- Advertisement -
Home News जेएनयू पहुँचीं दीपिका पादुकोण, इसका असर बड़ा होगा

जेएनयू पहुँचीं दीपिका पादुकोण, इसका असर बड़ा होगा

- Advertisement -

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में रविवार शाम हुई हिंसा के ख़िलाफ़ प्रदर्शन में फ़िल्म अभिनेत्री दीपिका पादुकोण शामिल हुईं. जेएनयू परिसर के पास सैकड़ों की तादाद में जमा छात्र-छात्राएँ और आम जनता जमा हैं. उन्होंने सरकार विरोधी नारे लगाए, रविवार रात को हुई मारपीट के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाई और दोषियों के ख़िलाफ़ कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने की माँग की है. दीपिका पादुकोण भी उनमें शामिल हैं.

बॉलीवुड एक्टर दीपिका पादुकोण छात्रों के समर्थन में जेएनयू पहुंची हैं. वो जेएनयू हिंसा के विरोध में हुए प्रदर्शन में शामिल हुईं. दीपिका 7 जनवरी की शाम साबरमती टी प्वाइंट पहुंचीं और छात्रों को समर्थन दिया. दीपिका ने जेएनयू छात्र संघ (JNUSU) अध्यक्ष आइशी घोष से भी मुलाकात की, जो हिंसा में जख्मी हो गई थीं.

इससे पहले जब दीपिका से जेएनयू में छात्रों के साथ हुई हिंसा पर सवाल किया गया था, तो उन्होंने कहा था, मुझे ये कहते हुए गर्व महसूस होता है कि हम खुद को व्यक्त करने से डरते नहीं हैं. मुझे लगता है कि हम देश और इसके भविष्य के बारे में सोच रहे हैं, जो भी हमारी विचारधारा हो, ये देखना अच्छा है.

5 जनवरी की शाम जेएनयू में छात्रों के साथ हुई मारपीट और हिंसा की कई बॉलीवुड सितारों ने निंदा की है. आलिया भट्ट, अनुराग कश्यप, दीया मिर्जा, कृति सेनन, स्वरा भास्कर, अनुभव सिन्हा, नीरज घेवान, विशाल भारद्वाज समेत कई सितारों ने छात्रों के साथ हुई हिंसा पर गुस्सा जाहिर किया. जेएनयू हिंसा के विरोध में मुंबई के गेटवे ऑफ इंडिया पर 5 जनवरी की रात से प्रदर्शन हो रहा है. अनुराग कश्यप, जोया अख्तर, तापसी पन्नू, सौरभ शुक्ला, सुधीर मिश्रा, रेखा भारद्वाज, रिचा चड्डा जैसे कई सितारे इस प्रदर्शन में शामिल हुए.

दिल्ली की जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) में 5 जनवरी की शाम भारी हिंसा और तोड़फोड़ हुई है. पुलिस इसे दो ग्रुप्स के बीच झड़प का नतीजा बता रही है. वहीं, जेएनयू छात्र संघ ने छात्रों और प्रोफेसरों पर हमले के पीछे अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) का हाथ होने का आरोप लगाया है. उधर, एबीवीपी लेफ्ट विंग एक्टिविस्ट्स पर जेएनयू में हिंसा के आरोप लगा रहा है.

दीपिका पादुकोण का जेएनयू पहुँच कर विरोध प्रदर्शन में शामिल होना बेहद अहम है. इसका सांकेतिक महत्व तो है ही, इसका तुरन्त असर यह होगा कि छात्र-छात्राओं का मनोबल बढ़ेगा, वे इस आन्दोलन में खुद को अकेला नहीं पाएंगे. प्रदर्शनकारियों को यह लगेगा कि बिल्कुल ग्लैमर और तड़क-भड़क की दुनिया में रहने वाले लोग, जिनके बारे में कहा जाता है कि वे ज़मीनी सच्चाइयों से जुड़े नहीं होते, वे भी इस आन्दोलन में उनके साथ हैं.

