- Advertisement -
Home News Aajkal Bharat प्याज के भाव; हफ्ते भर में दुगुना, 80 रु./किलो पहुंचा

प्याज के भाव; हफ्ते भर में दुगुना, 80 रु./किलो पहुंचा

- Advertisement -

Aajkal Rajasthan News/jaipur/7नवम्बर        शहर की मंडियों में प्याज अब सेब से महंगा हो गया है। मंडियों में सेब का थोक भाव 20 से 50 रुपए प्रति किलो है, जबकि प्याज 50 से 60 रुपए प्रति किलो बिका है। जबकि खुदरा में दुकानों व ठेलों पर 40 रुपए प्रति किलो वाला प्याज 80 रुपए किलो तक बिक रहा है। जबकि पिछले सप्ताह प्याज थोक में 20 से 25 रुपए किलो ही बिका था।

दीपावली के बाद आवक कम होने से बढ़े प्याज के भाव

मुहाना मंडी के जयपुर फल सब्जी थोक विक्रेता संघ अध्यक्ष राहुल तंवर ने बताया कि महाराष्ट्र के नासिक, सतारा व सोलापुरा और कर्नाटक के हुगली व बैंगलोर से दीपावली के बाद प्याज की आवक कम होने से भाव बढ़े है। पिछले एक सप्ताह में प्याज रोजाना 100 से 200 टिन ही आ रहा था। शहर में प्याज की डिमांड 400 से 500 टन रहती है। अब प्याज की आवक बढ़ने से भाव कम होने की संभावना जताई जा रही है। प्रदेश के अलवर (खैरथल), अजमेर व झालरापाटन से भी नए प्याज की आवक होने लगी है।

Rs.30 से 60 किलो बिक रहा सेब, कश्मीर से बढ़ी आवक

मुहाना मंडी में सेब थोक में 20 से 60 रुपए किलो तक बिक रही है। व्यापारियों का कहना है कि कश्मीर से आने वाली छोटे आकार की सेब 30 रुपए किलो थोक भाव है। कश्मीर से 50 से 60 ट्रक रोजाना आ रहे हैंै। सेब की क्वालिटी अच्छी होने से भाव भी बढ़ जाते है। हिमाचल प्रदेश के किन्नौर से आने वाली अच्छी सेब 70 से 100 रुपए प्रति किलो तक भी बिक रही है। किन्नौर से रोजाना केवल 2 -3 ट्रक ही आते है।उम्मीद ये कि… एक सप्ताह के अंदर भाव Rs.20 किलो तक हो जाएंगे

मंडी में रोजाना करीब 25 गाडिय़ां आ रही है। महाराष्ट्र व कर्नाटक के कुछ हिस्सों में बारिश होने तथा दीपावली का त्यौहार होने के कारण प्याज की आवक कम होने से भाव बढ़े है। अब दूसरे राज्यों के साथ ही अलवर, अजमेर व झालरापाटन से नया प्याज होने से एक सप्ताह में भाव 20 रुपए किलो तक हो जाएंगे। – शिवशंकर शर्मा, मुहाना मंडी के आलू-प्याज आढ़तिये संघ अध्यक्ष

लहसुन महंगा Rs.180 किलो बिका, 95% कोटा से ही आ रहा हैमुहाना मंडी के जयपुर फल सब्जी थोक विक्रेता संघ अध्यक्ष राहुल तंवर ने बताया कि मध्यप्रदेश में लगातार बारिश के कारण लहसुन की फसल नष्ट हो गई। इस वजह से मुहाना मंडी में लहसुन की आवक बहुत कम हो रही है। अभी 95 फीसदी लहसुन केवल कोटा से ही आ रहा है। इसलिए इसके थोक भाव 120-150 रुपए प्रतिकिलो तक पहुंच गया है। जबकि 15-20 दिन पहले यह 70-80 रुपए प्रति किलों में बिक रहा था। वहीं खुले में लहसुन अभी 180 रुपए प्रतिकिलो तक बिक रहा है। नई फसल तैयार होने में 2 महीने लग सकते है। कई बार कोटा से लहसुन कम आता है। तो एकाएक मंडियों में स्टॉक नहीं रह पाता इस वजह से भी महंगा हो जाता है।

Aajkal mandi bhav

Onion more expensive than apple

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

सिंधिया को भोपाल में बंगला एलॉट होने की कहानी दिलचस्प है

राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य को भोपाल में बंगला एलॉट होने की कहानी दिलचस्प है. मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान की नोटशीट चली तो 48 घंटे में ही...
- Advertisement -

1240 के बाद 1150…! नम्बर जो सीकर में दे रहे हैं सुकून

सीकर. सीकर में कोरोना वैक्सीन की दूसरी खेप 1150 वायल पहुंच गई है। प्रत्येक वायल में 10 व्यक्तियों के लिए डोज है। इधर...

ताले के बाद भी नहीं चेती सरकार, सरपंच बोले,अब करेंगे उग्र आंदोलन

सीकर.पीडी खातो के विरोध में सरपंचों की ओर से ग्राम पंचायतों पर की गई तालाबंदी के बाद भी सरकार नहीं चेती है। सरपंचों...

झक्कास!.. माइनस तापमान को लेकर सुर्खियों में रहने वाले सीकर में अब धूप में बैठकर दिखाएं तो मानें!

सीकर. सीकर के बाहर के लोगों को यह बात सुनकर थोड़ी जलन जरूर होगी...लेकिन सात-सात दिनों तक माइनस पारे की मार झेलने वाले...

Related News

सिंधिया को भोपाल में बंगला एलॉट होने की कहानी दिलचस्प है

राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य को भोपाल में बंगला एलॉट होने की कहानी दिलचस्प है. मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान की नोटशीट चली तो 48 घंटे में ही...

1240 के बाद 1150…! नम्बर जो सीकर में दे रहे हैं सुकून

सीकर. सीकर में कोरोना वैक्सीन की दूसरी खेप 1150 वायल पहुंच गई है। प्रत्येक वायल में 10 व्यक्तियों के लिए डोज है। इधर...

ताले के बाद भी नहीं चेती सरकार, सरपंच बोले,अब करेंगे उग्र आंदोलन

सीकर.पीडी खातो के विरोध में सरपंचों की ओर से ग्राम पंचायतों पर की गई तालाबंदी के बाद भी सरकार नहीं चेती है। सरपंचों...

झक्कास!.. माइनस तापमान को लेकर सुर्खियों में रहने वाले सीकर में अब धूप में बैठकर दिखाएं तो मानें!

सीकर. सीकर के बाहर के लोगों को यह बात सुनकर थोड़ी जलन जरूर होगी...लेकिन सात-सात दिनों तक माइनस पारे की मार झेलने वाले...

डंपरों से अवैध वसूली करने की मालिक को धमकी दी, दो गिरफ्तार

नीमकाथाना. सदर थाना पुलिस ने अवैध वसूली व मारपीट करने व गाड़ी तोडऩे के मामले दो गुरुवार को पुलिस ने दो आरोपियों को...
- Advertisement -