- Advertisement -
Home News जेपी नड्डा के फैसले से बीजेपी का घमासान सड़कों पर

जेपी नड्डा के फैसले से बीजेपी का घमासान सड़कों पर

- Advertisement -

एक महीने बाद पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव होने हैं. चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी (BJP) के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पार्टी के अहम पदों में कुछ फेरबदल किये हैं.
पश्चिम बंगाल में मुकुल रॉय समेत तीन पार्टी नेताओं को अहम पद दिया गया है. मुकुल रॉय को बीजेपी का राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया गया है. वहीं अनुपम हाज़रा को राष्ट्रीय सचिव और राजू बिस्ता को राष्ट्रीय प्रवक्ता का कार्यभार सौंपा गया है. इस दौरान पार्टी ने राहुल सिन्हा से बीजेपी के राष्ट्रीय सचिव का पद छीन लिया है.
हालांकि पार्टी अध्यक्ष का यह फैसला राहुल सिन्हा को पसंद नहीं आया है. एक वीडियो मैसेज जारी कर राहुल सिन्हा ने कहा कि मैंने बीजेपी को कई साल दिये. मैंने अपने 40 साल पार्टी की सेवा में लगाए. जो इनाम मुझे मिला वो यह कि एक टीएमसी नेता को लाया जा रहा है…इसलिए मुझे पद छोड़ना होगा…मेरी पार्टी ने मुझे इनाम दिया है और मुझे कुछ नहीं कहना है. जो कुछ भी मुझे कहना है मैं अगले 10-12 दिनों में कहूंगा.
राहुल सिन्हा इससे पहले दो बार लगातार राज्य बीजेपी अध्यक्ष के पद पर रह चुके हैं. साल 2015 में वो पार्टी के राष्ट्रीय सचिव नियुक्त किये गये थे. वहीं मुकुल रॉय कभी तृणमूल कांग्रेस में नंबर 2 की हैसियत रखते थे. साल 2017 में मुकुल रॉय ने बीजेपी का दामन थाम लिया था.
बाद में मुकुल रॉय को नेशनल एग्जिक्यूटिव कमेटी का सदस्य भी बनाया गया था. साल 2019 के लोकसभा चुनाव के दौरान मुकुल रॉय ने पार्टी के लिए अहम भूमिका भी अदा की थी. चुनावी रणनीतिकार मानते हैं कि लोकसभा चुनाव के दौरान बीजेपी ने राज्य में जो 18 सीटें जीती थीं उनपर जीत दिलाने में मुकुल रॉय की भूमिका काफी अहम थी.
अनुपम हाजरा को जब तृणमूल कांग्रेस से निकाल दिया गया था तब उन्होंने मार्च, 2019 में बीजेपी ज्वायन कर लिया था. वहीं बिस्ता, दार्जलिंग से पार्टी के सांसद हैं. इधर पार्टी में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष की जिम्मेदारी मिलने के बाद मुकुल रॉय ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि बीजेपी दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी है. मैं जेपी नड्डा का आभार व्यक्त करता हूं. मैंने यह जिम्मेदारी कबूल कर ली है.
मैं अपने नेता नरेंद्र मोदी और अमित शाह जी को धन्यवाद देना चाहता हूं. जिस तरह अमित शाह जब अध्यक्ष थें तब हमारी पार्टी का विकास हुआ था अब हम जेपी नड्डा को सहयोग करेंगे ताकि वो पार्टी को और भी बड़ा बना सकें. बिहार के बाद पश्चिम बंगाल और असम में चुनाव होने हैं. हालांकि मैं दिल्ली का वोटर हूं..लेकिन मेरा जन्म बंगाल में हुआ था…यह मेरा राज्य है. पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव मार्च, अप्रैल या मई में हो सकते हैं. दिलीप घोष जैसे नेता के साथ मिलकर हम कोशिश करेंगे कि बंगाला में बीजेपी को भारी जीत मिल सके.
The post जेपी नड्डा के फैसले से बीजेपी का घमासान सड़कों पर appeared first on THOUGHT OF NATION.

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

नीतीश पर तेजस्वी और चिराग का फिर हमला

बिहार विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सियासी ज़मीन खोखली करने में जुटे एलजेपी मुखिया चिराग पासवान ने अब शराबबंदी को लेकर उन...
- Advertisement -

सुसाइड केस में थानेदार बेटे पर ग्रामीणों ने लगाए गंभीर आरोप, उठी सुसाइड नोट की जांच की मांग

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले के खंडेला कस्बे के होद गांव में सूदखोरी से परेशान होकर जोबनेर के थानाधिकारी के पिता की आत्म...

एक्शन में ठाकरे, बीजेपी आईटी सेल के सदस्य को दबोचा

उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में जब से महा विकास अघाडी की सरकार बनी है, मुख्यमंत्री और उनके बेटे आदित्य ठाकरे के ख़िलाफ़ वही प्रचार...

लोन नहीं चुकाने वाले किसानों की भूमि होगी नीलाम

सीकर. जिले में भूमि विकास बैंक के ओवर ड्यू लोन को नहीं चुकाने वाले किसानों की रहन रखी भूमि को कुर्क करने की...

Related News

नीतीश पर तेजस्वी और चिराग का फिर हमला

बिहार विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सियासी ज़मीन खोखली करने में जुटे एलजेपी मुखिया चिराग पासवान ने अब शराबबंदी को लेकर उन...

सुसाइड केस में थानेदार बेटे पर ग्रामीणों ने लगाए गंभीर आरोप, उठी सुसाइड नोट की जांच की मांग

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले के खंडेला कस्बे के होद गांव में सूदखोरी से परेशान होकर जोबनेर के थानाधिकारी के पिता की आत्म...

एक्शन में ठाकरे, बीजेपी आईटी सेल के सदस्य को दबोचा

उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में जब से महा विकास अघाडी की सरकार बनी है, मुख्यमंत्री और उनके बेटे आदित्य ठाकरे के ख़िलाफ़ वही प्रचार...

लोन नहीं चुकाने वाले किसानों की भूमि होगी नीलाम

सीकर. जिले में भूमि विकास बैंक के ओवर ड्यू लोन को नहीं चुकाने वाले किसानों की रहन रखी भूमि को कुर्क करने की...

कोरोना से उबरा बाजार: तीन मॉल के साथ शहर में खुले 80 से ज्यादा नए प्रतिष्ठान

सीकर. कहते हैं संकट के दौर में भी संभावनाएं और अवसर समाहित होते हैं। बाजार के लिए कोरोना काल भी ऐसा ही चुनौती...
- Advertisement -