- Advertisement -
Home Rajasthan News Sikar news नोडल एजेंसी तय नहीं, कैसे मिलेगी किसानों को पेंशन

नोडल एजेंसी तय नहीं, कैसे मिलेगी किसानों को पेंशन

- Advertisement -

सीकर. केन्द्र सरकार ने भले किसानों को वृद्धावस्था पेंशन देने की प्रधानमंत्री मानधन योजना शुरू की हो लेकिन जिले में अभी तक प्रशासन यह तय नहीं कर पाया है कि योजना का नोडल अधिकारी कौन होगा। ऐसे में जिम्मेदारों की ढिलाई के कारण किसानों को योजना का लाभ मिल पाना दूर की कौड़ी नजर आ रहा है। योजना की खास बात यह है कि जितनी अंशराशि का भुगतान किसान करेगी उतनी ही अंश राशि केन्द्र सरकार की ओर से पेंशन खाते में जाएगी। योजना के तहत पेंशन का भुगतान भी समयावधि पूरी होने पर आवेदन पंजीकृत कराने की तिथि के अनुसार ही हर माह दिया जाएगा। गौरतलब है कि योजना का आगाज नौ अगस्त को किया गया था।लगाने होंगे शिविरजिले में पौने चार लाख से ज्यादा किसान है। ऐसे में सभी किसानों तक योजना का लाभ पहुंचे इसके लिए जिला प्रशासन को नोडल एजेंसी बनानी होगी। जिससे योजना के तहत शिविर लगाकर किसानों को लाभान्वित किया जा सके। सीकर केन्द्रीय सहकारी बैंक के एमडी बीएल मीणा ने बताया कि योजना के पात्र व्यक्ति ग्राम पंचायत के सेवा केन्द्र पर आधार कार्ड, बैंक पासबुक व लघु व सीमांत कृषक का प्रमाण पत्र ले जाकर पंजीयन करवा सकते है। पंजीयन के साथ प्रथम अंशदान राशि का भुगतान नकद़ करना होगा। इसके बाद अंशदान राशि की कटौती बैंक खाते से होने लगेगी।यह है शर्तेलघु एवं सीमांत किसान स्वैच्छिक व अंशदायी पेंशन स्कीम के लिए पात्रता तय की गई है। जिसके अनुसार 18 से 40 वर्ष की आयु वाला कोई भी किसान आवेदन कर सकता है। इसके लिए किसान को आयु के अनुसार 55 से 200 रुपए प्रति माह की किश्त जमा करानी होगी। इसके अलावा किश्त की राशि का भुगतान तिमाही या छमाही के अनुसार भी किया जा सकेगा।

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

किसानो का मोदी सरकार पर बड़ा आरोप

कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों ने सरकार से बातचीत के बाद कहा है कि सरकार उन्हें बांटने की कोशिश कर रही है....
- Advertisement -

दुल्हन आत्म हत्या मामले में हुआ नया खुलासा, एसडीएम ने भी की दोनों पक्षों से बात

सीकर. राजस्थान के सीकर शहर के राधाकिशनपुरा स्थित चिडिय़ा टीबा में तीन दिन पहले ब्याहकर आई दुल्हन की आत्म हत्या (Bride Suicide Case)...

दोनों हाथ के बिना भी किसान आंदोलन का हिस्सा बना ये बुजुर्ग, दिल को छू लेगा वीडियो

केन्द्र के तीन नए कृषि कानून के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन अब भी जारी है. कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली चलो मार्च के तहत...

शिवराज और उनकी पत्नी साधना सिंह दोनों हुए ट्रोल

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की पत्नी साधना सिंह पर कविता चोरी करने का आरोप लगा है. मुख्यमंत्री ने उसे साधना सिंह की...

Related News

किसानो का मोदी सरकार पर बड़ा आरोप

कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों ने सरकार से बातचीत के बाद कहा है कि सरकार उन्हें बांटने की कोशिश कर रही है....

दुल्हन आत्म हत्या मामले में हुआ नया खुलासा, एसडीएम ने भी की दोनों पक्षों से बात

सीकर. राजस्थान के सीकर शहर के राधाकिशनपुरा स्थित चिडिय़ा टीबा में तीन दिन पहले ब्याहकर आई दुल्हन की आत्म हत्या (Bride Suicide Case)...

दोनों हाथ के बिना भी किसान आंदोलन का हिस्सा बना ये बुजुर्ग, दिल को छू लेगा वीडियो

केन्द्र के तीन नए कृषि कानून के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन अब भी जारी है. कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली चलो मार्च के तहत...

शिवराज और उनकी पत्नी साधना सिंह दोनों हुए ट्रोल

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की पत्नी साधना सिंह पर कविता चोरी करने का आरोप लगा है. मुख्यमंत्री ने उसे साधना सिंह की...

किसानों और सरकार के बीच सुलह पर बड़ा संकट

कृषि कानून के खिलाफ किसानों का आंदोलन जारी है. बीते दिन सरकार के साथ बातचीत फेल होने के बाद किसानों ने आक्रामक रुख अपना...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here