- Advertisement -
HomeRajasthan Newsपानी की कमी से हमारे किसान कर रहे आत्महत्या, हुक्मरान पात्नी भेज...

पानी की कमी से हमारे किसान कर रहे आत्महत्या, हुक्मरान पात्नी भेज रहे पाकिस्तान

- Advertisement -

          आजकलराजस्थान / हनुमानगढ़।

भाखड़ा बांध का पानी लगातार पाकिस्तान में प्रवाहित करने से जिले के किसान आक्रोशित हो रहे हैं। किसानों ने सोमवार को जल संसाधन विभाग के एसई जेएस कलसी का घेराव कर रोष जताया। किसानों ने कहा कि भाखड़ा नहर क्षेत्र के किसान बिना पानी बर्बाद हो रहे हैं। स्थिति यह है कि किसान आत्महत्या करने को मजबूर हो रहे हैं। मगर हमारे हुक्मरान हमारे हिस्से के पानी को पाकिस्तान भेज रहे हैं। किसानों ने जब एसई से यह पूछा कि बताओ कब तक भाखड़ा नहर में पूरा पानी चला दोगे तो इस सवाल का जवाब वह टालते रहे। इस दौरान एसई ने बस इतना ही कहा कि हम हमारे स्तर पर पानी बढ़ाने का प्रयास कर रहे हैं। लेकिन कब तक पानी बढ़ जाएगा, इसके बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता। इस मौके पर आक्रोशित किसानों ने कहा कि सरकारों की लापरवाही के चलते छह दशक में नहरों की हालत जर्जर हो गई। घेराव के दौरान भाखड़ा क्षेत्र के किसानों ने भाखड़ा नहर को 2217 क्यूसेक पानी देने व पाकिस्तान जाने वाले पानी को रोकने बाबत ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में बताया कि भाखड़ा नहर की करणी सिंह व सार्दूल ब्रांच जिसकी क्षमता 2217 क्यूूसेक लेने की है जिसमें 1200 क्यूसेक पानी दिया जा रहा है। इस कारण क्षेत्र के किसानों की समय पर बिजाई नहीं हो रही है व जो मौके पर खड़ी फसल है वो पानी के अभाव में जल रही है। इसके विपरीत करीब एक महीने से पाकिस्तान को पानी दिया जा रहा है। किसानो ने कहा कि बार बार अवगत करवाने के बावजूद भी भाखड़ा को पूरा पानी नहीं दिया जा रहा है। किसानों ने चेतावनी दी है कि अगर तुरन्त प्रभाव से पानी नहीं बढ़ाया गया तो समस्त काश्तकार अनिश्चितकालीन धरना शुरू करेंगे।

इस मौके पर किसानों ने 11 सूत्री मांगों का ज्ञापन भी एसई को सौंपा। इसमें फिरोजपुर फीडर व सरहिन्द फीडर में कितना पानी छोड़ा जा रहा है उसकी समाचार पत्रों में रोजाना विज्ञप्ति जारी करने, सरहिंद टेल पर कितना पानी आ रहा है यह भी समाचार पत्रों में देने, आईजीएनपी 496 आरडी लिंक चैनल पर कितना पानी लिया जा रहा है इसकी विज्ञप्ति भी समाचार पत्रों में देने, पंजाब क्षेत्र में सरहिन्द फीडर पर जो नाजायज पंखे लगा रखे हैं उनको हटाने और उनकी स्वीकृति अगर किसी ने दी है तो कितने पंखों की दी है व किस साईज की दी गई है उससे अवगत करवाने, सरहिन्द फीडर को टेल व पुरानी भाखड़ा में जो पानी जा रहा है उसको रोकने, सरहिन्द फीडर की मरम्मत 1980 के बाद में व नई रिलाईनिंग के लिए पंजाब को कितना बजट दिया गया है इसके बारे में अवगत करवाने, करणीसिंह ब्रांच व सार्दुल ब्रांच के गेट का साइज बढ़ाने आदि मांगें शामिल है।

ज्ञापन देने वालों में राजेन्द्र ज्याणी,  सार्दुल सिंह बिस्सु,राधेश्याम गोदारा,खेतपाल सिहाग, रामकुमार सहारण, योगी बाला, बलविन्द्र भाकर, संदीप गोदारा, रामनिवास, सौरभ राठौड़, सूरजनारायण आदि मौजूद रहे।

- Advertisement -
- Advertisement -
Stay Connected
16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe
Must Read
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -