- Advertisement -
Home News विधानसभा में चौंकाने वाला खुलासा: घर-दुकान या खेत में लग जाए आग...

विधानसभा में चौंकाने वाला खुलासा: घर-दुकान या खेत में लग जाए आग तो बुझाने नहीं आएगी फायर ब्रिगेड

- Advertisement -

कोटा. घर, दुकान या प्रतिष्ठान की बात तो छोडि़ए खेत और खलिहान को दावानल (आग) से बचाना है तो खुद ही इंतजाम कर लें। अग्निशमन विभाग आपकी मदद को नहीं आएगा, क्योंकि वो खुद खाली पदों, फायरमैन और वाहनचालकों की कमी से जूझ रहा है। प्रदेश में 198 अग्निशमन केंद्र हैं, लेकिन यहां तैनात फायरमैन से लेकर फायरब्रिगेड चालकों तक के 1325 पद खाली पड़े हैं। ऊपर से खराब और नाकारा संसाधन इसमें कोढ़ में खाज का काम कर रहे हैं।
Read More: कोटा में देर रात तीन मंजिला हॉस्टल में लगी भीषण आग, 28 स्टूडेंट्स फंसे, रेस्क्यू कर निकाला, कोचिंग नगरी में अफरा-तफरीकोटा दक्षिण विधायक संदीप शर्मा ने विधानसभा में पूछे गए सवाल के जवाब में स्वायत्त शासन विभाग ने बताया कि प्रदेश में आग बुझाने के लिए अग्निशमन विभाग के पास महज 569 अग्निशमन वाहन हैं। जिनमे 411 अग्निशमन वाहन चालू हैं, जबकि 76 लंबे समय से खराब हैं। 82 अग्निशमन वाहन इस्तेमाल के इंतजार में नाकारा हो चुके हैं। मतलब साफ है कि प्रदेश की करीब साढ़े सात करोड़ आबादी के लिए महकमे के पास सिर्फ 411 अग्निशमन वाहन ही मौजूद हैं।
Read More: विधानसभा में सनसनीखेज खुलासा: कोटा में वन विभाग की 190 हैक्टेयर भूमि पर बस गई 700 मकानों की अवैध बस्तीगांव, कस्बे भगवान भरोसे शहरी इलाकों में तो आग लगने के बाद जैसे-तैसे फायर ब्रिगेड पहुंच भी जाती है, लेकिन गांव, कस्बों का तो भगवान ही मालिक है। अग्निशमन विभाग ने स्वीकारा है कि उनके पास ग्रामीण इलाकों में लगी आग को बुझाने की न तो पर्याप्त व्यवस्था है और ना ही संसाधन। नतीजन, जब भी आग इन इलाकों को अपनी चपेट में लेती है तब आपदा प्रबधन और सहायता एवं नागरिक सुरक्षा विभाग की ओर ताकना मजबूरी बन जाता है। जब कुछ भी नहीं सूझता तो निकटतम नगरीय निकाय से अग्निशमन वाहन एवं संसाधन गांवों के लिए रवाना किए जाते हैं। तब तक बड़ा नुकसान हो चुका होता है।
watch: हाड़ौती में मूसलाधार बारिश से कोटा में चंबल तो बूंदी में मेज नदी उफनी, बैराज और गुढाबांध के खुले 4-4 गेटकार्य प्रगति पर है बढ़ते शहर और आबादी के बावजूद अग्निशमन विभाग की तैयारियां जैसे दशकों पहले थीं, अब भी वही हैं। यहां तक कि दशकों से खाली पड़े पदों को भी नहीं भरा जा सका है। नतीजतन, मुख्य अग्निशमन अधिकारी से लेकर फायर ब्रिगेड के चालकों तक खाली पड़े 1,325 पदों के मुकाबले सिर्फ वाहन चालक के 193 पदों पर ही भर्ती की प्रक्रिया चल रही है।
Read More: दर्दनाक: मातम में बदली ईद की खुशियां, बेटियों के सिर से उठा पिता का साया, मां की चित्कार से कांप उठा कलेजा यह है रिक्त पदजानकारी के अनुसार 2 मुख्य अग्निशमन अधिकारी, 16 अग्निशमन अधिकारी, 51, सहायक अग्निशमन अधिकारी 137, लीडिग फायरमैन 678, फायरमैन तथा 441 वाहन चालक फायर के पद रिक्त हैं।

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

भाजपा के लिए उपचुनाव में बड़ी चुनौती

उपचुनाव में भाजपा की राह में उसके अपने कांटा न बन जाएं. खासकर मंत्रियों वाली सीटों पर ऐसे हालात दिख रहे हैं. पार्टी इस...
- Advertisement -

कविता: ये राजनीति!

काश! ये राजनीति न हो!नीति न सही अनीति न हो!भाई-भाई को लड़वाए सिर फुड़वाएप्रेम के बंधन नित तुड़वाए!वैर बढ़ाए मन को मन से...

क्यों मोदी सरकार के लिए बड़ा झटका है हरसिमरत कौर का इस्तीफा

कृषि संबंधी विधेयक लोकसभा से पास होने के बाद भी मोदी सरकार की टेंशन कम होने का नाम नहीं ले रही है. विपक्षी दलों और...

IPL में सट्टे के लिए करोड़ों की राशि ग्राहकों के खाते में जमा

  सीकर. संयुक्त अरब अमीरात में 19 सितम्बर से शुरू हो रहे आईपीएल को लेकर शेखावाटी में सट्टे की पिच तैयार है। सट्टा कारोबारियों...

Related News

भाजपा के लिए उपचुनाव में बड़ी चुनौती

उपचुनाव में भाजपा की राह में उसके अपने कांटा न बन जाएं. खासकर मंत्रियों वाली सीटों पर ऐसे हालात दिख रहे हैं. पार्टी इस...

कविता: ये राजनीति!

काश! ये राजनीति न हो!नीति न सही अनीति न हो!भाई-भाई को लड़वाए सिर फुड़वाएप्रेम के बंधन नित तुड़वाए!वैर बढ़ाए मन को मन से...

क्यों मोदी सरकार के लिए बड़ा झटका है हरसिमरत कौर का इस्तीफा

कृषि संबंधी विधेयक लोकसभा से पास होने के बाद भी मोदी सरकार की टेंशन कम होने का नाम नहीं ले रही है. विपक्षी दलों और...

IPL में सट्टे के लिए करोड़ों की राशि ग्राहकों के खाते में जमा

  सीकर. संयुक्त अरब अमीरात में 19 सितम्बर से शुरू हो रहे आईपीएल को लेकर शेखावाटी में सट्टे की पिच तैयार है। सट्टा कारोबारियों...

हरसिमरत कौर के इस्तीफे से दुष्यंत चौटाला पर बढ़ा दबाव

सरकार के कृषि अध्‍यादेशों को लेकर केंद्र की राष्‍ट्रीय लोकतांत्रिक गठबंधन (NDA) सरकार में मतभेद साफ तौर उभरते नजर आ रहे हैं.  NDA में बीजेपी...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here