- Advertisement -
Home News 24X7 SUPPLY: अजमेर को मिलना चाहिए 24 घंटे में पानी

24X7 SUPPLY: अजमेर को मिलना चाहिए 24 घंटे में पानी

- Advertisement -

अजमेर. बीसलपुर बांध (bisalpur dam)भरने के साथ अजमेर की उम्मीदें बढ़ गई है। शहर को 24 घंटे में पेयजल सप्लाई का इंतजार है। आमजन को भी 48 घंटे के बजाय नियमित जलापूर्ति चाहिए। बांध भरते ही नेताओं (political leaders) ने भी मौका देखकर इसकी मांग उठा दी है।
अजमेर सहित जयपुर और टोंक जिले के शहरी और ग्रामीण इलाके पूर्णत: बीसलपुर बांध पर निर्भर हैं। पिछले साल कम बरसात के चलते बीसलपुर बांध खाली रह गया था। इसके चलते विभाग ने बीते वर्ष सितंबर-अक्टूबर से ही 72 घंटे के अंतराल में पेयजल आपूर्ति शुरू कर दी थी। बांध में बीती 27 जुलाई तक महज 304.40 आरएल मीटर बचा था। बांध से प्रतिदिन (regular supply) अजमेर को 260, जयपुर को 400 और टोंक को 20 एमएलडी पानी की सप्लाई की जा रही थी। अगस्त में हुई ताबड़तोड़ बरसात (heavy rain in ajmer) से बांध भर चुका है। इसका गेज 315.50 आरएल पार हो चुका है।
read more: Students Union Election 2019: लॉ कॉलेज से हिमांशु को टिकट
24 घंटे में पानी पहली प्राथमिकता
विधायक वासुदेव देवनानी (vasudev devnani), पूर्व एडीए अध्यक्ष शिवशंकर हेड़ा (shiv shankar heda) और अन्य ने जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपा। उन्होंने कहा कि अजमेर (ajmer city) को 24 घंटे में जलापूर्ति हमारी पहली प्राथमिकता है। भाजपा सरकार (bjp govt) ने ब्राह्मणी नदी को बीसपुर से जोडऩे के लिए 6 हजार करोड़ रुपए स्वीकृत किए थे। स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में भी पाइप लाइन और अन्य व्यवस्थाओं के लिए 166 करोड़ रुपए का प्रावधान शामिल है। जलदाय मंत्री डॉ. बी. डी. कल्ला (dr. b.d.kalla) और अधिकारियों से मिलकर जल्द 24 घंटे (24 x 7 water supply )जलापूर्ति की मांग करेंगे।
read more: Landslide : पहाडिय़ों पर बनी अवैध बस्तियों के सिर पर मंडरा रही ‘मौत’
बजट मिला भरपूर, कहां किया खर्च?
पूर्व मंत्री ललित भाटी (ex minister lalit bhati) ने पत्रिका से बातचीत में कहा कि बीसलपुर बांध की नींव अजमेर को 24 घंटे में जलापूर्ति (water supply) के लिए ही पड़ी थी। 1998-2002की गहलोत सरकार ने जलदाय विभाग को 75 एमएलडी स्टोरेज टैंक, पाइप लाइन (pipe line) डालने के लिए बजट दिया। बाद की भाजपा-कांग्रेस सरकार ने 25-25 एमएलडी के स्टोरेज टैंक, पाइप लाइन के लिए बजट दिया। सांसद रहते सचिन पायलट (deputy CM Sachin pilot) ने भी पाइप लाइन डालने के लिए पैसा दिया। इतना सब होने के बावजूद जलदाय विभाग (PHED) 24 घंटे में सप्लाई के संसाधन (resources) नहीं विकसित कर सका। बजट (budget) कैसे कहां खर्च हुआ, यह अजमेर के निर्वाचित जनप्रतिनिधियों को पूछना चाहिए।
read more: Bisalpur dam full: अजमेर को मिल सकता है 48 घंटे में पानी
 
ये है 13.50 टीएमसी पानी का गणित
-11 टीएमसी पानी चाहिए जयपुर, अजमेर, और टोंक जिले के लिए
-1.70 टीएमसी पानी प्रतिवर्ष हो जाता है वाष्पीकृत
-1 टीएमसी पानी होता है चोरी और काश्तकारी पेटे के उपयोग
315 यानि तीन साल का पानी…
बीसलपुर बांध में 315.50 से ज्यादा पानी पहुंच चुका है। इससे तीन साल जलापूर्ति (drinking water) हो सकती है। 2016 में बांध के पूर्ण भरा था। इसके बाद दो साल पर्याप्त बारिश (low rainfall) नहीं हुई। ढाई साल से जयपुर, अजमेर और टोंक ने पुराने स्टोरेज पानी का उपयोग किया है।

Advertisement




Advertisement




- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

पंचायत चुनाव: नाराज ग्रामीणों ने किया चुनाव का बहिष्कार

सीकर/ टोडा. राजस्थान के सीकर जिले में पाटन की नजदीकी ग्राम पंचायत लादीकाबास के ग्र्रामीणों ने बैठक का आयोजन कर पंचायत चुनावों के...
- Advertisement -

क्या सच में बिहार में सत्ता परिवर्तन होने जा रहा है?

बिहार की सत्ताधारी पार्टी आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए बहुत पहले से ही चुनावी तैयारियों में लग चुकी थी और लगी हुई है. बिहार...

पंचायत चुनाव में मास्क के साथ प्रवेश, सोशल डिस्टेंसिंग से शुरू हुआ मतदान

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले की पिपराली पंचायत समिति की 26 ग्राम पंचायतों में पंच- सरपंच के लिए मतदान सुबह साढ़े सात बजे...

पिपराली की 26 पंचायतों में मतदान आज, शाम तक तय होगा सरताज

सीकर. आखिर मतदान की घड़ी आ ही गई है। पिपराली पंचायत समिति क्षेत्र की 26 ग्राम पंचायतों में सरपंच व पंच के लिए...

Related News

पंचायत चुनाव: नाराज ग्रामीणों ने किया चुनाव का बहिष्कार

सीकर/ टोडा. राजस्थान के सीकर जिले में पाटन की नजदीकी ग्राम पंचायत लादीकाबास के ग्र्रामीणों ने बैठक का आयोजन कर पंचायत चुनावों के...

क्या सच में बिहार में सत्ता परिवर्तन होने जा रहा है?

बिहार की सत्ताधारी पार्टी आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए बहुत पहले से ही चुनावी तैयारियों में लग चुकी थी और लगी हुई है. बिहार...

पंचायत चुनाव में मास्क के साथ प्रवेश, सोशल डिस्टेंसिंग से शुरू हुआ मतदान

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले की पिपराली पंचायत समिति की 26 ग्राम पंचायतों में पंच- सरपंच के लिए मतदान सुबह साढ़े सात बजे...

पिपराली की 26 पंचायतों में मतदान आज, शाम तक तय होगा सरताज

सीकर. आखिर मतदान की घड़ी आ ही गई है। पिपराली पंचायत समिति क्षेत्र की 26 ग्राम पंचायतों में सरपंच व पंच के लिए...

कोरोना ने फिर पार किया शतक, एक परिवार में 17 पॉजिटिव

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में रविवार को फिर कोरोना का कहर सामने आए। जिले में दिनभर में 105 नए कोरोना पॉजिटिव केस...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here