- Advertisement -
Home Rajasthan News Sikar news घरेलू कलह के चलते पति ने ईंट से ताबड़तोड़ वार कर पत्नी...

घरेलू कलह के चलते पति ने ईंट से ताबड़तोड़ वार कर पत्नी को उतारा मौत के घाट

- Advertisement -

सीकर.
Husband Murder his Wife By Attack of Brick : निजी हॉस्टल वॉर्डन की रविवार सुबह घरेलु विवाद के कारण पति ने ईंट से ताबडतोड़ वार कर हत्या कर दी। हत्या के बाद शोर सुनकर आए लोगों ने आरोपी पति को पकड़ लिया सूचना पर पहुंची उद्योग नगर पुलिस ने आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस आरोपी से घटना के बारे में पूछताछ कर रही है। वहीं पुलिस ने मृतका के परिजनों को घटना की सूचना देकर बुलाया। पुलिस ने पोस्टमार्टम करवा कर परिजनों को सौंप दिया। थानाधिकारी वीरेंद्र कुमार शर्मा ने बताया कि मृतका सुनीता (30) पत्नी सांवरमल भामूं निवासी तिबारिया जोबनेर की रहने वाली थी। वह पिछले पांच महीने से सीकर में पिपराली रोड पर स्थित निजी हॉस्टल में वॉर्डन का काम कर रही थी।
सुबह करीब साढ़े नौ बजे सांवरमल हॉस्टल में आया। उसके हाथ में ईंट थी। हॉस्टल के चैनल गेट के पास ही सुनीता कुर्सी पर पीछे की ओर पीठ कर बैठी हुई थी। सांवरमल ने पीछे से उसके सिर में ईंट से वार करना शुरू कर दिया। सुनीता नीचे फर्श पर बेहोश होकर गिर पड़ी। सांवरमल फर्श पर भी उसके सिर में ईंट से वार करता रहा। उसने चार-पांच बार ईंट से वार किया। तभी हॉस्टल की छात्राएं वहां पर आ गई। इस दौरान आसपड़ोस के लोग भी आ पहुंचे। उन्होंने सांवरमल के पकड़ लिया। मौके पर ही सुनीता की मौत हो चुकी थी।
Read More :
अस्पताल से छुट्टी के बाद मरीज के साथ लौट रहा था परिवार, बीच रास्ते ट्रोले में घुसी एंबुलेंस, मौत
सांवरमल हाथ छुड़ा कर भागने का प्रयास करने लगा। उसने लोगों के हाथ पर भी काट लिया। सूचना मिलने पर थानाधिकारी वीरेंद्र कुमार, एसआई कंचन, राजेश सिहाग पुलिस जाप्ते के साथ मौके पर पहुंच गए। पुलिस सुनीता को अस्पताल लेकर पहुंची तो उसे डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। लोगों ने आरोपी को पकड़ कर पुलिस हवाले कर दिया। पुलिस ने पीडि़त परिवार की रिपोर्ट पर हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।
10 महीने पहले भी मारने का प्रयास किया ( Crime in Sikar )जांच के दौरान सामने आया कि दोनों की शादी 2007 में हुई थी। इनके बीच में 10 महीने पहले भी विवाद हुआ था। सांवरमल ने सुनीता का गला दबा कर मारने का प्रयास किया था। तब सुनीता अपने पीहर हिंगोनिया डूंगरी में आ गई थी। जोबनेर थाने में भी मारपीट का मुकदमा दर्ज कराया गया। तब दोनों के परिवार के बीच में रिश्तेदारों ने मिलकर राजीनामा कराया। इसके बाद दोबारा से सुनीता ससुराल चली गई थी। तब उनके बीच में लिखित में समझौता भी हुआ था। सांवरमल ने हर महीने 10 हजार रुपए खर्चा के लिए सुनीता को देने का वादा भी किया था। उसके बाद से कई बार उनके बीच में कहासुनी हुई थी।
मृतका सुनीता के पिता ने बताया कि सुबह बेटी ने घर पर फोन किया था। तब ऐसी कोई बात नहीं थी। उसने केवल बेटे और परिवार के हालचाल के बारे में ही बात की। उन्होंने बताया कि सांवरमल एक दिन पहले ही सीकर आ गया था। इस बारें में उन्हें बाद में पता लगा। सुबह करीब साढ़े नौ बजे हॉस्टल से फोन आया था। वह काम से बाहर गए हुए थे और मोबाइल घर पर ही था। वापस लौट कर आने के बाद उन्हें घटना का पता लगा। तब पूरा परिवार सीकर आया।
Read More :
दूसरे राज्यों के बदमाश राजस्थान पुलिस के लिए बने सिरदर्द, 6 माह में 778 वारदात को अंजाम दिया
बेटे को अच्छे स्कूल में पढ़ाने के लिए की नौकरी सुनीता के चाचा रमेश कुमार ने बताया कि सांवरमल कोई काम नहीं करता था। सुनीता खेती भी करने लगी। तब फसलों को बेच कर रुपयों को ले जाता था। उनके 11 साल का एक बेटा है। सुनीता ने बीएड़ करने के बाद नौकरी करने की बात ठान ली थी। वह बेटे को अच्छे अंग्रेजी स्कूल में पढ़ाना चाहती थी। इसलिए उसने सीकर में आकर हॉस्टल में नौकरी करनी शुरू कर दी। पति-पत्नी के बीच में विवाद के बाद से बेटा नाना के पास ही रहकर पढ़ाई करने लगा था। वह छठीं कक्षा में पढ़ता है।

