- Advertisement -
Home News सरकार द्वारा बैन लगाए जाने के बावजूद अब तक प्ले स्टोर/ऐप स्टोर...

सरकार द्वारा बैन लगाए जाने के बावजूद अब तक प्ले स्टोर/ऐप स्टोर पर क्यों दिख रहे हैं ये चाइनीज ऐप्स?

- Advertisement -
Advertisement

भारत सरकार ने इन ऐप को प्रतिबंधित तो कर दिया, लेकिन मंगलवार सुबह तक ये ऐप गूगल प्ले स्टोर पर मौजूद हैं. यानी इन ऐप्स को कोई व्यक्ति अपने स्मार्टफोन पर डाउनलोड कर सकता था.
चीन से तनातनी के बीच केंद्र सरकार ने 59 चीनी ऐप्स को बैन कर दिया है. इनमें भारत में बेहद लोकप्रिय रहे टिकटॉक, शेयर इट, यूसी ब्राउजर जैसे ऐप शामिल हैं.
इलेक्ट्रानिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने ऐसे 59 चीनी ऐप की सूची जारी की है, जो अब भारत में प्रतिबंधित हैं. मंत्रालय ने कहा, हमारे पास विश्वसनीय सूचना है कि ये ऐप ऐसा गतिविधि में लगे हुए थे, जिससे हमारी संप्रभुता और अखंडता और रक्षा को खतरा था, इसलिए हमने ये कदम उठाए.
सरकार ने इन ऐप को प्रतबंधित तो कर दिया, लेकिन मंगलवार सुबह तक ये ऐप गूगल प्ले स्टोर पर मौजूद हैं. यानी इन ऐप्स को कोई व्यक्ति अपने स्मार्टफोन पर डाउनलोड कर सकता था. जब हमने मंगलवार सुबह प्रतिबंधित ऐप की सूची में शामिल यूसी ब्राउजर को डाउनलोड करना चाहा तो ये ऐप आसानी से डाउनलोड होकर मोबाइल में इंस्टॉल भी हो गया. देर रात तक Apple के ऐप स्टोर पर ये सभी 59 चीनी ऐप्स लाइव हैं. यानी अब भी यूजर्स इन्हें डाउनलोड कर सकते हैं. जो लोग ये ऐप यूज करते हैं उनके पास ये ऐप काम भी कर रहे हैं.
बता दें कि सरकार द्वारा इन ऐप्स को प्रतिबंधित करने के बाद इसकी सूचना Android और iOS platforms को दी जाती है. सरकार के इस निर्देश पर अमल करने में कंपनियां कुछ समय लेती हैं और इसके बाद इन्हें ऐप प्लेटफॉर्म से हटाया जाता है. सोशल मीडिया पर यूजर्स अब लगातार ये सवाल पूछ रहे हैं कि ये किस तरह का बैन है और ये बैन कब से प्रभावी होग, क्योंकि ऐप तो अब भी काम कर रहे हैं और ये अब तक प्ले स्टोर और ऐप स्टोर में डाउनलोड के लिए उपलब्ध हैं तो फिर इसे कैसे बैन कहा जाए.
बता दें कि इलेक्ट्रानिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने अपने बयान में कहा है कि चायनीज ऐप्स द्वारा भारत के यूजर्स का डाटा का संकलन, माइनिंग और प्रोफाइलिंग राष्ट्रीय सुरक्षा और भारत की रक्षा के लिए सही नहीं थे, जिससे हमारे देश की संप्रभुता और अखंडता प्रभावित हो रही थी और यह गहरी चिंता का विषय था और इस पर तत्काल कदम उठाने की जरूरत थी. मंत्रालय ने कहा कि यह कदम करोड़ों भारतीय मोबाइल यूजर्स के हितों की रखवाली करेगा.
The post सरकार द्वारा बैन लगाए जाने के बावजूद अब तक प्ले स्टोर/ऐप स्टोर पर क्यों दिख रहे हैं ये चाइनीज ऐप्स? appeared first on THOUGHT OF NATION.

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

अशोक गहलोत ने कैसे और क्यों सचिन पायलट को विद्रोह के लिए उकसाया?

राजस्थान में मौजूदा राजनीतिक संकट के लिए कौन जिम्मेदार है जिसने कांग्रेस नीत सरकार की स्थिरता को खतरे में डाल दिया- मुख्यमंत्री अशोक गहलोत...
- Advertisement -

सीकर में चार नए कोरोना पॉजिटिव मिले, 17 डिस्चार्ज

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में मंगलवार को चार नए कोरोना पॉजिटिव केस मिले। जबकि 17 मरीज स्वस्थ होकर घर अस्पताल से घर...

बगावत से सचिन पायलट ने क्या-क्या खोया?

सीएम पद की चाह अब सचिन पायलट पर इतनी भारी पड़ गई है कि न वो कांग्रेस सरकार के उपमुख्यमंत्री रहे हैं और न...

शिक्षक के वकील बेटे गोविंद सिंह डोटासरा यूं पहुंचे पीसीसी चीफ की कुर्सी तक

सीकर. राजस्थान की सियासत में कई दिनों से चल रही उठापटक के बीच अब उलटफेर हो गया है। बागी हुए सचिन पायलट (sachin...

Related News

अशोक गहलोत ने कैसे और क्यों सचिन पायलट को विद्रोह के लिए उकसाया?

राजस्थान में मौजूदा राजनीतिक संकट के लिए कौन जिम्मेदार है जिसने कांग्रेस नीत सरकार की स्थिरता को खतरे में डाल दिया- मुख्यमंत्री अशोक गहलोत...

सीकर में चार नए कोरोना पॉजिटिव मिले, 17 डिस्चार्ज

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में मंगलवार को चार नए कोरोना पॉजिटिव केस मिले। जबकि 17 मरीज स्वस्थ होकर घर अस्पताल से घर...

बगावत से सचिन पायलट ने क्या-क्या खोया?

सीएम पद की चाह अब सचिन पायलट पर इतनी भारी पड़ गई है कि न वो कांग्रेस सरकार के उपमुख्यमंत्री रहे हैं और न...

शिक्षक के वकील बेटे गोविंद सिंह डोटासरा यूं पहुंचे पीसीसी चीफ की कुर्सी तक

सीकर. राजस्थान की सियासत में कई दिनों से चल रही उठापटक के बीच अब उलटफेर हो गया है। बागी हुए सचिन पायलट (sachin...

उपमुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाए गए सचिन पायलट, 3 मंत्रियों पर एक्शन

राजस्थान में जारी सियासी खींचतान में मंगलवार को बड़ा उलटफेर हुआ. कांग्रेस पार्टी ने सचिन पायलट पर एक्शन लेते हुए उन्हें उपमुख्यमंत्री पद और...
- Advertisement -