- Advertisement -
Home News संसद में कांग्रेस को इस साल मिलेगी खुशखबरी, BJP को लगेगा तगड़ा...

संसद में कांग्रेस को इस साल मिलेगी खुशखबरी, BJP को लगेगा तगड़ा झटका

- Advertisement -

इस साल राज्यसभा की 73 सीटों के लिए चुनाव कराने होंगे, क्योंकि साल के अंत तक राज्यसभा के 69 सदस्यों का कार्यकाल खत्म हो जाएगा. जिन लोगों का कार्यकाल इस साल खत्म हो रहा है, उसमें 18 भाजपा के और 17 कांग्रेस के सदस्य शामिल हैं.

इसके अलावा चार सीटें पहले से ही रिक्त पड़ी हैं. ऐसे में इस साल उच्य सदन की 73 सीटों के लिए चुनाव कराए जाएंगे.  इस साल अकेले उप्र से 10 सीटें खाली हो रही हैं। राज्य में भाजपा की सरकार है, इसलिए ज्यादातर सीटें भाजपा के खाते में जाएंगी. सबसे ज्यादा नुकसान यहां समाजवादी पार्टी को होगा.  अभी हाल ही में हुए विधानसभा चुनावों के नतीजों का साफ-साफ असर राज्यसभा चुनाव पर पड़ेगा. राज्य विधानसभाओं का अंकगणित इस बार भाजपा के खिलाफ जा रहा है.

आंकड़ों से साफ है कि भाजपा अपने सदस्यों की संख्या में इजाफा नहीं कर पाएगी, जिससे राज्यसभा में वह बहुमत से दूर ही रहेगी. जबकि कांग्रेस और उसके सहयोगी दलों की सदस्य संख्या बढ़ेगी.

गौरतलब है कि 2018 और 2019 में भाजपा को कुछ राज्यों में हार का सामना करना पड़ा है, जिसका सीधा असर राज्यसभा के द्विवार्षिक चुनाव परिणाम पर पड़ेगा. दूसरी तरफ, कांग्रेस और उसके सहयोगी दलों की स्थिति 245 सदस्यीय राज्यसभा में सुधरेगी.

इस समय भाजपा के राज्यसभा में 83, और कांग्रेस के 46 सदस्य हैं. समीकरण के हिसाब से राज्यसभा में भाजपा की संख्या 83 के आसपास बनी रहेगी और सदन में बहुमत की उसकी आस फिलहाल पूरी नहीं हो पाएगी.

यह भी पढ़े : उत्तर प्रदेश सरकार की नीतियों के खिलाफ लाखों शिक्षको का सड़कों पर उतरने का किया ऐलान

इस साल राज्यसभा से कई दिग्गजों का कार्यकाल समाप्त हो रहा है. इनमें केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी, रामदास आठवले, दिल्ली भाजपा नेता विजय गोयल शामिल हैं. कांग्रेस के दिग्विजय सिंह और एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार का भी कार्यकाल इसी साल खत्म हो रहा है. 

आपको बताते चलें कि राज्यसभा को छोड़कर अगर लोकसभा की बात करें तो लोकसभा में भाजपा भारी बहुमत में है. 2019 के चुनाव में प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भाजपा को भारी बहुमत मिला है. दोबारा प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी सरकार ने कई फैसले लिए हैं, जिसमें धारा 370 को कमजोर करके कश्मीर को दो हिस्सों में बांट कर केंद्र शासित प्रदेशों में तब्दील करना और नागरिकता संशोधन कानून को लागू करवाना रहा है.

हालांकि नागरिकता संशोधन कानून जब से संसद में पारित हुआ है उसके बाद से ही पूरे देश में इसके विरोध में आंदोलन हो रहे हैं. देश में इस कानून के खिलाफ आंदोलन कई जगह पर हिंसक भी हुए हैं. पूरे देश में कई लोगों की गिरफ्तारी भी हुई है. इस कानून को लेकर भाजपा की लगातार आलोचना हो रही है, कई लोगों का कहना है कि धर्म के आधार पर नागरिकता देना संविधान के खिलाफ है.

यह भी पढ़े : जनता की आवाज कांग्रेस उठा रही है.भाजपा के साथ क्षेत्रीय पार्टियां क्यों परेशान है? आइए जानते हैं क्यों

Thought of Nation राष्ट्र के विचार

The post संसद में कांग्रेस को इस साल मिलेगी खुशखबरी, BJP को लगेगा तगड़ा झटका appeared first on Thought of Nation.

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

एक्ट्रेस हिमांशी खुराना भड़की कंगना रनौत पर

एक्ट्रेस कंगना रनौत का किसान आंदोलन का लेकर जो नजरिया रहा है, उस पर अलग ही बहस छिड़ गई है. उस सब के ऊपर...
- Advertisement -

आखिर क्यों बदनाम करना चाहते है किसान आंदोलन को भजपा के नेता

न जाने क्यों बीजेपी के नेता किसानों के आंदोलन के पीछे पड़ चुके हैं. अध्यादेश आने के बाद से ही किसान केंद्र सरकार तक...

राजस्थान में यहां एक दिन में 187 कोरोना मरीज हुए स्वस्थ, 30 नए पॉजिटिव

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में गुरुवार को 187 कोरोना मरीज स्वस्थ हुए। जबकि 30 नए कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए। जिसके बाद...

बैठक में किसानों ने ठुकराया सरकार का खाना, जानिए अब तक क्या हुआ

दिल्ली के विज्ञान भवन में सरकार और किसान नेताओं की बैठक जारी है. कृषि कानूनों पर सरकार और किसान नेताओं की चौथे दौर की...

Related News

एक्ट्रेस हिमांशी खुराना भड़की कंगना रनौत पर

एक्ट्रेस कंगना रनौत का किसान आंदोलन का लेकर जो नजरिया रहा है, उस पर अलग ही बहस छिड़ गई है. उस सब के ऊपर...

आखिर क्यों बदनाम करना चाहते है किसान आंदोलन को भजपा के नेता

न जाने क्यों बीजेपी के नेता किसानों के आंदोलन के पीछे पड़ चुके हैं. अध्यादेश आने के बाद से ही किसान केंद्र सरकार तक...

राजस्थान में यहां एक दिन में 187 कोरोना मरीज हुए स्वस्थ, 30 नए पॉजिटिव

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में गुरुवार को 187 कोरोना मरीज स्वस्थ हुए। जबकि 30 नए कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए। जिसके बाद...

बैठक में किसानों ने ठुकराया सरकार का खाना, जानिए अब तक क्या हुआ

दिल्ली के विज्ञान भवन में सरकार और किसान नेताओं की बैठक जारी है. कृषि कानूनों पर सरकार और किसान नेताओं की चौथे दौर की...

किसानों ने जिलेभर में किया प्रदर्शन, चुनाव बाद उग्र आंदोलन की तैयारी

सीकर. केन्द्र सरकार के कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली में जारी किसानों के प्रदर्शन के समर्थन में सीकर में अखिल भारतीय किसान...
- Advertisement -