- Advertisement -
HomeRajasthan NewsSikar newsJanmashtami 2019 : आज जन्मेंगे मैया यशोदा के लल्ला, 11 सौ किलो...

Janmashtami 2019 : आज जन्मेंगे मैया यशोदा के लल्ला, 11 सौ किलो पंचामृत से होगा अभिषेक

- Advertisement -

सीकर.
Krishna Janmashtami 2019 : सीकर शहर कृष्णमय होने लगा है। मंदिरों से लेकर घरों तक कृष्ण जन्मोत्सव ( Birthday of Krishna ) की धूम है। अपने आराध्य के प्राकट्य उत्सव की तैयारी में हर कोई जुटा है। कहीं झांकियां सजाई जा रही है तो घरों में पूजा स्थल को विशेष रूप से सजाया जा रहा है। कहीं भोग के लिए पंजीरी की बनाने की तैयारियां की जा रही थी तो कहीं माखन-मिश्री के साथ पंचायमृत की व्यवस्था की जा रही थी। शहर के परकोटे में स्थित मंदिरों में कृष्ण जन्माष्टमी के विशेष आयोजन होंगे। दिन में ही भजन-कीर्तन और धार्मिक कार्यक्रम होंगे। आधी रात को 12 बजे कृष्ण के प्राकट्य पर विशेष पूजा की जाएगी। कृष्ण जन्मोत्सव को लेकर मंदिर की साज-सज्जा की गई है। दीवारों पर कृष्ण जन्म की पेटिंग बनाई जा रही है।
11 सौ किलो पंचामृत से होगा अभिषेक, कृष्ण जन्म पर होगी 11 विशेष आरती शहर के आराध्य देव गोपीनाथ राजा के कृष्ण जन्माष्टमी पर 11 सौ किलो पंचामृत से अभिषेक किया जाएगा। 651 किलो पंजीरी का प्रसाद लगाया जाएगा। प्राकट्य महोत्सव पर रात 12 से सवा दो बजे के बीच 11 विशेष आरती होगी। रविवार को तडक़े साढ़े पांच बजे मंगला आरती के साथ ही नंदोत्सव शुरू हो जाएगा। नंदोत्सव में माता यशोदा के कृष्ण को गोद में लेने की विशेष झांकियों के साथ छप्पन भोग भी लगाया जाएगा। साथ ही भजन-कीर्तन के आयोजन होंगे। मंदिर के महंत कैलाश देव गोस्वामी ने बताया कि शनिवार तडक़े मंगला आरती के साथ ही कृष्ण जन्माष्टमी के आयोजन शुरू हो जाएगे। फूल बंगले की झांकी सजाई जाएगी। भगवान गोपीनाथ पांच बार पोषाक बदलेंगे। शाम साढ़े छह, आठ और साढ़े नौ बजे आरती होगी। इसके बाद 12 बजे अभिषेक होगा। रात 12 से सवा दो बजे तक 11 बार जन्म की आरती होगी। जन्माष्टमी आयोजनों को लेकर शुक्रवार को निशान पदयात्रा निकाली गई। 151 निशानों के साथ पदयात्रा रघुनाथजी के मंदिर से शुरू हुई। जो शहर के प्रमुख मार्गो से होती हुई गोपीनाथ मंदिर पहुंची।
 श्रीनाथजी के रूप में दर्शन देंगे कल्याणधणी शहर के कल्याणजी के मंदिर में कृष्ण जन्माष्टमी पर भगवान का श्रीनाथजी की तरह श्रृंगार किया जाएगा। मंदिर के महंत विष्णुदत्त शर्मा ने बताया कि इसके लिए जयपुर से विशेष श्रृंगार मंगवाया गया है। मंदिर में शाम को सात से रात साढ़े 11 बजे तक अलवर के कलाकार प्रस्तुतियां देंगे। रात 12 बजे 51 किलो पंचामृत से अभिषेक किया जाएगा। जन्म की आरती के बाद प्रसाद वितरण होगा।
Read More :
ददरेवा मेला 2019: लोकदेवता गोगाजी की जन्मस्थली में उमड़ा आस्था का सैलाब, देखें नजारा