दीपिका के जेएनयू दौरे का विरोध भी शुरू हो गया है. बीजेपी प्रवक्ता तेजिंदर पाल सिंह बग्गा ने ट्वीट कर लोगों से अपील की कि दीपिका ने टुकड़े-टुकड़े और अफजल गैंग का समर्थन किया है. इसलिए उनकी फिल्मों का बहिष्कार करें. वहीं फिल्म अभिनेत्री स्वरा भास्कर ने दीपिका के इस कदम की तारीफ की है. उधर, सोशल मीडिया पर #boycottchhapak ट्रेंड करने लगा.

जेएनयू हमले के विरोध में देश के कई हिस्सों में विरोध-प्रदर्शन हुआ, जिसमें बॉलीवुड की कई नामी हस्तियों और छात्रों ने भी हिस्सा लिया. हैदराबाद, पुणे, मुंबई, कोलकाता और तमिलनाडु में लोगों ने जेएनयू हमले का विरोध किया और नारेबाजी की. सोमवार को कोलकाता में पुलिस और जादवपुर यूनिवर्सिटी के छात्रों के बीच झड़प भी हो गई थी, जिसके बाद पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा था.

यह भी पढ़े : बहुत से लोग नकाब पोश गुंडों को देखते हुए नहीं देख पा रहे हैं

Thought of Nation राष्ट्र के विचार

The post जेएनयू पहुँचीं दीपिका पादुकोण, इसका असर बड़ा होगा appeared first on Thought of Nation.

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

क्या मोदी सरकार किसानों को एमएसपी की गारंटी दे सकती है? जानिए इस सरकार की हक़ीक़त

बीजेपी को इसके जन्म बल्कि इसके पूर्ववर्ती अवतार जनसंघ के समय से ही व्यापारी समर्थक पार्टी माना जाता है. आज की किसान समस्या के...
- Advertisement -

सरकार और किसानों के बीच आज बातचीत, ठोस नतीजा नहीं निकलने पर किसानो ने दी बड़ी चेतावनी

केंद्र के कृषि कानून के खिलाफ किसान दिल्ली बॉर्डर पर डटे हुए हैं. देशभर में जारी किसानों के विरोध प्रदर्शन के बीच किसान संगठनों...

राहुल गांधी ने बिहार का उदाहरण देकर मोदी सरकार को घेरा

कांग्रेस सांसद ने कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों के समर्थन में फिर से ट्वीट किया है. राहुल गांधी ने कहा है...

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने शुक्रवार को कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संबोधित किया

प्रियंका गांधी ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि यूपी में जहां भी दलितों के साथ अत्याचार हो वहां आप खड़े रहें, उनकी...

Related News

क्या मोदी सरकार किसानों को एमएसपी की गारंटी दे सकती है? जानिए इस सरकार की हक़ीक़त

बीजेपी को इसके जन्म बल्कि इसके पूर्ववर्ती अवतार जनसंघ के समय से ही व्यापारी समर्थक पार्टी माना जाता है. आज की किसान समस्या के...

सरकार और किसानों के बीच आज बातचीत, ठोस नतीजा नहीं निकलने पर किसानो ने दी बड़ी चेतावनी

केंद्र के कृषि कानून के खिलाफ किसान दिल्ली बॉर्डर पर डटे हुए हैं. देशभर में जारी किसानों के विरोध प्रदर्शन के बीच किसान संगठनों...

राहुल गांधी ने बिहार का उदाहरण देकर मोदी सरकार को घेरा

कांग्रेस सांसद ने कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों के समर्थन में फिर से ट्वीट किया है. राहुल गांधी ने कहा है...

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने शुक्रवार को कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संबोधित किया

प्रियंका गांधी ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि यूपी में जहां भी दलितों के साथ अत्याचार हो वहां आप खड़े रहें, उनकी...

सीकर- जयपुर की पुलिस सबसे स्मार्ट, सवाईमाधोपुर की सबसे फिसड्डी

सीकर. एक दौर था जब केवल डंडे के आधार पर पुलिस का चेहरा तय किया जाता था। समय के बदलते दौर के साथ...
- Advertisement -