- Advertisement -
Home News राष्ट्र के प्रति ऐसी दीवानगी की 67 वर्षीय बुजुर्ग 9 हजार लोगों...

राष्ट्र के प्रति ऐसी दीवानगी की 67 वर्षीय बुजुर्ग 9 हजार लोगों के सीने पर लगाएंगे तिरंगा बैज

- Advertisement -

 
जोधपुर. उम्र 67 साल। नाम हैं तेजराजसिंह चौहान (जब्सा)। शिक्षा विभाग से शारीरिक शिक्षक रिटायर्ड जब्सा की राष्ट्र के प्रति दीवानगी ऐसी हैं कि वे पिछले 8 सालों से लोगों के सीने पर खुद के पैसे तैयार करवाए गए बैज लगाते हैं। इस बार भी उन्होंने 9 हजार बैज अपने पैसों से तैयार करवाए हैं, जो उम्मेद राजकीय स्टेडियम में प्रवेश करने वाले हरेक कर्मचारी, अधिकारी व विद्यार्थी के सीने पर लगाएंगे। इसके लिए बाकायदा जब्सा को जिला प्रशासन की ओर से भी विशेष आमंत्रण दिया जाता है। हालांकि जब्सा स्वतंत्रता दिवस के दो दिन पूर्व से ही शिक्षा विभाग, अस्पताल, पुलिस चौकी, सडक़ पर व पेट्रोल पंप के पास खड़े होकर भी लोगों के तिरंगा बैज लगाते है। जब्सा कहते हैं कि आज से 8 साल पूर्व भारतीय क्रिकेट टीम वल्र्ड विजेता रहीं थी तब रवि शास्त्री तिरंगा लेकर मैदान पर दौड़े थे। ये नजारा देख वे बहुत गौरान्वित हुए और प्रभावित भी। इसके बाद उन्होंने ठान लिया कि वे हरेक लोगों के तिरंगा बैज लगाएंगे। जब्सा ने कहा कि उनका मानना है कि जिस तरह आध्यात्मिकता का प्रचार-प्रसार होता है, उसी तरह राष्ट्रभक्ति का प्रचार-प्रसार भी जरूरी है, देशभक्ति जगेगी तो लोगों में मानवता जागेगी। जब्सा का कहना है कि जब तक वे जिंदा रहेंगे, तब तक इसी तरह राष्ट्र प्रेम निभाते रहेंगे। 15 अगस्त और 26 जनवरी पर इस तरह लोगों के बैज लगाना अब जब्सा के लिए जुनून बन गया है। जब्सा ने इस बार 10 हजार रुपए खर्च कर बैज तैयार करवाए हैं।

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

कृषि नीति में हो बदलाव

स्वतंत्रता के पश्चात भारत की कृषि नीति लाभ व लोभ आधारित रही। जिसके चलते भारत की परंपरागत व जैविक खेती को अत्यधिक नुकसान...
- Advertisement -

बीजेपी सांसद सुब्रमण्यन स्वामी ने फिर किया अपनी ही पार्टी से सवाल

सीमा पर चीन के साथ जारी गतिरोध के मुद्दे पर श्वेत पत्र लाने की मांग उठने लगी है. गौरतलब है कि भाजपा सांसद सुब्रमण्यन...

सरकार के ‘सच’ से बढ़ी बीजेपी की टेंशन

किसान कर्जमाफी को लेकर बीजेपी अभी फ्रंट-फुट पर बैटिंग कर रही थी. सीएम से लेकर मंत्री तक अपनी चुनावी सभाओं में यह जिक्र करते...

जंगल में रहस्यमयी ढंग से हुई मजदूर की मौत, शरीर पर मिले अजीबो-गरीब निशान

सीकर/खाचरियावास. राजस्थान के सीकर जिले के दांतारामगढ़ ब्लॉक के चक गांव में गुरुवार को एक मजदूर की रहस्यमयी मौत हड़कंप का सबब बन...

Related News

कृषि नीति में हो बदलाव

स्वतंत्रता के पश्चात भारत की कृषि नीति लाभ व लोभ आधारित रही। जिसके चलते भारत की परंपरागत व जैविक खेती को अत्यधिक नुकसान...

बीजेपी सांसद सुब्रमण्यन स्वामी ने फिर किया अपनी ही पार्टी से सवाल

सीमा पर चीन के साथ जारी गतिरोध के मुद्दे पर श्वेत पत्र लाने की मांग उठने लगी है. गौरतलब है कि भाजपा सांसद सुब्रमण्यन...

सरकार के ‘सच’ से बढ़ी बीजेपी की टेंशन

किसान कर्जमाफी को लेकर बीजेपी अभी फ्रंट-फुट पर बैटिंग कर रही थी. सीएम से लेकर मंत्री तक अपनी चुनावी सभाओं में यह जिक्र करते...

जंगल में रहस्यमयी ढंग से हुई मजदूर की मौत, शरीर पर मिले अजीबो-गरीब निशान

सीकर/खाचरियावास. राजस्थान के सीकर जिले के दांतारामगढ़ ब्लॉक के चक गांव में गुरुवार को एक मजदूर की रहस्यमयी मौत हड़कंप का सबब बन...

वृंदावन में भजन गाने बजाने व पूजा—पाठ करने वाले भाइयों ने प्रेमिका के पहले प्रेमी को जलाया, फिर बाइक से भागे यूपी

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में पलासिया में शुभकरण की हत्या कर जलाने के आरोपी उत्तरप्रदेश के सहारनपुर निवासी अमित और मधुर के...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here