- Advertisement -
Home Rajasthan News Sikar news कोरोनाकाल में दिव्यांगों की होगी ऑनलाइन पढ़ाई, तैयारी तेज

कोरोनाकाल में दिव्यांगों की होगी ऑनलाइन पढ़ाई, तैयारी तेज

- Advertisement -

सीकर. कोरोना की वजह से पिछले एक साल से घरों में बैठे दो लाख से अधिक मानसिक विमंदित, नेत्रहीन व मूक-बधिर विद्यार्थियों के लिए राहतभरी खबर है। शिक्षा विभाग ने अब ऐसे विद्यार्थियों की समस्याओं को देखते हुए बड़े स्तर पर ब्रेल लिपि व साइन लैग्वेज में कक्षा एक से बारहवीं कक्षा तक के लिए ई-कटेंट बनाने की तैयारी कर ली है। इसके लिए शिक्षा विभाग ने कई कंपनियों से एमओयू भी किया है। शिक्षा विभाग का दावा है दिव्यांग विद्यार्थियों के ऑनलाइन कटेंट बनाने के मामले में राजस्थान पहला राज्य होगा। अन्य राज्यों में फिलहाल सामान्य बच्चों के कटेंट को ही विशेष बच्चों को पढ़ाया जा रहा है। लेकिन राजस्थान में पहले छोटे स्तर पर कवायद चल रही थी। लेकिन ई-कक्षा के जरिए विशेष कटेंट तैयार कराया जा रहा है। शिक्षा विभाग ने कोरोनाकाल में दिव्यांगों को राहत देने के लिए समर्थ अभियान का भी आगाज किया है। मानसिक विमंदित विद्यार्थियों के सम्बलन के लिए विशेष शिक्षक भी लगातार उनके सम्पर्क में रहेंगे। शिक्षा राज्य मंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने बताया कि इस अभियान को छह चरणों के जरिए पूरा किया जाएगा।ऐसे मिलेगी दिव्यांगों को राहत:
1. नामांकन अभियान: 19 जून तक ड्रॉप आऊट बच्चों को जोड़ेंगेप्रदेशभर में सामान्य बच्चों के साथ विशेष विद्यार्थियों को भी सरकारी स्कूलों से जोडऩे के लिए विशेष नामांकन अभियान चलाया गया है। इसके लिए एक-एक विशेष शिक्षक को दस से अधिक स्कूलों का जिम्मा दिया गया है। शिक्षक क्षेत्रों के पीईईओ, वार्ड पंच, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता आदि से सम्पर्क कर ड्राप आऊट बच्चों को स्कूलों से जोडेंगे।
2. ऑनलाइन कटेंट:शिक्षा विभाग की ओर से प्रदेश में फिलहाल छह विशेष आवासीय विद्यालय संचालित किए जाते है। इन विशेष विद्यालयों के साथ मिशन ज्ञान के साथ हुए एममओयू एवं सामाजिक संस्थाओं की मदद से नेत्रहीन व मूक-बधिर विद्यार्थियों के लिए अलग से ऑनलाइन कटेंट तैयार कराया जा रहा है। विशेष शिक्षकों के जरिए इसको घर-घर पहुंचाया जाएगा।
3. दिव्यांगों के लिए अलग से स्माइल गु्रप:दिव्यांग विद्यार्थियों के लिए प्रदेश के सभी जिलों में अलग से गु्रप बनाए जाएंगे। इसमें भी नियमित रुप से अलग से कटेंट आएगा। बच्चों को नियमित रुप से गृह कार्य भी दिया जाएगा। इसकी निदेशालय स्तर पर भी मॉनिटरिंग की जाएगी।
4. विशेष ऑडियो, एक क्लिक पर पूरी जानकारी:मूक बधिर सहित अन्य श्रेणी के विद्यार्थियों के लिए वीडियो लाइब्रेरी भी तैयार कराई जा रही है। इसमें कक्षा एक से बारहवीं तक के विद्यार्थियों के लिए सभी विषयों के महत्वपूर्ण टॉपिक को शामिल किया गया है। यदि ई-कक्षा के बाद भी विद्यार्थी को कोई शंका रहती है तो वह एक क्लिक पर पूरी जानकारी ले सकता है।
पहल: कई बेरोजगार शिक्षक भी जुटे निशुल्क वीडियो कटेंट बनाने मेंप्रदेश के कई जिलों में बेरोजगार विशेष शिक्षकों की ओर से भी सरकार की इस मुहिम में साथ निभाया जा रहा है। बेरोजगारों की ओर से भी निशुल्क कटेंट की मुहिम में साथ निभाने का वादा किया गया है। शिक्षा निदेशक का कहना है कि ऐसे युवाओं का भी सहयोग लिया जाएगा।
फैक्ट फाइल:सरकारी स्कूलों में कुल दिव्यांग विद्यार्थी: 88500
माध्यमिक कक्षा: 17500प्रांरभिक कक्षा: 71 हजार
निजी विशेष विद्यालयों में: 40 हजारप्रदेशभर में शिक्षक: 2200
इस साल नामांकन की उम्मीद: 70 हजार से अधिक
 