राधा-दामोदर मंदिर में होंगे भजन-कीर्तन परशुराम पार्क के पास स्थित राधा-दामोदर मंदिर में रात आठ बजे से भजन-कीर्तन किया जाएगा। रात 12 बजे भगवान का 51 किलो पंचामृत से अभिषेक होगा। प्रसाद वितरण किया जाएगा। परकोटे में स्थित छोटा गोपीनाथ, नया गोपीनाथ, वृजनंदन मंदिर, श्याम मंदिर, सत्यनारायण मंदिर, मुरली मनोहर मंदिर, मारू मंदिर, राम मंदिर, मदन मोहन मंदिर, गोविन्द देवजी मंदिर, बृजबिहारी मंदिर में भी कृष्ण जन्मोत्सव पर कार्यक्रम होंगे।विशेष संयोग में जन्म कृष्ण जन्माष्टमी पर इस वर्ष रोहिणी नक्षत्र में सूर्य सिंह राशि में, चंद्रमा उच्च राशि में वृषक में होंगे। इस शुभ घड़ी में अमृत सिद्धि योग, सर्वार्थ सिद्धि योग भी बन रहा है। पंडित दिनेश मिश्रा ने बताया कि जन्माष्टमी पर बाल कृष्ण की स्थापना की जाती है। श्रीकृष्ण के श्रृंगार में फूलों का विशेष महत्व है। इस दिन बाल गोपाल को झूले पर भी बैठाया जाता है।
फूटेगी धही मटकी, होगी प्रतियोगिता कृष्ण जन्माष्टमी पर शहर में धही मटकी फोड़ प्रतियोगिताएं भी होगी। श्री बालाजी नवयुवक मंडल की ओर से जाट बाजार में रात आठ बजे से मटकी फोड़ प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा। यहां पर 25 फिट की ऊंचाई पर मटकी बांधी जाएगी। जयपुर व शेखावाटी के कलाकार रंगारंग कार्यक्रम पेश करेंंगे। शंकरनाथ महाराज के सानिध्य में होने वाले आयोजन में विधायक राजेन्द्र पारीक, मोहर सिंह गौड़, पूर्व विधायक रतन जलधारी, दीपक शर्मा अतिथि होंगे। विश्व ***** परिषद और बजरंग दल की ओर से दादू व्यायाम शाला के पास मटकी फोड़ प्रतियोगिता होगी। यहां रात आठ बजे कबड्डी प्रतियोगिता होगी। राधाकिशनपुरा, रामलीला मैदान सहित कई क्षेत्रों में मोहल्ले वासियों की ओर से मटकी फोड़ प्रतियोगिता होगी।कृष्ण अवतार नाटक का मंचन आजसीकर. श्री चक्र नवयुवक मंडल की ओर से जन्माष्टमी पर सिटी डिस्पेंसरी नंबर दो के पास जगदीशजी के मंदिर के सामने श्रीकृष्णावतार नाटक का मंचन किया जाएगा। नाटक शनिवार को रात सवा आठ बजे से शुरू होगा। विधायक राजेन्द्र पारीक, नगर परिषद सभापति जीवण खां, यूआईटी के पूर्व चेयरमैन हरिराम रणवां व पूर्व विधायक रतन जलधारी कार्यक्रम के अतिथि होंगे।
सुरक्षा व्यवस्था को लेकर पुलिस ने कसी कमरसीकर. जन्माष्टमी को लेकर मंदिरों में सुरक्षा व्यवस्था को लेकर पुलिस ने कमर कस ली है। पुलिस अधिकारियों ने एक दिन पहले शाम को पुलिस जाप्ते के साथ शहर में पैदल मार्च भी किया। एएसपी देवेंद्र शर्मा ने बताया कि जन्माष्टमी को लेकर मंदिरों व शहर में सुरक्षा व्यवस्था को पुलिस की पूरी व्यवस्था की गई है। शहर में गोपीनाथ जीं मंदिर, कल्याण जी का मंदिर, रघुनाथजी का मंदिर पर पुलिस का अतिरिक्त जाप्ता रहेगा। जाट बाजार, सूरजपोलगेट, रामलीला मैदान, बजरंग कांटे, शीतला चौक पर भी पुलिस का जाप्ता मौजूद रहेगा। डीएसपी सिटी सौरभ तिवाड़ी, कोतवाल श्रीचंद सिंह, उद्योगनगर थानाधिकारी वीरेंद्र शर्मा पुलिस सुरक्षा व्यवस्था के लिए मौजूद रहेंगे। शहर में आरएसी व होमगाड्र्स के जवान भी रहेंगे। यातायात प्रभारी श्रीराम ट्रेफिक व्यवस्थाओं को संभालेंगे। चार मोबाइल पार्टियां व छह बाइकों पर जवान शहर में गश्त कर शरारती तत्वों पर नजर रखेंगे।

- Advertisement -
- Advertisement -
Stay Connected
16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe
Must Read
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -