- Advertisement -
Home Rajasthan News Sikar news सावधान! यदि आपको भूख नहीं लग रही है और कमजोरी है तो...

सावधान! यदि आपको भूख नहीं लग रही है और कमजोरी है तो आपको कोरोना हो सकता है

- Advertisement -

careful If you are not hungry, have weakness then you may have corona- कोरोना की दूसरी लहर में बदल रहे लक्षण- हल्की बुखार और हाथ पैरों में दर्द के साथ आ रहे पॉजिटिवसीकर. जिले में कोरोना वायरस (corona virus) की दूसरी लहर तेज हो गई है। दूसरी लहर के दौरान वायरस के नए स्ट्रेन के एक्टिव होने के कारण संक्रमित मरीजों में नए लक्षण भी नजर आ रहे हैं। यही कारण है कि कोरोना संक्रमण के दौरान अब सिर्फ बुखार, थकान या सूखी खांसी, स्वाद और गंध महसूस न होना ही लक्षण नहीं हैं। दूसरी लहर (second wave)के दौरान अब पेट दर्द, उल्टी, जोड़ों का दर्द, कमजोरी, भूख में कमी को भी कोरोना वायरस का लक्षण माना जा रहा है। चिकित्सकों के अनुसार कोरोना वायरस म्यूटेट हो जाने के कारण अब पाचन तंत्र को भी प्रभावित कर रहा है। इस कारण अब डायरिया, पेट दर्द, जी मिचलाना और उल्टी के लक्षण बढ़ रहे हैं। पिछले एक माह के दौरान आने वाले अधिकांश नए संक्रमितों में लक्षण हैं ही नहीं, लेकिन जिस तरह वायरस में बदलाव हो रहे हैं, संक्रमण की गंभीरता भी सामने आ रही है। खास तौर पर जिन लोगों को किसी न किसी तरह की गंभीर बीमारी हैं, उनके लिए यह संक्रमण घातक साबित हो रहा है। गौरतलब है कि इस कारण जिला लैब सहित निजी लैब में मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ती जा रही है।
गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल की समस्या बढ़ीकोविड का उपचार करने वाले चिकित्सकों के अनुसार अब संक्रमितों में कई तरह की गैस्ट्रोइन्टेस्टाइनल समस्याएं भी सामने आ रही हैं। पहले के मुकाबले इनकी संख्या बढ़ी है। कोरोना की पहली लहर के दौरान पेटदर्द, जोडों का दर्द, कमजोरी जैसे लक्षण दिखे ही नहीं थे, लेकिन अब ज्यादातर केस में यह लक्षण दिख रहे हैं। अलग-अलग आयुवर्ग के लोगों मेंअलग-अलग तरह के लक्षण सामने आ रहे हैं। राहत की बात यह है कि इन संक्रमितों में माइल्ड से मॉडरेट लक्षण होने के कारण मरीज गंभीर स्थिति तक नहीं रहे हैं। हालांकि व्यक्ति के वायरस से इन्फेक्ट होने के 5-6 दिन बाद यह लक्षण सामने आ रहे हैं। कई बार यह लक्षण 14 दिन तक भी सामने आए हैं।
कक्षा एक से आठवीं तक के स्कूल खोले तो सख्त कार्रवाई: एडीएमकोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए अपर जिला कलक्टर धारा सिंह मीणा ने स्कूल व कॉलेजों के संचालन को लेकर आदेश जारी किए है। धारा 144 के तहत अपर जिला कलक्टर ने आदेश जारी कर बताया कि नगर विकास न्यास (uit) क्षेत्र में कक्षा एक से आठवीं तक के स्कूल खोलने पर संबंधित के खिलाफ महामारी अधिनियम के प्रावधानों के तहत कार्रवाई होगी। बताया कि यह आदेश सरकारी व निजी स्कूलों पर लागू रहेगा। इसके अलावा कॉलेज, कोचिंग को राज्य सरकार की एसओपी की पालना करनी होगी।

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

रोचक: गुम भैंसों का हुआ फेसबुक लाइव, पांच दिन में ढूंढ निकाला असली हकदार

Interesting: Facebook Live of missing buffaloes... -सोशल मीडिया की मदद से मिली लापता भैंसें-व्हाट्सऐप ग्रुप और फेसबुक बने मददगारसीकर. अमूमन सोशल मीडिया(social media) की...
- Advertisement -

9 दिन बाद खुल जाएंगे स्कूल, नौनिहालों की डे्रस तय नहीं

फतेहपुर. राज्य सरकार ने दो अगस्त से स्कूल खोलने की इजाजत दे दी। सरकार ने सरकारी स्कूलों की ड्रेस बदलने की घोषणा कर...

मेडिकल कॉलेज को अस्पताल के लिए मिली जमीन

सीकर. सीकरवासियों के लिए कोरोनाकाल में राहतभरी खबर है। श्री कल्याण आरोग्य सदन सीकर ट्रस्ट ने मेडिकल कॉलेज के अस्पताल के लिए जमीन...

VIDEO: जेल में कैदियों के लिए खुलेगा पुस्तकालय, अच्छे साहित्य से बदलेंगे सोच

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले की शिवसिंहपुरा ओपन जेल में कैदियों के लिए पुस्तकालय खोला जाएगा। ताकि समय बिताने के साथ सद्साहित्य से...

Related News

रोचक: गुम भैंसों का हुआ फेसबुक लाइव, पांच दिन में ढूंढ निकाला असली हकदार

Interesting: Facebook Live of missing buffaloes... -सोशल मीडिया की मदद से मिली लापता भैंसें-व्हाट्सऐप ग्रुप और फेसबुक बने मददगारसीकर. अमूमन सोशल मीडिया(social media) की...

9 दिन बाद खुल जाएंगे स्कूल, नौनिहालों की डे्रस तय नहीं

फतेहपुर. राज्य सरकार ने दो अगस्त से स्कूल खोलने की इजाजत दे दी। सरकार ने सरकारी स्कूलों की ड्रेस बदलने की घोषणा कर...

मेडिकल कॉलेज को अस्पताल के लिए मिली जमीन

सीकर. सीकरवासियों के लिए कोरोनाकाल में राहतभरी खबर है। श्री कल्याण आरोग्य सदन सीकर ट्रस्ट ने मेडिकल कॉलेज के अस्पताल के लिए जमीन...

VIDEO: जेल में कैदियों के लिए खुलेगा पुस्तकालय, अच्छे साहित्य से बदलेंगे सोच

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले की शिवसिंहपुरा ओपन जेल में कैदियों के लिए पुस्तकालय खोला जाएगा। ताकि समय बिताने के साथ सद्साहित्य से...

अब नौकरी की दौड़ में शामिल होंगे बीएड इंटीग्रेटेड कोर्स के विद्यार्थी

सीकर. नियमों के पेंच में उलझे प्रदेश के दो लाख विद्यार्थियों के लिए राहतभरी खबर है। रीट परीक्षा से पहले उच्च शिक्षा विभाग...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here