- Advertisement -
Home Rajasthan News Sikar news बजट पास : नए साल में हर्ष पर सैलानियों को मिलेगी ये...

बजट पास : नए साल में हर्ष पर सैलानियों को मिलेगी ये सौगात

- Advertisement -

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले के प्रमुख पर्यटन स्थल हर्ष पर्वत पर घूमने की चाह रखने वाले सैलानियों के लिए अच्छी खबर है। नए साल में उन्हें हर्ष की चोटी पर पहुंचने के लिए लंबी व चौड़ी सड़क मिल सकेगी। सार्वजनिक निर्माण विभाग की ओर से आंतरी मोड़ से हर्ष की चोटी तक की जर्जर और असुरक्षित सड़क के स्थान पर नई सड़क बनाई जाएगी। नई सड़क के निर्माण के लिए वित्त विभाग ने बजट की स्वीकृति जारी कर दी है। इस राशि को सार्वजनिक निर्माण विभाग की ओर से वन विभाग को जमा कराया जाएगा। इसके बाद फाइल को वन विभाग में जमा कराया जाएगा। जहां से फाइल को सड़क बनाने की अनुशंषा के साथ राज्य सरकार के जरिए लखनऊ भेजा जाएगा। सब कुछ ठीक रहा तो नवम्बर माह के पहले पखवाड़े तक डायवर्जन की स्वीकृति मिल जाएगी। हालांकि सड़क निर्माण की प्रक्रिया के दौरान अगले माह लगने वाली आचार संहिता के कारण काम कुछ समय के लिए बाधित हो सकता है। गौरतलब है कि हर्ष पर्वत पर सड़क निर्माण के लिए बरसों से मुख्यमंत्री, वनमंत्री, प्रभारी मंत्री व आलाधिकारी तक कई बार घोषणा कर चुके थे। लेकिन सभी घोषणाएं महज कागजी साबित हुई। लेकिन, अब एक बार फिर सड़क निर्माण की उम्मीद जगी है।
तीन साल से अटका था मामलाजनप्रतिनिधियों सहित जिला प्रशासन की उपेक्षा के कारण पिछले तीन साल से हर्ष पर्वत की सड़क की न तो देखरेख हो रही थी और न ही सड़क की चौडाई बढ़ाने के लिए डायवर्जन हो पा रहा था। इस कारण यह पर्यटकों के लिए हादसों का सबब बन गई थी। ऐसे में कई बार राजस्थान पत्रिका ने जिम्मेदारों की लापरवाही को लेकर समाचार प्रकाशित किए। इसके बाद हरकत में आए जनप्रतिनिधियों सहित प्रशासन ने इस क्षतिग्रस्त सड़क को नए सिरे से बनवाने के लिए पहल की और अब छह करोड रुपए का बजट पारित करवाया।
साढे पांच मीटर चौड़ी होगी सड़क, बनेगी प्रोटेक्शन वाल
आंतरी मोड़ से शुरू होने वाली यह सड़क पहाड़ी से होते हुए हर्ष पर्वत तक जाती है। बरसों पहले हर्ष पर्वत पर पवन चक्कियां लगाने के लिए सड़क मार्ग की मरम्मत करवाई गई थी। इसके बाद से सड़क नहीं बनी। सबसे ज्यादा परेशानी इस सड़क की चौडाई की थी। क्योंकि पहाड़ी वन विभाग की है और सड़क पीडब्ल्यूडी की। ऐसे में वन विभाग ने बिना डायवर्जन शुल्क के मोड़ वाले स्थान पर पहाड़ी कटाई करने से मना कर दिया। नतीजन सड़क चौड़ी नहीं हो सकी। लेकिन, अब डायवर्जन होने से यह सड़क भी साढे पांच मीटर चौड़ी हो जाएगी। जहां सकड़ी सड़क है वहां कटाई भी की जाएगी। साथ ही पानी की निकासी का पूरा ध्यान रखा जाएगा। खतरनाक घुमाव वाले स्थानों पर करीब डेढ करोड़ की लागत से सुरक्षा दीवार बनाने सहित अन्य प्रोटेक्शन वर्क करवाया जाएगा। जिससे हर्ष पर्वत की सड़क सुरक्षित हो जाएगी।
इनका कहना हैहर्ष पर्वत की छह करोड़ की लागत से बनने वाली सडक के लिए टेंडर लगा दिए हैं। स्वीकृत राशि में से डायवर्जन के लिए वित्त विभाग से 50 लाख रुपए की स्वीकृति मिल चुकी है। यह राशि वन विभाग को ई-चालान के जरिए दिए जाएंगे। डायवर्जन की स्वीकृति मिलते ही काम शुरू हो जाएगा।
गोपाल सिंह, एक्सईएन, सार्वजनिक निर्माण विभाग सीकर
सार्वजनिक निर्माण विभाग से डायवर्जन के लिए राशि जमा कराई जाएगी। पीडब्ल्यूडी से फाइल आते ही अनुशंषा के साथ जयपुर भेज दी जाएगी। जहां से फाइल लखनऊ जाएगी। जल्द ही इस सडक की स्वीकृति मिल जाएगी।भीमाराम चौधरी, डीएफओ सीकर

