकदमा दर्ज कराया गया है।

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

किसानों के आंदोलन के लिए पैसा कहां से आ रहा? प्रदर्शनकारियों ने दिया जवाब

किसानों के आंदोलन के लिए पैसा कहां से आ रहा है? दिल्ली-हरियाणा बार्डर पर जमे किसानों की फंडिंग पर तमाम सवाल उठ रहे हैं....
- Advertisement -

102 कोरोना मरीज हुए स्वस्थ, 21 नए संक्रमित

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में बुधवार को 102 कोरोना मरीज स्वस्थ हुए। जबकि 21 नए कोरोना मरीज सामने आए। इसके बाद जिले...

किसानो का मोदी सरकार पर बड़ा आरोप

कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों ने सरकार से बातचीत के बाद कहा है कि सरकार उन्हें बांटने की कोशिश कर रही है....

दुल्हन आत्म हत्या मामले में हुआ नया खुलासा, एसडीएम ने भी की दोनों पक्षों से बात

सीकर. राजस्थान के सीकर शहर के राधाकिशनपुरा स्थित चिडिय़ा टीबा में तीन दिन पहले ब्याहकर आई दुल्हन की आत्म हत्या (Bride Suicide Case)...

Related News

किसानों के आंदोलन के लिए पैसा कहां से आ रहा? प्रदर्शनकारियों ने दिया जवाब

किसानों के आंदोलन के लिए पैसा कहां से आ रहा है? दिल्ली-हरियाणा बार्डर पर जमे किसानों की फंडिंग पर तमाम सवाल उठ रहे हैं....

102 कोरोना मरीज हुए स्वस्थ, 21 नए संक्रमित

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में बुधवार को 102 कोरोना मरीज स्वस्थ हुए। जबकि 21 नए कोरोना मरीज सामने आए। इसके बाद जिले...

किसानो का मोदी सरकार पर बड़ा आरोप

कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों ने सरकार से बातचीत के बाद कहा है कि सरकार उन्हें बांटने की कोशिश कर रही है....

दुल्हन आत्म हत्या मामले में हुआ नया खुलासा, एसडीएम ने भी की दोनों पक्षों से बात

सीकर. राजस्थान के सीकर शहर के राधाकिशनपुरा स्थित चिडिय़ा टीबा में तीन दिन पहले ब्याहकर आई दुल्हन की आत्म हत्या (Bride Suicide Case)...

दोनों हाथ के बिना भी किसान आंदोलन का हिस्सा बना ये बुजुर्ग, दिल को छू लेगा वीडियो

केन्द्र के तीन नए कृषि कानून के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन अब भी जारी है. कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली चलो मार्च के तहत...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here