- Advertisement -
Home Rajasthan News Sikar news फर्स्ट ईयर के विद्यार्थी होंगे प्रमोट, बाकी की हो सकती है परीक्षा

फर्स्ट ईयर के विद्यार्थी होंगे प्रमोट, बाकी की हो सकती है परीक्षा

- Advertisement -

सीकर. कोरोना के नए वायरस की इन्ट्री और कॉलेज विद्यार्थियों के शत प्रतिशत वैक्सीनेशन नहीं होने की वजह से इस साल भी यूजी प्रथम वर्ष के विद्यार्थियों को प्रमोशन का तोहफा मिल सकता है। यूजीसी के नियमों के हिसाब से द्वितीय व अंतिम वर्ष के विद्यार्थियों की परीक्षाएं कराने की योजना बनाई जा रही है। शुक्रवार को हुई मंत्रिमण्डल की बैठक में भी कॉलेज विद्यार्थियों की परीक्षा कराने को लेकर लगभग दस मिनट तक चर्चा हुई। लेकिन मुख्यमंत्री ने अभी इस मामले में कोई निर्णय नहीं किया है। सूत्रों का कहना है कि बैठक के जरिए यह संकेत जरूर मिले है कि प्रथम वर्ष के विद्यार्थियों को प्रमोट किया जा सकता है। इधर, प्रदेश के विद्यार्थियों की ओर से वैक्सीनेशन होने के बाद ही परीक्षाओं का आयोजन करने की मांग उठाई जा रही है। सूत्रों की माने तो उच्च शिक्षा विभाग की ओर से यूजीसी की गाइडलाइन के हिसाब से निर्णय लेने की तैयारी की जा रही है। इस महीने आखिर तक राज्य सरकार की ओर से इस मुद्दे पर कोई निर्णय लिए जाने की संभावना है।अभी तक यह प्रस्ताव हुआ तैयार: तृतीय वर्ष की अगले महीने तक परीक्षा संभवसूत्रों की माने तो सरकार ने अभी तक दो प्रस्ताव तैयार किए है। पहले प्रस्ताव में बताया कि प्रथम वर्ष की परीक्षाएं नहीं कराई जाए। द्वितीय वर्ष की परीक्षाएं दिसम्बर तक कराई जा सकती है। अंतिम वर्ष की परीक्षा जुलाई व अगस्त महीने तक कराने की योजना है। दूसरे फॉर्मूले में प्रथम वर्ष के साथ द्वितीय वर्ष के विद्यार्थियों को भी प्रमोट करने की योजना है। ऐसा होता है तो सिर्फ अंतिम वर्ष के विद्यार्थियों की परीक्षाएं होगी।
यूजी, पीजी के साथ लॉ, बीएड व तकनीकी पाठ्यक्रमों पर लागू होगा फैसलाराज्य सरकार की ओर से अब लागू किए जाने वाले फॉर्मूले को यूजी व पीजी के साथ लॉ, बीएड सहित अन्य तकनीकी पाठ्यक्रमों पर लागू किया जाएगा। प्रदेश के 25 लाख से अधिक विद्यार्थियों को सरकार की अधिकृत घोषणा का इंतजार है।तो बेपरी होगा कॉलेजों का सत्रप्रदेश के सरकारी व निजी स्कूलों में नया शिक्षा सत्र शुरू हो चुका है। लेकिन कॉलेज परीक्षाओं को लेकर अब तक कोई निर्णय नहीं होने की वजह से कॉलेज का शिक्षा सत्र बेपटरी हो रहा है। हालांकि जुलाई महीने में राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से कक्षा बाहरवीं की अंकतालिका जारी किए जाने की संभावना है। यदि बारहवीं की विद्यार्थियों को अंकतालिका मिलती है तो प्रथम वर्ष में दाखिले की दौड़ शुरू होगी। जबकि हर साल जुलाई महीने में कक्षाएं लगाना शुरू हो जाता है।प्रदेश के सभी विवि को गाइडलाइन का इंतजारराज्य सरकार की ओर से उच्च शिक्षा व तकनीकी पाठ्यक्रमों के परिणाम को लेकर एक उच्च स्तरीय समिति बनाई थी। इस समिति ने भी सरकार को रिपोर्ट दे दी है। कई विवि परीक्षाओं के लिए प्रश्न पत्र सहित अन्य सामग्री दूसरी लहर से पहले ही तैयार करा चुके। ऐसे में अब विश्वविद्यालयों के साथ कॉलेजों को सरकार की नई गाइडलाइन का इंतजार है।सरकार की देरी, सभी का बढ़ता इंतजारयूजीसी व राज्य सरकार की ओर से ही परीक्षाओं के संबंध में निर्णय लिया जाना है। विवि की ओर से सभी स्तर की तैयारी पूरी है। परीक्षाओं की घोषणा होने के बाद नया शैक्षिक सत्र भी रफ्तार पकड़ेगा।प्रोफेसर भगीरथ सिंह बिजाराणियां, कुलपति, शेखावाटी विवि, सीकरप्रथम वर्ष के विद्यार्थी हो प्रमोट: कॉलेज संचालकराज्य सरकार को प्रथम वर्ष के विद्यार्थियों को प्रमोट करना चाहिए। इससे कोरोना संक्रमण का खतरा नहीं रहेगा। शैक्षिक गुणवत्ता के हिसाब से अन्य विद्यार्थियों की परीक्षाएं ऑनलाइन या ऑफलाइन मोड के आधार पर कराई जा सकती है। सरकार को जल्द इस मामले में निर्णय लेना चाहिए।
नवरंग चौधरी, अध्यक्ष, निजी कॉलेज संघ
अब कौनसे साल की करें पढ़ाई: विद्यार्थीराज्य सरकार के परीक्षा या प्रमोट करने के निर्णय में हो रही देरी की वजह से विद्यार्थी पढ़ाई भी नहीं कर पा रहे हैं। इसके अलावा अंतिम वर्ष के विद्यार्थियों को बीएड सहित अन्य पाठ्यक्रमों में प्रवेश लेने की तैयारी करनी है। युवाओं का कहना है कि विभिन्न विभागों की ओर से इस महीने के आखिर तक भर्तियों की विज्ञप्ति भी निकलनी है। परीक्षा समय पर नहीं होने पर वे आवेदन से वंचित रह सकते हैं।
इनका कहना है…कॉलेज शिक्षा की परीक्षाओं का निर्णय अभी प्रक्रियाधीन है। जल्द ही कोई निर्णय लिया जाएगा।भंवर सिंह भाटी, उच्च शिक्षा मंत्री