दिव्यांग शिक्षा में राजस्थान एक नंबर पर होगा: शिक्षा मंत्री
दिव्यांग बच्चों को शिक्षा से जोडऩे के लिए प्रदेशभर में समर्थ अभियान का आगाज किया है। इस अभियान के जरिए बच्चों का नामांकन बढ़ाने के साथ ऑनलाइन कटेंट की दिशा में काम किया जा रहा है। राजस्थान पहला राज्य होगा जहां दिव्यांग विद्यार्थियों के लिए कक्षा एक से बारहवीं तक की अलग से ऑनलाइन कक्षाएं चलेगी।गोविन्द सिंह डोटासरा, शिक्षा मंत्री
नेत्रहीन विद्यार्थियों को ब्रेल में ही मिलेगी वर्कशीट: शिक्षा निदेशकशिक्षा मंत्री की पहल पर बड़े स्तर पर दिव्यांग शिक्षा का काम हाथ में लिया है। नेत्रहीन, मानसिक विमंदित व मूक बधिर विद्यार्थियों के लिए अलग से कटेंट दिया जाएगा। विशेष शिक्षकों के जरिए इस कटेंट को बच्चोंं तक पहुंचाया जाएगा। राजस्थान में एक और नवाचार हुआ है कि नेत्रहीन विद्यार्थियों के लिए अब ब्रेल में ही वर्कशीट मिलेगी।
सौरभ स्वामी, निदेशक, माध्यमिक शिक्षा

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

पांचवे दिन फिर लौटा कोरोना, चार नए मरीज मिले

सीकर. राजस्थान के सीकर शहर में कोराना पांचवे दिन वापस लौट आया। जिले में शुक्रवार को कारोना के चार नए मरीज मिले। जिसके...
- Advertisement -

Rakesh Tikait की बेटी और बहू ने भी बुलंद की आवाज़

लंबे वक्त से दिल्ली की सीमा पर बैठे किसान कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं. भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत (Rakesh...

नाबालिग से नग्न होकर करता था गंदी हरकतें, परिजनों ने वीडियो बनाया, 48 वर्षीय आरोपी गिरफ्तार

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले के ग्रामीण इलाके में पुलिस ने नग्न होकर नाबालिग के सामने अश्लील हरकत करने के आरोपी को गिरफ्तार...

Shri Ganga Nagar में BJP नेता कैलाश मेघवाल के फाड़े कपड़े

राजस्थान के श्रीगंगानगर (Shri Ganga Nagar) में राज्य सरकार के खिलाफ हो रहे भाजपा के जिला स्तरीय प्रदर्शन में शामिल होने आए हनुमानगढ़ के...

Related News

पांचवे दिन फिर लौटा कोरोना, चार नए मरीज मिले

सीकर. राजस्थान के सीकर शहर में कोराना पांचवे दिन वापस लौट आया। जिले में शुक्रवार को कारोना के चार नए मरीज मिले। जिसके...

Rakesh Tikait की बेटी और बहू ने भी बुलंद की आवाज़

लंबे वक्त से दिल्ली की सीमा पर बैठे किसान कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं. भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत (Rakesh...

नाबालिग से नग्न होकर करता था गंदी हरकतें, परिजनों ने वीडियो बनाया, 48 वर्षीय आरोपी गिरफ्तार

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले के ग्रामीण इलाके में पुलिस ने नग्न होकर नाबालिग के सामने अश्लील हरकत करने के आरोपी को गिरफ्तार...

Shri Ganga Nagar में BJP नेता कैलाश मेघवाल के फाड़े कपड़े

राजस्थान के श्रीगंगानगर (Shri Ganga Nagar) में राज्य सरकार के खिलाफ हो रहे भाजपा के जिला स्तरीय प्रदर्शन में शामिल होने आए हनुमानगढ़ के...

एनएचएम में 155 पदों पर होगी भर्ती

सीकर. राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन में 155 पदों पर भर्ती होगी। राज्य सरकार राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन ( एनएचएम ) के तहत जिला स्तर तथा...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here