- Advertisement -
Home News ‘ज्योतिष मानने की नहीं जानने की चीज’

‘ज्योतिष मानने की नहीं जानने की चीज’

- Advertisement -

श्रीगंगानगर. ज्योतिष के विद्वान नंद किशोर कौशल ने कहा है कि ज्योतिष को मानिए नहीं उसे जानिए। यह संस्कृति से जोडऩे वाली विधा है। वे रविवार को एल ब्लॉक स्थित हनुमान मंदिर में हुए अखिल भारतीय ज्योतिष सम्मेलन एवं सम्मान समारोह के दूसरे और अंतिम दिन संबोधित कर रहे थे ( Astrology )।
कार्यक्रम का आयोजन अभिज्ञान वैदिक संस्थान के तत्वावधान में किया गया । कौशल ने कहा कि व्यक्ति पर पितृ ऋण वर्षों तक रहता है। इसलिए व्यक्ति इस ऋण को चुकाना जरूरी है ( Palmistry )। इसके लिए कई ज्योतिषीय उपाय भी उपलब्ध हैं।
उन्होंने कहा कि पापकर्म के साथ किसी अनुष्ठान के फल भी प्राप्त नहीं हो पाते हैं। कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के रूप में राष्ट्रपति से पुरस्कृत पवन के गोयल थे ( Sriganganagar news )। अहमदाबाद के गोविंद भाई पटेल ने कुंडली के अध्ययन के बारे में जानकारी दी।
अहमदाबाद के ही मोलेश भाई पटेल ने तंत्र विद्या के बारे में जानकारी दी। ब्रह्म भाटिया ने हस्तरेखा के बारे में जानकारी दी ( Rajasthan news )। कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि राजेंद्र सत्यनारायण प्रभाकर थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता संस्थापक अध्यक्ष राजेंद्र कुमार शर्मा ने की ( Hindi news )। कार्यक्रम के द्वितीय चरण में खुला मंच रखा गया। इसमें उपस्थित लोगों के सवालों के जवाब दिए गए।

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

सहयोगी दल एनडीए छोड़ रहे हैं लेकिन बीजेपी चिंतित नहीं है, जानिए इसके पीछे की वजह

बीजेपी और उनके सहयोगियों के बीच कुछ भी ठीक नहीं चल रहा है. अधिकतर क्षेत्रीय दल साधारण कारणों से नाराज हैं कि बीजेपी किसी...
- Advertisement -

कृषि नीति में हो बदलाव

स्वतंत्रता के पश्चात भारत की कृषि नीति लाभ व लोभ आधारित रही। जिसके चलते भारत की परंपरागत व जैविक खेती को अत्यधिक नुकसान...

बीजेपी सांसद सुब्रमण्यन स्वामी ने फिर किया अपनी ही पार्टी से सवाल

सीमा पर चीन के साथ जारी गतिरोध के मुद्दे पर श्वेत पत्र लाने की मांग उठने लगी है. गौरतलब है कि भाजपा सांसद सुब्रमण्यन...

सरकार के ‘सच’ से बढ़ी बीजेपी की टेंशन

किसान कर्जमाफी को लेकर बीजेपी अभी फ्रंट-फुट पर बैटिंग कर रही थी. सीएम से लेकर मंत्री तक अपनी चुनावी सभाओं में यह जिक्र करते...

Related News

सहयोगी दल एनडीए छोड़ रहे हैं लेकिन बीजेपी चिंतित नहीं है, जानिए इसके पीछे की वजह

बीजेपी और उनके सहयोगियों के बीच कुछ भी ठीक नहीं चल रहा है. अधिकतर क्षेत्रीय दल साधारण कारणों से नाराज हैं कि बीजेपी किसी...

कृषि नीति में हो बदलाव

स्वतंत्रता के पश्चात भारत की कृषि नीति लाभ व लोभ आधारित रही। जिसके चलते भारत की परंपरागत व जैविक खेती को अत्यधिक नुकसान...

बीजेपी सांसद सुब्रमण्यन स्वामी ने फिर किया अपनी ही पार्टी से सवाल

सीमा पर चीन के साथ जारी गतिरोध के मुद्दे पर श्वेत पत्र लाने की मांग उठने लगी है. गौरतलब है कि भाजपा सांसद सुब्रमण्यन...

सरकार के ‘सच’ से बढ़ी बीजेपी की टेंशन

किसान कर्जमाफी को लेकर बीजेपी अभी फ्रंट-फुट पर बैटिंग कर रही थी. सीएम से लेकर मंत्री तक अपनी चुनावी सभाओं में यह जिक्र करते...

जंगल में रहस्यमयी ढंग से हुई मजदूर की मौत, शरीर पर मिले अजीबो-गरीब निशान

सीकर/खाचरियावास. राजस्थान के सीकर जिले के दांतारामगढ़ ब्लॉक के चक गांव में गुरुवार को एक मजदूर की रहस्यमयी मौत हड़कंप का सबब बन...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here