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

एक्ट्रेस हिमांशी खुराना भड़की कंगना रनौत पर

एक्ट्रेस कंगना रनौत का किसान आंदोलन का लेकर जो नजरिया रहा है, उस पर अलग ही बहस छिड़ गई है. उस सब के ऊपर...
- Advertisement -

आखिर क्यों बदनाम करना चाहते है किसान आंदोलन को भजपा के नेता

न जाने क्यों बीजेपी के नेता किसानों के आंदोलन के पीछे पड़ चुके हैं. अध्यादेश आने के बाद से ही किसान केंद्र सरकार तक...

राजस्थान में यहां एक दिन में 187 कोरोना मरीज हुए स्वस्थ, 30 नए पॉजिटिव

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में गुरुवार को 187 कोरोना मरीज स्वस्थ हुए। जबकि 30 नए कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए। जिसके बाद...

बैठक में किसानों ने ठुकराया सरकार का खाना, जानिए अब तक क्या हुआ

दिल्ली के विज्ञान भवन में सरकार और किसान नेताओं की बैठक जारी है. कृषि कानूनों पर सरकार और किसान नेताओं की चौथे दौर की...

Related News

एक्ट्रेस हिमांशी खुराना भड़की कंगना रनौत पर

एक्ट्रेस कंगना रनौत का किसान आंदोलन का लेकर जो नजरिया रहा है, उस पर अलग ही बहस छिड़ गई है. उस सब के ऊपर...

आखिर क्यों बदनाम करना चाहते है किसान आंदोलन को भजपा के नेता

न जाने क्यों बीजेपी के नेता किसानों के आंदोलन के पीछे पड़ चुके हैं. अध्यादेश आने के बाद से ही किसान केंद्र सरकार तक...

राजस्थान में यहां एक दिन में 187 कोरोना मरीज हुए स्वस्थ, 30 नए पॉजिटिव

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में गुरुवार को 187 कोरोना मरीज स्वस्थ हुए। जबकि 30 नए कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए। जिसके बाद...

बैठक में किसानों ने ठुकराया सरकार का खाना, जानिए अब तक क्या हुआ

दिल्ली के विज्ञान भवन में सरकार और किसान नेताओं की बैठक जारी है. कृषि कानूनों पर सरकार और किसान नेताओं की चौथे दौर की...

किसानों ने जिलेभर में किया प्रदर्शन, चुनाव बाद उग्र आंदोलन की तैयारी

सीकर. केन्द्र सरकार के कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली में जारी किसानों के प्रदर्शन के समर्थन में सीकर में अखिल भारतीय किसान...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here