- Advertisement -
Home News Health News : ये काम करेंगे तो नहीं खानी पड़ेगी डायबिटीज की...

Health News : ये काम करेंगे तो नहीं खानी पड़ेगी डायबिटीज की गोलियां

- Advertisement -

किसी स्वस्थ व्यक्ति का Blood Shugar खाली पेट 100 से 126 है और खाना खाने के बाद 140 से 200 हो गया है तो वो Pre-Diabetes की श्रेणी में आता है। ब्लड शुगर लेवल इससे अधिक है तो वो व्यक्ति डायबीटीज का रोगी बन चुका है।
इनको Diabetes का खतरा सबसे ज्यादा
प्री-डायबिटीज मुख्य रूप से मोटे लोग, गर्भवती, सिगरेट व शराब का प्रयोग करने वालों के साथ ब्लड प्रेशर या हाइपरटेंशन के मरीजों को होने का खतरा अधिक रहता है। जिनके परिवार में ये बीमारी आनुवांशिक है वो प्री-डायबिटीज के शिकार जल्दी होते हैं। खास बात ये है कि प्री-डायबिटीज का रोगी होने पर कोई खास लक्षण नहीं दिखता है। ऐेसे में ब्लड शुगर की नियमित जांच बहुत जरूरी है जिससे इसे समय रहते पहचाना जा सके। 100 लोग प्री- डायबिटीज के मरीज हैं तो उसमें से दस लोग डायबिटीज के मरीज बन जाते हैं। पूरी दुनिया में चीन के बाद भारत दूसरा देश हैं जहां करीब आठ से नौ करोड़ की आबादी मधुमेह रोगी है।
बचने का एकमात्र तरीकाप्री-डायबिटीज से बचने का एकमात्र तरीका है जीवनशैली में बदलाव के साथ खानपान पर नियंत्रण। व्यक्ति को प्रो एक्टिव होना पड़ेगा। रोजाना कम से कम 30 मिनट एक्सरसाइज करने के साथ प्रोटीनयुक्त खाद्य पदार्थ जिसमें सब्जी, सलाद, दाल और हरी पत्तेदार सब्जियां ज्यादा खानी चाहिए। जिन खाद्य पदार्थो में कार्बोहाइड्रेट्स की मात्रा अधिक होती है उनको खाने से बचना चाहिए।
काली मिर्च, हल्दी, दालचीनी का प्रयोग प्री- डायबिटीज एक ऐसी अवस्था है जिसका समुचित इलाज खुद मरीज के पास होता है। दिनचर्या के साथ खानपान पर विशेष ध्यान देने के साथ खाने में काली मिर्च, हल्दी, दालचीनी और तेज पत्ते का प्रयोग अधिक किया जाए तो फायदा मिलेगा। प्री- डायबिटीज श्रेणी में आने पर मीठा खाने का दिल हो तो गुड़ और शहद औषधि की तरह ले सकते हैं। लौकी, करेला, ककोरा और कड़वे रस वाली सब्जियां खाई जाएं तो फायदा मिलेगा।
सुबह की सैर फायदेमंदव्यक्ति प्री- डायबिटीज श्रेणी में क्यों आया इसकी जांच के बाद उसको दवा दी जाती है। इस स्थिति में व्यायाम के साथ योगा और सुबह की सैर फायदेमंद होगी। प्री- डायबिटीज में तीन से छह महीने तक दवाएं चलती हैं और रोगी को आराम मिल जाता है। खाना एक साथ खाने की बजाए चार से पांच बार में कुछ अंतराल पर खाएं। मधुमेह रोगी होम्योपैथी की मीठी गोली को 50 एमएल पानी में घोल लें और फिर उसका दो चम्मच पी लें, पूरा असर होगा।
एक्सपर्ट : डॉ. राजीव कासलीवाल डायबिटीज एक्सपर्टएक्सपर्ट : डॉ. सुमित नत्थानी, आयुर्वेद विशेषज्ञ

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

मलकेड़ा में सबसे कम मतों से जीती सरपंच, जानें कौन कहां कितने मतों से रहा विजयी

सीकर.लोकतंत्र के उत्सव में सोमवार को पिपराली पंचायत के मतदाता पूरी तरह रंगे हुए नजर आए। मतदाताओं ने अपने वोट की ताकत के...
- Advertisement -

केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के खिलाफ कांग्रेस की नई रणनीति, जानें संविधान के किस अनुच्छेद से ढूंढा जा रहा है तोड़

देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने रविवार को कृषि और किसानों से जुड़े बिलों को मंजूरी दे दी है. मगर, विपक्ष अब भी कृषि...

पंचायत चुनाव में कोरोना पॉजिटिव सांसद सुमेधानंद सरस्वती ने दिया वोट

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले की पिपराली पंचायत समिति की 26 ग्राम पंचायतों में पंच व सरपंच के लिए हुए मतदान में सांसद...

सचिन पायलट का भाजपा पर फिर हमला

पायलट बोले- जब सरकार अपने घटक दल अकाली दल को ही नहीं समझा पाए तो किसानों को कैसे समझा पाएंगे. राजस्थान में कांग्रेस विधायक सचिन...

Related News

मलकेड़ा में सबसे कम मतों से जीती सरपंच, जानें कौन कहां कितने मतों से रहा विजयी

सीकर.लोकतंत्र के उत्सव में सोमवार को पिपराली पंचायत के मतदाता पूरी तरह रंगे हुए नजर आए। मतदाताओं ने अपने वोट की ताकत के...

केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के खिलाफ कांग्रेस की नई रणनीति, जानें संविधान के किस अनुच्छेद से ढूंढा जा रहा है तोड़

देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने रविवार को कृषि और किसानों से जुड़े बिलों को मंजूरी दे दी है. मगर, विपक्ष अब भी कृषि...

पंचायत चुनाव में कोरोना पॉजिटिव सांसद सुमेधानंद सरस्वती ने दिया वोट

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले की पिपराली पंचायत समिति की 26 ग्राम पंचायतों में पंच व सरपंच के लिए हुए मतदान में सांसद...

सचिन पायलट का भाजपा पर फिर हमला

पायलट बोले- जब सरकार अपने घटक दल अकाली दल को ही नहीं समझा पाए तो किसानों को कैसे समझा पाएंगे. राजस्थान में कांग्रेस विधायक सचिन...

कविता: ओ सपनों में जीने वालों

कविता: ओ सपनों में जीने वालों ओ सपनो में जीने वालों,छुप-छुपकर न यूँ अश्क बहाओ।ख्वाब तुम्हारे भी है कुछ,ना उनको यूँ मिटाओ।सुख दुःख तो...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here