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

मोदी सरकार से बातचीत की पेशकश किसानों ने क्यों ठुकराई, जानिए यहां

कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलित किसान संगठनों ने शर्तों के साथ बातचीत की केंद्र सरकार की पेशकश ठुकरा दी है. केंद्रीय गृह मंत्री अमित...
- Advertisement -

फतेहपुर में तापमान तीन डिग्री , सर्दी का सितम जारी

सीकर. राजस्थान के शेखावाटी इलाके में सर्दी का असर सोमवार को भी कायम है। हालांकि आज फतेहपुर में न्यूनतम तापमान में हल्की बढ़ोत्तरी...

जानिए कौन है जोगिंदर सिंह उगराहां जिनके हाथ में पंजाब के सबसे बड़े किसान संगठन की कमान

पिछले दो महीने से केंद्रीय कृषि कानूनों के विरोध में पंजाब में चल रहे किसानों के आंदोलन का फोकस अब दिल्ली की सीमाओं पर...

किसान आंदोलन पर सरकार की नड्डा के घर चल रही बैठक

कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों के धरने का रविवार को चौथा दिन है. किसान दिल्ली की सीमा पर 26 नवंबर से...

Related News

मोदी सरकार से बातचीत की पेशकश किसानों ने क्यों ठुकराई, जानिए यहां

कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलित किसान संगठनों ने शर्तों के साथ बातचीत की केंद्र सरकार की पेशकश ठुकरा दी है. केंद्रीय गृह मंत्री अमित...

फतेहपुर में तापमान तीन डिग्री , सर्दी का सितम जारी

सीकर. राजस्थान के शेखावाटी इलाके में सर्दी का असर सोमवार को भी कायम है। हालांकि आज फतेहपुर में न्यूनतम तापमान में हल्की बढ़ोत्तरी...

जानिए कौन है जोगिंदर सिंह उगराहां जिनके हाथ में पंजाब के सबसे बड़े किसान संगठन की कमान

पिछले दो महीने से केंद्रीय कृषि कानूनों के विरोध में पंजाब में चल रहे किसानों के आंदोलन का फोकस अब दिल्ली की सीमाओं पर...

किसान आंदोलन पर सरकार की नड्डा के घर चल रही बैठक

कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों के धरने का रविवार को चौथा दिन है. किसान दिल्ली की सीमा पर 26 नवंबर से...

53 नए कोरोना पॉजीटिव मिले, 32 हुए स्वस्थ

(Sikar Corona Update) सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में रविवार को कोरोना के 53 नए मरीज सामने आए। जबकि 32 पूर्व संक्रमित स्वस्थ...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here