- Advertisement -
Home News बाढ़ प्रभावित गांवों में पहुंचे विधायक, दिया यह भरोसा

बाढ़ प्रभावित गांवों में पहुंचे विधायक, दिया यह भरोसा

- Advertisement -

राजाखेड़ा. चम्बल में कोटा बैराज से छोड़ेे गए पानी से राजाखेड़ा उपखंड के दर्जन भर गांवों में बने बाढ़ जैसे हालातों का जायजा लेने के लिए विधायक रोहित बोहरा ने शनिवार को क्षेत्र का दौरा किया। विधायक ने क्षेत्र के गांव गुनपुर, गोपालपुरा, पुरैनी, चीलपुरा, मंहदपुरा, कठूमरी आदि गांवो का दौरा कर ग्रामीणों से कुशल क्षेम पूछी तथा समस्याओं की जानकारी ली। उन्होंने ग्रामीणों को बताया कि हाड़ौती क्षेत्र में हुई अतिवृष्टि के चलते ये हालात बने हंै, इनमें अगले 12 घंटे में सुधार होने लगेगा। ये एक प्राकृतिक आपदा है लेकिन इससे हुए नुकसान और समस्याओं को दूर करने के गंभीर प्रयास किए जा रहे हैं।प्रभावित गांवों में भोजन व्यवस्था कराने के निर्देशबोहरा ने तहसीलदार राजाखेडा को निर्देश दिए कि जिन लोगों के घरों में पानी भर गया है उनके लिए तुरंत प्रभाव से सुरक्षित स्थानों पर टेंट लगाकर रहने और भोजन की व्यवस्था प्रशाशन की तरफ से की जाए।मुआवजा दिलाने का करेंगे प्रयासग्रामीणों ने बताया कि चम्बल का जलस्तर बढऩे से तटवर्ती एक दर्जन से अधिक गांवों की फ सल पानी में डूबने से क्षति ग्रस्त हो गई है। जिससे उनके समक्ष संकट उत्पन्न हो गया है। इस पर विधायक ने कहा कि प्रभावित क्षेत्र की विशेष गिरदावरी कराई जाएगी और नुकसान के मुआवजे के लिए मुख्यमंत्री स्तर पर आदेश कराने के प्रयास करेंगे।पानी उतरते ही करें सडक़ों की मरम्मतविधायक ने पंचायत समिति प्रधान प्रतिनिधि राजकुमार तोमर को निर्देश दिए कि पानी उतरते ही आवागमन सुचारू करने के लिए सडक़ों की मरम्मत कराई जाए। जिससे ग्रामीणों को परेशानी न हो। उन्होंने नरेगा एवं अन्य योजनाओं के माध्यम से प्रभावित गांवों के परिवारों को हर संभव मदद पहुंचाने के भी निर्देश दिए।

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

राजस्थान के किसानों ने केंद्र को सुनाई खरी-खरी

केंद्र सरकार ने 6 रबी फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य में बढ़ोतरी की है, लेकिन कई किसान संगठन इससे ज्यादा खुश नहीं हैं. किसान महापंचायत...
- Advertisement -

स्वास्थ्य विभाग ने छुपाई कोरोना से मौतें!, 65 पॉजिटिव मिले

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में कोरोना पॉजिटिव केस के साथ मौत का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। जिले में बुधवार को भी...

स्वास्थ्य विभाग ने छुपाई कोरोना से मौतें!, 65 पॉजिटिव मिले

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में कोरोना पॉजिटिव केस के साथ मौत का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। जिले में बुधवार को भी...

वह बाहुबली जिसके पीछे हाथ धोकर पड़ी रही यूपी-बिहार की पुलिस, BJP के टिकट से होना चाहते हैं ‘पवित्र’

बाहुबलियों की राजनीति, गुनाहों की गलियों से निकले उन सियासतदानों का सच है जिनके दामन पर यूं तो गुनाहों के दाग हैं, लेकिन सियासत...

Related News

राजस्थान के किसानों ने केंद्र को सुनाई खरी-खरी

केंद्र सरकार ने 6 रबी फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य में बढ़ोतरी की है, लेकिन कई किसान संगठन इससे ज्यादा खुश नहीं हैं. किसान महापंचायत...

स्वास्थ्य विभाग ने छुपाई कोरोना से मौतें!, 65 पॉजिटिव मिले

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में कोरोना पॉजिटिव केस के साथ मौत का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। जिले में बुधवार को भी...

स्वास्थ्य विभाग ने छुपाई कोरोना से मौतें!, 65 पॉजिटिव मिले

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में कोरोना पॉजिटिव केस के साथ मौत का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। जिले में बुधवार को भी...

वह बाहुबली जिसके पीछे हाथ धोकर पड़ी रही यूपी-बिहार की पुलिस, BJP के टिकट से होना चाहते हैं ‘पवित्र’

बाहुबलियों की राजनीति, गुनाहों की गलियों से निकले उन सियासतदानों का सच है जिनके दामन पर यूं तो गुनाहों के दाग हैं, लेकिन सियासत...

राजस्थान में यहां मनरेगा की खुदाई में मिले हड़प्पाकालीन संस्कृति के अवशेष

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले के बिंज्यासी गांव में मनरेगा की खुदाई में मिले आभूषण हडप्पाकालीन संस्कृति के है। पुरातत्व विभाग की जांच...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here