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

पांचवे दिन फिर लौटा कोरोना, चार नए मरीज मिले

सीकर. राजस्थान के सीकर शहर में कोराना पांचवे दिन वापस लौट आया। जिले में शुक्रवार को कारोना के चार नए मरीज मिले। जिसके...
- Advertisement -

Rakesh Tikait की बेटी और बहू ने भी बुलंद की आवाज़

लंबे वक्त से दिल्ली की सीमा पर बैठे किसान कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं. भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत (Rakesh...

नाबालिग से नग्न होकर करता था गंदी हरकतें, परिजनों ने वीडियो बनाया, 48 वर्षीय आरोपी गिरफ्तार

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले के ग्रामीण इलाके में पुलिस ने नग्न होकर नाबालिग के सामने अश्लील हरकत करने के आरोपी को गिरफ्तार...

Shri Ganga Nagar में BJP नेता कैलाश मेघवाल के फाड़े कपड़े

राजस्थान के श्रीगंगानगर (Shri Ganga Nagar) में राज्य सरकार के खिलाफ हो रहे भाजपा के जिला स्तरीय प्रदर्शन में शामिल होने आए हनुमानगढ़ के...

Related News

पांचवे दिन फिर लौटा कोरोना, चार नए मरीज मिले

सीकर. राजस्थान के सीकर शहर में कोराना पांचवे दिन वापस लौट आया। जिले में शुक्रवार को कारोना के चार नए मरीज मिले। जिसके...

Rakesh Tikait की बेटी और बहू ने भी बुलंद की आवाज़

लंबे वक्त से दिल्ली की सीमा पर बैठे किसान कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं. भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत (Rakesh...

नाबालिग से नग्न होकर करता था गंदी हरकतें, परिजनों ने वीडियो बनाया, 48 वर्षीय आरोपी गिरफ्तार

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले के ग्रामीण इलाके में पुलिस ने नग्न होकर नाबालिग के सामने अश्लील हरकत करने के आरोपी को गिरफ्तार...

Shri Ganga Nagar में BJP नेता कैलाश मेघवाल के फाड़े कपड़े

राजस्थान के श्रीगंगानगर (Shri Ganga Nagar) में राज्य सरकार के खिलाफ हो रहे भाजपा के जिला स्तरीय प्रदर्शन में शामिल होने आए हनुमानगढ़ के...

एनएचएम में 155 पदों पर होगी भर्ती

सीकर. राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन में 155 पदों पर भर्ती होगी। राज्य सरकार राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन ( एनएचएम ) के तहत जिला स्तर तथा...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here