- Advertisement -
HomeRajasthan Newsप्रदेश के शेखावाटी के कई इलाकों में जोरदार बारिश, सीकर में बाढ़...

प्रदेश के शेखावाटी के कई इलाकों में जोरदार बारिश, सीकर में बाढ़ जैसे हालात, एनीकट टूटने से बहे दो बालक

- Advertisement -

आजकलराजस्थान / सीकर। :

राजस्थान की राजधानी जयपुर समेत प्रदेश के कई इलाकों में मेघ जमकर मेहरबान हुए। जयपुर, सीकर, झुंझुनूं, चूरु, बूंदी, दौसा, हनुमानगढ़ में झमाझम बारिश हुई।

पूरे शेखावाटी क्षेत्र में जबरदस्त बारिश हुई ।सीकर में पिछले 24 घंटे से बारिश का दौर जारी रहा। यहां बाढ़ जैसे हालात बन रहे है। खाटूश्यामजी इलाके के गोटेगांव में एनीकट टूटने से दो बालक पानी में बह गए।

जयपुर में बुधवार दोपहर से शुरु हुआ बारिश का दौर गुरुवार दोपहर तक रूक-रूक कर चला। वहीं बस्सी कस्बे में सर्वाधिक बारिश रिकॉर्ड हुई। बालियावास में एनीकट ओवरफ्लो होने पर पानी की चादर चलने लगी।
गोटेगांव गगएनीकट टूटने से बहे दो बालक

खाटूश्यामजी इलाके के गोटेगांव में एनीकट टूटने से दो बालक पानी में बह गए। जिसमें एक की मौत हो गई। वहीं दूसरे को लोगों ने सुरिक्षत निकाल लिया।

जानकारी के अनुसार गांव के ही विकास और दिनेश बरसात के बाद एनीकट में भरे पानी को देखने आए थे। इस दौरान एनीकट टूट गया। जिसमें दोनों बह गए। इधर, रानोली श्मशान भूमि के पास बरसाती नाले में तीन बाइक सवार गिर गए। जिसमें एक की मौत हो गई। वहीं दो को सुरक्षित निकाल लिया। बता दें कि सीकर जिले में पिछले 24 घंटों से लगातार तेज बारिश का दौर जारी है।
खेतड़ी में नानूवाली बावड़ी के पास बांध टूटा

झमाझम बरसात के चलते गुरुवार दोपहर को खेतड़ी क्षेत्र के गांव नानूवाली बावड़ी के पास बना बांध टूट गया। बांध के टूट जाने के कारण खेतड़ी के जलदाय विभाग में तीन-तीन फीट पानी भर गया। वहीं मुख्य सड़क पर पानी आ गया। जिससे लोगों को सड़क पार करने में परेशानी हो रही है। जानकारी के अनुसार खेतड़ी के पास नानूवाली बावड़ी गांव के पास पौराणिक समय का बंधा भीतर के नाम से बांध बना हुआ है। इसमें बरसात का पानी ओवरफ्लों होने के कारण यह टूट गया। बांध के टूट जाने से आस-पड़ौस के लोगों में भय की स्थिति बनी हुई है। जबकि प्रशासनिक अधिकारी एसडीएम व तहसीलदार मौके पर पहुंच कर स्थिति का जायजा ले रहे हैं।
बारिश से किसानों को बड़ी राहत

शेखावाटी में बुधवार रात व गुरुवार को हुई बारिश से किसानों को बड़ी राहत मिली। इस बारिश से फसलों को जीवनदान मिल गया है। गुरुवार शाम से दो घंटे तक तेज बारिश हुई। जिससे सडक़ों पर पानी जमा हो गया।
एनिकट पर दो फीट की चली चादर

दौसा में के बसवा में भी जमकर बारिश हुई। बांदीकुई के चौबड़ीवाला एनिकट पर दो फीट की चादर चल गई। सैंथल सागर, माधोसागर व सिण्डोली बांध में भी पानी की आवक शुरू हो गई। जल संसाधन विभाग से मिली जानकारी के अनुसार रेडिया बांध पर 118, सैंथल सागर 65, बसवा 45, सिकराय 30, मोरेल 35, राहुवास 25, दौसा 32 रामगढ़चवारा में भी 30 एमएम बारिश हुई।
सावन के दसवें दिन चूूरू शहर में मेघ मेहरबान

चूूरू शहर में मेघ मेहरबान हो गए। सुबह साढ़े आठ बजे से साढ़े 11 बजे तक तीन घंट में ही 61.4 एमएम बारिश हुई। सुबह पांच बजे से ही बारिश का सिलसिला शुरू हो गया था। लेकिन सात बजे से 11 बजे तक तेज बारिश का दौर जारी रही। इसके कारण शहर के कई मोहल्लों की गलियों व सड़कों पर दो से तीन फीट तक पानी भर गया। लोगों का घरों से निकलना मुश्किल हो गया।

- Advertisement -
- Advertisement -
Stay Connected
16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe
Must Read
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -