- Advertisement -
Home News RSS और ABVP से जुड़े गुंडों ने किया था अटैक – आइशी...

RSS और ABVP से जुड़े गुंडों ने किया था अटैक – आइशी घोष

- Advertisement -

जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में छात्रों पर हुए हमले के लिए जेएनीयू छात्र संघ की अध्यक्ष आइशी घोष ने आरएसएस और एबीवीपी को जिम्मेदार ठहराया है.

आइशी ने सोमवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि आरएसएस से जुड़े प्रोफेसर्स 4-5 दिन से हमारे आंदोलन को खत्म करने के लिए यूनिवर्सिटी में हिसां भड़का रहे थे. उन्होंने कहा कि हमले के लिए पहले से प्लानिंग की गई थी और वे लोगों को बाहर निकल-निकालकर हमला कर रहे थे. आइशी ने कहा कि जेएनयू सिक्योरिटी और हमलावरों के बीच साठ-गांठ थी, जिसकी वजह से उन्होंने हिंसा रोकने के लिए कोई कदम नहीं उठाया. हमारी मांग है कि यूनिवर्सिटी के वाइस-चांसलर को तुरंत हटाया जाए.

Jawaharlal Nehru University Student Union (JNUSU) President Aishe Ghosh: Yesterday’s attack was an organised attack by goons of RSS and ABVP. Since past 4-5 days violence was being promoted in the campus by some RSS affiliated professors and ABVP. #Delhi pic.twitter.com/MY6kmB7DsU— ANI (@ANI) January 6, 2020

उन्होंने कहा कि जेएनयू की लोकतांत्रिक संस्कृति को कुचलने की कोशिश की जा रही है, जो सफल नहीं होगी. उन्होंने कहा, ‘छात्रों के खिलाफ लोहे की छड़ का जवाब वाद-विवाद और बातचीत के जरिए दिया जाएगा. जेएनयू की संस्कृति खत्म नहीं होगी, वह बरकरार रहेगी. आइशी के अलावा जेएनयू छात्र संघ के उपाध्यक्ष साकेत मून ने भी आरोप लगाया कि जब जरूरत थी, तब सुरक्षा मौजूद नहीं थी.

साकेत मून ने आरोप लगाया कि दिल्ली पुलिस पहली कॉल के दो घंटे बाद पहुंची. उन्होंने कहा, हमने दो घंटे पुलिस को फोन किया लेकिन हमें मदद नहीं मिली. दिल्ली पुलिस ने अपने बयान में कहा कि जब उन्हें यूनिवर्सिटी कैंपस में हिंसा की खबर मिली तो वे यूनिवर्सिटी के गेट पर पहुंच गए. लेकिन उन्हें एक घंटे बाद कैंपस में घुसने की परमिशन मिली.

बता दें कि जेएनयू परिसर में रविवार (5 दिसंबर) रात उस वक्त हिंसा भड़क गई, जब लाठियों से लैस कुछ नकाबपोश लोगों ने छात्रों तथा शिक्षकों पर हमला किया, परिसर में संपत्ति को नुकसान पहुंचाया, जिसके बाद प्रशासन ने पुलिस बुलाई. हमले में जेएनयू छात्र संघ की अध्यक्ष आईशी घोष सहित 28 लोग घायल हो गए, जिन्हें एम्स में भर्ती कराया गया.

सूत्रों ने बताया कि हिंसा शाम करीब 5 बजे शुरू हुई. जेएनयू प्रशासन ने कहा कि लाठियों से लैस नकाबपोश उपद्रवी परिसर के आसपास घूम रहे थे. वे संपत्ति को नुकसान पहुंचा रहे थे और लोगों पर हमले कर रहे थे. कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस को बुलाया गया.

आइशी घोष ने कहा- पुलिस से की थी बाहरी लोगों के कैंपस में होने की शिकायत, पर नहीं हुआ कोई एक्शन. आइशी घोष ने कहा, ‘दोपहर से ऐसी खबरें थीं कि बाहरी लोग कैंपस में दाखिल हुए हैं. जिसके बाद दोपहर करीब ढाई बजे हमने पुलिस से इसकी शिकायत की. हमने पुलिस से कहा कि हम सुरक्षित महसूस नहीं कर रहे हैं. वह लोग बाहर से अंदर कैसे आए. वीसी एम. जगदीश कुमार की वजह से ये सब हुआ है. उनको इस्तीफा देना चाहिए. MHRD को उनको हटाना चाहिए.

बताया गया है कि हमलावरों में कुछ JNU के विद्यार्थी भी थे, लेकिन ज़्यादातर हमलावर बाहरी थे. बताया गया है कि जिस जगह हिंसा हुई, वहां कोई CCTV कैमरे भी नहीं लगे हैं. हिंसा में कुल 34 लोग ज़ख्मी हुए, जिनमें ABVP और वामपंथी, दोनों विद्यार्थी शामिल हैं. सभी को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है. पुलिस के मुताबिक, कुछ हमलावरों की पहचान कर ली गई है.

Thought of Nation राष्ट्र के विचार
The post RSS और ABVP से जुड़े गुंडों ने किया था अटैक – आइशी घोष appeared first on Thought of Nation.

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

किसानों पर ड्रोन से रखी जा रही नजर, ऐसा क्या है?

केंद्र द्वारा लाए गए कृषि कानूनों के विरोध में किसान संगठनों के प्रदर्शन को देखते हुए दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर पर कड़ी सुरक्षा है और ड्रोन...
- Advertisement -

मुंबई से खाटूश्यामजी की 11 पैदल यात्रा की, जिन आदिवासी गांवों से गुजरे वहां भी पूजे जाने लगे बाबा श्याम

सीकर/खाटूश्यामजी. एक कहावत है जैसा रहे संग, वैसा चढ़े रंग। अमूमन ये अच्छी- बुरी संगति से किसी व्यक्ति में आए बदलाव के लिए...

शेखावाटी में फिर गिरा तापमान, कोहरे संग शीतलहर ने ठिठुराया

सीकर. शेखावाटी में सर्दी का सितम गुरुवार को भी जारी है। बुधवार को अंचल के कई इलाकों में हल्की बरसात के बाद गुरुवार...

पत्रिका चेंजमेकर: धोद में स्थापित हो पंचायत समिति कार्यालय

सीकर/धोद. राजस्थान पत्रिका के चेंजमेकर अभियान ( Rajasthan Patrika change maker campaign) के तहत बुधवार को फतेहपुर (Fatehpur panchayat samiti) व धोद पंचायत...

Related News

किसानों पर ड्रोन से रखी जा रही नजर, ऐसा क्या है?

केंद्र द्वारा लाए गए कृषि कानूनों के विरोध में किसान संगठनों के प्रदर्शन को देखते हुए दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर पर कड़ी सुरक्षा है और ड्रोन...

मुंबई से खाटूश्यामजी की 11 पैदल यात्रा की, जिन आदिवासी गांवों से गुजरे वहां भी पूजे जाने लगे बाबा श्याम

सीकर/खाटूश्यामजी. एक कहावत है जैसा रहे संग, वैसा चढ़े रंग। अमूमन ये अच्छी- बुरी संगति से किसी व्यक्ति में आए बदलाव के लिए...

शेखावाटी में फिर गिरा तापमान, कोहरे संग शीतलहर ने ठिठुराया

सीकर. शेखावाटी में सर्दी का सितम गुरुवार को भी जारी है। बुधवार को अंचल के कई इलाकों में हल्की बरसात के बाद गुरुवार...

पत्रिका चेंजमेकर: धोद में स्थापित हो पंचायत समिति कार्यालय

सीकर/धोद. राजस्थान पत्रिका के चेंजमेकर अभियान ( Rajasthan Patrika change maker campaign) के तहत बुधवार को फतेहपुर (Fatehpur panchayat samiti) व धोद पंचायत...

कबाड़ी को बेचने के लिए लूटी एसयूवी, रास्ते में पलटी तो पकड़े गए लुटेरे

सीकर. राजस्थान के सीकर शहर के उद्योग नगर थाना इलाके में चालक को धक्का देकर एसयूवी लूट के आरोपी नौ सिखिया निकले। उन्होंने...
- Advertisement -