- Advertisement -
HomeRajasthan Newsदहेज केस में फंसाने की धमकी पर देवर ने तैश में आकर...

दहेज केस में फंसाने की धमकी पर देवर ने तैश में आकर कर दिया कत्ल

- Advertisement -

चंपा ने जब वापस पीहर जाकर दहेज केस में फंसाने की धमकी दी तो देवर ने तैश में आकर कर दिया कत्ल

आजकल राजस्थान श्रीगंगानगर. शहर के एच ब्लॉक में डिग्गी के समीप चार दिन पहले विवाहिता चंपा हत्या करने के लिए देवर की अहम भूमिका रही थी, अस्पताल से जब चंपा अपने ससुराल आई तो वह अपने भाई के साथ वापस पीहर जाने की जिद़द करने लगी। जब देवर ने समझाने का प्रयास किया तो चंपा ने धमकी दी कि वह पीहर जाकर पूरे परिवार को दहेज के केस में फंसा देगी, यह सुनकर देवर नरेश कुमार ने अपना आपा खो दिया और तैश में आकर धारदार हथियार से चंपा की गर्दन काट दी। जिससे अत्यधिक खून बहने लगा और उसकी मौत हो गई। यह खुलासा सोमवार को पुलिस अधीक्षक हेमंत शर्मा ने प्रेस वार्ता में किया। हालांकि पुलिस दो दिन पहले आरोपी देवर को गिरफ्तार कर चुकी है लेकिन पूरे मामले में यह पहलू अब तक नहीं आया कि विवाहिता की हत्या करने के पीछे कारण क्या था। इस पर पुलिस अधीक्षक का कहना था कि पूरे मामले में देवर की भूमिका सामने आई है। शेष ससुराल पक्ष की भूमिका के बारे में जांच पड़ताल की जा रही है।
ज्ञात रहे कि शुक्रवार शाम को विवाहिता की गर्दन कटने से मौत हो गई थी। शव को राजकीय चिकित्सालय की मोर्चरी में रखवा दिया था। पुलिस अधिकारियों ने मौका मुआयना किया और एफएसएल व एमओबी टीम ने साक्ष्य जुटाए थे। देर रात को मृतका के भाई श्रीराम इन्कलेव वार्ड नंबर बारह पदमपुर निवासी हेमंत कुमार पुत्र भोजाराम ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि उसकी बहन चंपा (25) का विवाह 19 जुलाई 2015 को विनोबा बस्ती निवासी सुरेश कुमार पुत्र चतुर्भुज से हुआ था।वह चार-पांच दिन से बीमार थी और उसका एक निजी अस्पताल में इलाज चल रहा था। शुक्रवार को उसे अस्पताल से छुट्टी मिल गई थी। उसे ले जाने के लिए भाई हेमंत कुमार पौने पांच बजे यहां पहुंचा था। दस मिनट बहन से ससुराल में रुका था। इस दौरान पीहर जाने के लिए चंपा काफी खुश थी। इसके बाद भाई अपने ननिहाल चावला चौक चला गया था।
इस दौरान चंपा व उसका पति सुरेश कुमार घर थे तथा देवर नरेश कुमार नीचे दुकान पर था। पांच बजे बाद नरेश ने फोन कर बताया कि चंपा ने चाकू से गला काट लिया है। कुछ देर में सुरेश ने भी फोन किया। घर पहुंचा तो सभी वहां खड़े हुए थे और चंपा का शव बेड पर पड़ा था। पुलिस ने आरोपी नरेश कुमार को विवाहिता की हत्या के मामले में गिरफ़्तार कर अदालत में पेश किया था, वहां से न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया गया है।

- Advertisement -
- Advertisement -
Stay Connected
16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe
Must Read
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -